ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी के मंच से तेजप्रताप को बोलने का नहीं मिला मौका, लिखा- पिता के अनुपस्थिति की वजह से मुझे आज बोलने नहीं दिया गया

आरजेडी मुखिया लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने सोशल मीडिया पर एक इमोशनल पोस्ट किया है।

तेज प्रताप यादव और लालू प्रसाद यादव, फोटो सोर्स- ट्विटर (@TejYadav14)

आरजेडी मुखिया लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने सोशल मीडिया पर एक इमोशनल पोस्ट किया है। पोस्ट के साथ ही तेज प्रताप ने कांग्रेस पर आरोप भी लगाया है कि उनको मंच से बोलने का मौका नहीं दिया गया। तेजप्रताप ने ट्वीट करते हुए लिखा- ‘मेरे आदरणीय पिता के अनुपस्थिति की वजह से मुझे आज बोलने नहीँ दिया गया।’ दरअसल कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के मंच से तेजप्रताप यादव को बोलने का मौका नहीं मिलने पर वह नाराज हो गए हैं। गुस्साए तेजप्रताप ने यह भी कह दिया कि बिहार में इन्हीं कारणों की वजह से कांग्रेस का अस्तित्व नहीं है।

National Hindi News, 17 May 2019 LIVE Updates: दिनभर की हर बड़ी खबर, जानें सिर्फ एक क्लिक पर

मीसा भारती को वोट देने की अपील: दरअसल गुरुवार को राहुल गांधी एकदिवसीय बिहार के दौरे पर थे। ऐसे में पाटलिपुत्र में जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल ने राजद प्रत्याशी मीसा भारती के पक्ष में वोट के लिए अपील की। सभा के बाद तेजप्रताप ने कहा- राहुल गांधी ने खुद कहा था कि मुझे भी भाषण देना है। मैंने अपनी इच्छा से कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा को भी अवगत कराया, लेकिन मौका नहीं दिया गया। गौरतलब है कि मंच पर राहुल के साथ तेजस्वी और तेजप्रताप साथ बैठे थे। ऐसे में तेजस्वी को जनसभा संबोधित करने का मौका मिला लेकिन तेजप्रताप को नहीं।

दूसरा लालू पैदा हो रहा है: तेजप्रताप ने मीडिया से कहा- ऐसे लोगों के कारण ही कांग्रेस का ये हाल है, ये लोग जानते हैं कि दूसरा लालू पैदा हो रहा है, इससे परेशान हैं। इसके बाद तेजप्रताप ने कहा कि कांग्रेस की बिहार समीति चरमराई हुई है, इस बात की शिकायत राहुल गांधी से की जाएगा।

 

टिकट बटवारे से हैं नाखुश: गौरतलब है कि तेजप्रताप पहले से ही राजग के टिकट बटवारे से नाखुश हैं। बता दें कि जहानाबाद में जहानाबाद में उन्होंने राजद के अधिकृत प्रत्याशी के मुकाबला अपने ‘लालू-राबड़ी मोर्चा’ का उम्मीदवार उतार दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App