एक परिवार में चलती हैं चार-चार पार्टियां तो हमसे ही ये सवाल क्यों, मौर्य के सपा ज्वाइन करने पर सांसद बेटी ने पूछा सवाल

क्या स्वामी प्रसाद मौर्य के समाजवादी पार्टी में जाने से उनके (संघमित्रा) राजनीतिक भविष्य को लेकर संकट पैदा हो सकता है? इस पर भाजपा सांसद ने कहा, ”इतिहास गवाह है कि पहले भी ऐसे परिवार रहे हैं और आज भी बहुत से ऐसे परिवार हैं, जहां एक परिवार में चार-चार पार्टियां चलती हैं।”

sanghamitra-maurya
बदायूं से भाजपा सांसद संघमित्रा मौर्य (फोटो-फेसबुक)

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी भारतीय जनता पार्टी को स्वामी प्रसाद मौर्य ने तगड़ा झटका दिया। योगी कैबिनेट से इस्तीफा देने के बाद स्वामी प्रसाद मौर्य शुक्रवार को अपने अन्य साथी विधायकों के साथ समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए। वहीं, स्वामी प्रसाद मौर्य के भाजपा का दामन छोड़ सपा में शामिल होने के बाद उनकी बेटी और बदायूं से सांसद संघमित्रा मौर्य का बयान आया है। भाजपा सांसद ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में वह भाजपा में रहकर आगे भी काम करने वाली हैं।

‘आजतक’ के रिपोर्टर से बात करते हुए संघमित्रा मौर्या ने उन तमाम सवालों के जवाब दिए जो स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफे के बाद उठ रहे हैं। पत्रकार ने पूछा कि भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने क्या आपसे अपने पिताजी को समझाने को नहीं कहा था। इस पर संघमित्रा ने कहा, ”शीर्ष नेतृत्व की बात पिताजी से हुई थी और पिताजी को समझाने के लिए हमें कोई क्या कहेगा वो खुद ही बहुत समझदार हैं। बच्चा हमेशा बच्चा ही रहता है, चाहे वह सांसद हो या मुख्यमंत्री। मां-बाप के लिए बच्चा हमेशा बच्चा ही रहता है।”

क्या स्वामी प्रसाद मौर्य के समाजवादी पार्टी में जाने से उनके (संघमित्रा) राजनीतिक भविष्य को लेकर संकट पैदा हो सकता है? इस पर भाजपा सांसद ने कहा, ”इतिहास गवाह है कि पहले भी ऐसे परिवार रहे हैं और आज भी बहुत से ऐसे परिवार हैं, जहां एक परिवार में चार-चार पार्टियां चलती हैं।”

संघमित्रा ने कहा, ”जब आज मेरे पिता स्वामी प्रसाद मौर्य किसी दूसरी पार्टी में हैं और मैं दूसरी पार्टी में हूं तो ये सवाल मुझसे ही क्यों, किसी और से क्यों नहीं?” इसके पहले, स्वामी प्रसाद मौर्य के योगी कैबिनेट से इस्तीफा देने और समाजवादी पार्टी में शामिल होने की अटकलों पर संघमित्रा मौर्य ने बयान दिया था। बदायूं सांसद संघमित्रा मौर्य ने तब दावा किया था कि अभी तक उनके पिता ने समाजवादी पार्टी या कोई भी पार्टी जॉइन नहीं की है। संघमित्रा का कहना था कि उनके पिता ने मीडिया से भी स्पष्ट कहा है कि वह 2 दिन बाद अपनी रणनीति तय करेंगे और तब बताएंगे।

पढें उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 समाचार (Upassemblyelections2022 News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट