scorecardresearch

यूपी में भाजपा किसी सांसद को विस चुनाव में नहीं उतारेगी

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के पहले दो चरणों के लिए अपने उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है।

election
उत्‍तर प्रदेश विधानसभा।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के पहले दो चरणों के लिए अपने उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है। इस सूची में पार्टी की ओर से किसी सांसद को पार्टी ने टिकट नहीं दिया है, जैसे कि पश्चिम बंगाल चुनाव के दौरान देखा गया था। पार्टी सूत्रों का कहना है कि उत्तर प्रदेश में पार्टी किसी भी सांसद या सांसद के परिजन को टिकट नहीं देने जा रही। इसमें वे प्रत्याशी अपवाद हैं जो पहले से ही विधायक हैं। अगली सूची दो-दो चरणों की जारी की जाएगी।

सूत्रों के मुताबिक हम यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि पार्टी किसी भी परिवार के दूसरे सदस्य को विधानसभा चुनाव के टिकट नहीं देगी। पार्टी का मानना है कि हाल ही में उत्तर प्रदेश के जो विधायक और मंत्री पार्टी छोड़कर गए हैं, चुनाव में उसका असर नहीं पड़ेगा। सूत्रों के मुताबिक जिन नेताओं को टिकट नहीं मिलने वाला था, वे पहले ही चले गए। इन नेताओं के पार्टी छोड़ने से सिर्फ धारणा में कुछ परिवर्तन हुआ है जमीन पर कोई असर नहीं है। पार्टी का कहना है कि अगर मौर्य समाज की ही बात करें तो राज्य में पहला मौर्य उपमुख्यमंत्री हमने ही दिया है। पार्टी ने बड़ी संख्या में पिछड़े वर्ग के जिला अध्यक्ष बनाए हैं। लोग इन चीजों को देख रहे हैं। पार्टी का मानना है कि उत्तर प्रदेश में भाजपा प्रचड बहुमत से आ रही है। पार्टी को पूरी उम्मीद है कि इस बार भी वह 300 का आंकड़ा पार करेगी।

भाजपा एक ओर दलितों को लुभा रही है। दूसरी ओर, उसका ध्यान अन्य पिछड़े वर्गों पर भी। पार्टी सूत्रों का कहना है कि भाजपा 50 साल से कम के दलित मतदाताओं को लुभाने की कोशिश करेगी। इसको लेकर रणनीति बनाई जा रही है। सूत्रों के मुताबिक उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव की पुत्रवधु एक-दो दिन में भाजपा में शामिल होंगी। प्रदेश में भाजपा का इस बार अनुप्रिया पटेल के अपना दल और संजय निषाद की पार्टी से ही गठबंधन है।

पश्चिम उत्तर प्रदेश में पिछली बार के बराबर रहेंगी सीटें : भाजपा सूत्रों का कहना है कि पार्टी पश्चिम उत्तर प्रदेश में पिछली बार के बराबर ही सीटें जीतेगी। एक-दो सीटों पर बदलाव संभव है। पश्चिम उत्तर प्रदेश में पहले और दूसरे चरण में मतदान होगा। पिछली बार भाजपा ने यहां 83 सीटें जीती थीं। 23 जनवरी से प्रदेश के दौरे पर रहेेंगे अमित शाह : पार्टी सूत्रों का कहना है कि 23 जनवरी के बाद भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह उत्तर प्रदेश को दौरा करेंगे। उनका कार्यक्रम तैयार किया जा रहा है।

पढें उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (Upassemblyelections2022 News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट