scorecardresearch

‘मोदीजी को किसान मंच तक तो जाने देते, उन्‍हें खाली कुर्सियों को भाषण सुनाना चाहिए था, मैंने भी 25 लोगों को संबोधित किया’, अखिलेश यादव का तंज

सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के लिए पंजाब में कुर्सियां खालीं थीं और यूपी में उनके लिए कुर्सियां खाली ही हैं।

Akhilesh yadav, SP chief, Election Commission, UP Election, Digital rally, UP BJP, CM Yogi, Money demanded to EC
सपा प्रमुख अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

पंजाब के फिरोजपुर में फ्लाई ओवर पर पीएम नरेंद्र मोदी का काफिला रोके जाने के सवाल पर शुक्रवार को सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी पर निशाना साधा। अखिलेश ने कहा, ‘देखिए मैं उस पर कोई बहुत बड़ी बात नहीं करना चाहता हूं। लेकिन मेरी पंजाब के लोगों से और किसानों से अपील है कि कम से कम प्रधानमंत्री जी को मंच तक तो जाने देते। मंच पर जाते खाली कुर्सियां देखते तो अच्‍छा लगता उनको और खाली कुर्सियों पर भी भाषण देना चाहिए। क्‍योंकि यूपी में खाली कुर्सियां हैं उनके लिए। तो कम से कम किसान भाइयों से हमारी ये अपील है कि अकेले मंच पर बोलने तो देते उन्‍हें’।

‘मैं 25 लोगों के बीच भाषण देने के लिए गया था’

अखिलेश यादव ने अपना एक किस्‍सा सुनाते हुए कहा, ‘मुझे याद है अपना एक समय। मैं कोडरमा में गया था। मैं देख रहा था हमारी पार्टी के नेता लगातार मुझे रोक रहे हैं। कार्यक्रम 11 बजे का था। पहले आधे घंटे रोका, फिर आधे घंटे रोका, फिर आधे घंटे रोका, जब डेढ़ घंटा हो गया तो मैंने कितने घंटे रोकोगे। मुझे कान में एक नेता ने बताया कि लोग कम आए हैं। मैंने कहा कि कम लोग होने से नहीं होता। मैंने 25 लोगों के बीच भाषण देने गया।’

प्रधानमंत्री जी बताते कि तीन काले कानून क्‍यों लाए गए और क्‍यों वापस ले लिए गए

अखिलेश यादव ने आगे कहा, ‘इसलिए मैं ये कह रहा हूं कि किसानों भाइयों से हमारी ये अपील है कि प्रधानमंत्री जी को खाली मंच पर जाने देने चाहिए था। और कम से कम उस दिन प्रधानमंत्री जी और बीजेपी के लोग बताते कि तीन काले कानून क्‍यों लाए गए थे और तीन काले कानून क्‍यों वापस ले लिए गए। ये सुनने को पूरा देश बैठा है।’

क्‍या है पूरा मामला

पीएम नरेंद्र मोदी 5 जनवरी 2022 को फिरोजपुर में रैली के लिए गए थे, लेकिन हुसैनीवाला के पास एक फ्लाईओवर पर उनके काफिले को करीब 20 मिनट तक रुकना पड़ा। ऐसा इसलिए हुआ, क्‍योंकि कुछ प्रदर्शनकारियों ने फ्लाई ओवर को आगे से रोक रखा था। बाद में एसपीजी ने दौरा रद्द करने का फैसला किया और लौटते वक्‍त पीएम नरेंद्र मोदी ने भटिंडा एयरपोर्ट पर एक अधिकारी से कहा- ‘अपने सीएम को थैंक्‍स कहना कि मैं यहां से जिंदा लौट रहा हूं।’

पीएम मोदी के इस बयान के बाद सियासी हलचल थमने का नाम नहीं ले रही है। सुरक्षा में इस चूक की जांच के लिए गृह मंत्रालय ने तीन सदस्‍यीय और पंजाब सरकार ने दो सदस्‍यीय जांच कमेटी का गठन किया है। जिस तरह से शुक्रवार को अखिलेश यादव ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए उनके दौरा रद्द होने के पीछे खाली कुर्सियों को कारण बताया, उसी तरह से पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्‍नी और पंजाब कांग्रेस अध्‍यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू भी लगातार खाली कुर्सियों की वजह से पीएम मोदी का दौरा रद्द होने का आरोप लगा रहे हैं।

पढें उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (Upassemblyelections2022 News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट