यूपीः सपा का कुनबा भी दरकने लगा, जानें अखिलेश के MLC ने क्यों दिया इस्तीफा, किस बात से आहत थे लोधी

सपा में एक तरफ जहां बीजेपी से कई कद्दावर ओबीसी नेता शुक्रवार को शामिल हुए हैं, वहीं सपा से भी अब ओबीसी नेताओं का इस्तीफा शुरू हो गया है। सपा एमएलसी घनश्याम लोधी ने इस्तीफा दे दिया है।

SP MLC resign, up election
सपा एमएलसी घनश्याम लोधी ने दिया इस्तीफा (फाइल फोटो पीटीआई)

एक तरफ बीजेपी-बसपा और कांग्रेस से नेता पार्टी छोड़कर समाजवादी पार्टी ज्वाइन कर रहे हैं तो अब सपा का कुनबा भी दरकने लगा है। अखिलेश यादव की पार्टी के एक एमएलसी ने इस्तीफा दे दिया है। सपा नेता ने आहत होने की बात कहकर इस्तीफा दिया है।

सपा में एक तरफ जहां बीजेपी से कई कद्दावर ओबीसी नेता शुक्रवार को शामिल हुए हैं, वहीं सपा से भी अब ओबीसी नेताओं का इस्तीफा शुरू हो गया है। सपा एमएलसी घनश्याम लोधी ने इस्तीफ दे दिया है। लोधी ने पार्टी पर आरोप लगाते हुए कहा है कि सपा में पिछड़ों को उचित सम्मान नहीं मिला है। यानि जिस कारण से स्वामी प्रसाद मौर्य, सैनी समेत कई नेताओं ने बीजेपी छोड़ सपा ज्वाइन की है, उसी कारण से अब लोधी सपा छोड़कर चले गए हैं।

घनश्याम लोधी अपने समाज पर काफी पकड़ रखते हैं। हालांकि इस्तीफा देने के बाद उनका अगला कदम क्या होगा इसपर अभी सस्पेंस बरकरार है। लोधी ने अपने इस्तीफा पत्र में लिखा- “अवगत कराना है कि समाजवादी पार्टी की पिछड़ा व दलित समाज की उपेक्षा के कारण में समाजवादी पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा देता हूं व पार्टी में पिछड़ों व दलित समाज को उचित सम्मान न मिलना मेरे ह्रदय को दुख देता है। जिस कारण मैं अपना इस्तीफा आपको भेज रहा हूं”।

अटकलें लगाई जा रही है सपा एमएलसी चुनाव से पहले बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। हालांकि अभी इसे लेकर ना तो लोधी की ओर से कुछ कहा गया है और ना ही समाजवादी पार्टी की ओर से इस इस्तीफे पर कोई प्रतिक्रिया आई है।

वहीं इससे पहले शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य और धर्म सिंह सैनी, अखिलेश यादव की उपस्थिति में समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए। इनके साथ-साथ ही पांच अन्य भाजपा विधायक – रोशनलाल वर्मा, बृजेश प्रजापति, मुकेश वर्मा, विनय शाक्य और भगवती सागर ने भी सपा का दामन थाम लिया। इसके अलवा एनडीए की सहयोगी पार्टी अपना दल के चौधरी अमर सिंह भी समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए।

पढें उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 समाचार (Upassemblyelections2022 News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट