ताज़ा खबर
 

Sikkim Assembly Election Results 2019 Updates: पवन कुमार चामलिंग का दौर समाप्त, एसकेएम को मिला बहुमत

Sikkim Assembly Election Results 2019 Online News Updates: पांच बार के मुख्यमंत्री पवन कुमार चामलिंग का 24 साल से चला आ रहा दौर खत्म हो गया जब उनकी पार्टी एसडीएफ राज्य विधानसभा चुनाव एसकेएम से हार गई।

Author नई दिल्ली | May 24, 2019 16:33 pm
Sikkim Assembly Election Results 2019 Updates: एसकेएम को सिक्किम में बहुमत मिला।

Sikkim Election Results 2019 Updates: सिक्किम में विधानसभा चुनाव संपन्न हो गए। सभी 32 सीटों के नतीजे भी जारी कर दिए गए। विधानसभा की 32 सीटों में से 17 सीट सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा ने जीती और 15 सीट सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के खाते में गई।  राज्य में सरकार बनाने के लिए 17 सीटों की जरूरत है, जो सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा के पास है। हालांकि, सिक्किम डेमोक्रेटिक पार्टी भी 15 सीट जीत गई है। इस वजह से विपक्ष भी मजबूत स्थिति में है। यदि पार्टी के अनुसार, वोट प्रतिशत की बात करें तो सिक्किम क्रांति मोर्चा को 47.03 प्रतिशत वोट मिला, लेकिन सीटें ज्यादा मिली। वहीं, सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट को वोट 47.63 प्रतिशत मिला, लेकिन सीट कम मिली। वहीं, राज्य में भाजपा को भी 1.62 प्रतिशत और कांग्रेस को 0.77 प्रतिशत वोट मिला है।

Election Results 2019 LIVE Updates: यहां देखें नतीजे

इसी के साथ पांच बार के मुख्यमंत्री पवन कुमार चामलिंग का 24 साल से चला आ रहा दौर खत्म हो गया जब उनकी पार्टी एसडीएफ राज्य विधानसभा चुनाव एसकेएम से हार गई। सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट को 15 सीटें मिली जबकि 2013 में अस्तित्व में आये सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चे को 17 सीटें मिली जो 32 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के लिये जरूरी सीटों से एक अधिक है।

Loksabha Election 2019 Results live updates: See constituency wise winners list

Live Blog

Sikkim Assembly Election Results 2019 LIVE Updates:

14:23 (IST)24 May 2019
पवन कुमार चामलिंग का दौर समाप्त

पांच बार के मुख्यमंत्री पवन कुमार चामलिंग का 24 साल से चला आ रहा दौर खत्म हो गया जब उनकी पार्टी एसडीएफ राज्य विधानसभा चुनाव एसकेएम से हार गई। सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट को 15 सीटें मिली जबकि 2013 में अस्तित्व में आये सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चे को 17 सीटें मिली जो 32 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के लिये जरूरी सीटों से एक अधिक है।

21:25 (IST)23 May 2019
सिक्कित क्रांतिकारी मोर्चा 14 सीटों पर जीती

अब तक 32 विधानसभा सीटों में सिक्किम डेकोक्रेटिक फ्रंट को 9 सीटों पर जीत मिली है और वो 6 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है। वहीं सिक्कित क्रांतिकारी मोर्चा ने अब तक 14 सीटों पर जीत दर्ज कर ली है। इसके अलावा वो 3 अन्य सीटों पर आगे चल रही है।

18:49 (IST)23 May 2019
सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा ने 9 सीटों पर जीत दर्ज की

32 विधानसभा सीटों में से 22 के परिणाम सामने आ चुके हैं। जिसमें विपक्षी पार्टी सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा ने 9 सीटें हासिल की हैं और 3 अन्य सीटों पर आगे चल रही है। वहीं रूलिंग पार्टी सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट ने 4 निर्वाचन क्षेत्रों में जीत हासिल की है और 6 सीटों पर आगे चल रही है।

18:43 (IST)23 May 2019
वेस्ट पेंडम से एल. बी. दास आगे

वेस्ट पेंडम विधानसभा क्षेत्र से सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा के एल. बी. दास 5717 मतों के साथ आगे चल रहे हैं। वहीं दूसरे स्थान पर सिक्किम डेमो​क्रेटिक फ्रंट के गोपाल बेली को अब तक 4,775 वोट मिले हैं।

18:36 (IST)23 May 2019
मेली विधानसभा क्षेत्र से फारवंती तमांग आगे

सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के फारवंती तमांग 6,134 मतों के साथ आगे चल रहे हैं। वहीं दूसरे स्थान पर सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा के तिलक बासनेट को अब तक 5289 मत मिले हैं। 

17:56 (IST)23 May 2019
राहुल गांधी ने ली हार की जिम्मेदारी

राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव में हार की जिम्मेदारी ली, इसके अलावा उन्होनें पीएम मोदी के साथ साथ अमेठी सीट पर स्मृति ईरानी की जीत पर उन्हें भी बधाई दी। राहुल ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से संयम न खोने की अपील की है।

17:51 (IST)23 May 2019
26 सीटों के नतीजे घोषित

सिक्किम विधानसभा चुनाव में सत्ताधारी एसडीएफ 14 सीटें जीत गई है। एसकेएम ने 12 सीटों पर जीत हासिल की है। यहां दोनों पार्टियों के बीच मुकाबला कांटे का है।

17:28 (IST)23 May 2019
जीत गए पवन चामलिंग

सिक्किम के मुख्यमंत्री और सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट प्रमुख पवन चामलिंग पोकलोक कामरांग विधानसभा सीट से जीत गए हैं। चामलिंग ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदि और सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा के प्रत्याशी खारका बहादुर राय को 2,899 मतों से हराया है।

17:11 (IST)23 May 2019
24 सीटों के नतीजे घोषित

सिक्किम में 24 सीटों के नतीजे घोषित कर दिए गए हैं। सत्ताधारी दल एसडीएफ और मुख्य विपक्षी दल एसकेएम दोनों ने 12-12 सीटें जीती हैं।

16:43 (IST)23 May 2019
नाथहंग-माचोंग सीट पर बीजेपी आगे

सिक्किम की नाथहंग-माचोंग विधानसभा सीट से एसडीएफ उम्मीदवार डीटी लेप्चा आगे चल रहे हैं। लेप्चा यहां 6038 वोटों से आगे चल रहे हैं। यहां उनका मुकाबला एसकेएम प्रत्याशई सोनम वेनचुंगप्पा से है।

16:37 (IST)23 May 2019
बारफंग पर SDF का कब्जा

एसडीएफ के प्रत्याशी ताशी थेंदप ने बारफंग विधानसभा सीट जीत लिया है। उन्होंने इस सीट पर एसकेएम के प्रत्याशी लोबजांग भूटिया को 97 वोटों के मार्जिन से हराया।

15:58 (IST)23 May 2019
16 सीटों के नतीजे यहां देखें

सिक्किम विधानसभा की 16 सीटों के नतीजे आ चुके हैं। सत्ताधारी एसडीएफ और राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टी एसकेएम ने 8-8 सीटों पर जीत हासिल की है। अभी यहां 16 सीटों पर नतीजे आने बाकी हैं।

15:57 (IST)23 May 2019
खामडोंग-सिगंटम सीट पर SKM का कब्जा

एसकेएम के प्रत्याशी मणि कुमार शर्मा खामडोंग-सिगंटम विधानसभा सीट से जीत गए हैं। उन्होंने इस सीट से एसडीएफ के प्रत्याशी गर्जामन गुरंग को 873 वोटों के मार्जिन से हराया।

15:13 (IST)23 May 2019
इन 2 सीटों पर SKM की जीत

योकसम-तासीदिंग और ग्यालसिंग बरयांक विधानसभा सीट पर एसकेएम ने जीत हासिल की है। योकसाम-तासदिंग से पार्टी के उम्मीदवार सांगे लेप्चा को 5686 वोट मिले हैं तो वहीं ग्यालसिंग बरयांक विधानसभा सीट से लोकनाथ शर्मा को 5862 वोट मिले।

14:56 (IST)23 May 2019
एसकेएम प्रत्याशी सोनम लामा जीतीं

सांघा विधानसभा सीट से एसकेएम प्रत्याशी सोनम लामा जीत गई हैं। उन्होंने एसडीएफ के उम्मीदवार शेरिंग लामा को 630 मतों के अंतर से हराया।

14:54 (IST)23 May 2019
कौन हैं सांसद प्रेमदास राय?

सिक्किम लोकसभा सीट से सांसद प्रेमदास राय का जन्म 31 जुलाई 1954 को पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग में हुआ था। उन्होंने मसूरी के वाइनबर्ग ऐलन स्कूल से प्राथमिक शिक्षा हासिल की। इसके बाद उन्होंने आईआईटी खड़गपुर से केमिकल इंजीनियरिंग में डिग्री और फिर आईआईएम अहमदाबाद से प्रबंधन में डिप्लोमा हासिल किया। उनकी शादी 3 जनवरी 1982 में जीन राय के साथ हुई। उनके एक बेटी और एक बेटा हैं। राजनीति में कदम रखने से पहले प्रेमदास राय पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता स्थित बैंक ऑफ अमेरिका में नौकरी कर चुके हैं। वो सिक्किम फ्लोर मिल लिमिटेड के प्रबंध निदेशक भी रह चुके हैं। प्रेमदास सिक्किम में कंप्यूटर की शुरूआत करने वाले वो पहले व्यक्ति हैं।

14:45 (IST)23 May 2019
2014 में प्रत्याशियों को मिले थे इतने वोट

साल 2014 के लोकसभा चुनाव में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के प्रेम दास राय ने अपने प्रतिद्वंदी सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा के टेकनाथ ढकाल को 41 हजार 742 वोटों से शिकस्त दी थी। इस चुनाव में प्रेमदास राय को एक लाख 63 हजार 698 वोट मिले थे, जो कुल मतदान का 52.79 फीसदी था। वहीं, सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा के प्रत्याशी टेक नाथ ढकाल को एक लाख 21 हजार 956 वोट ही मिले थे। साल 2014 के लोकसभा चुनाव में 3 लाख 70 हजार 769 वोटरों में से 3 लाख 10 हजार 95 वोटरों ने अपने मतदान का इस्तेमाल किया था, जिनमें से 3 लाख 4 हजार 635 वोट वैध पाए गए थे।

14:26 (IST)23 May 2019
2014 में 6 उम्मीदवार मैदान में थे

साल 2014 के लोकसभा चुनाव में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के प्रेमदास राय इस सीट से लगातार दूसरी बार सांसद चुने गए। साल 2014 के लोकसभा चुनाव में इस सीट पर 6 उम्मीदवार मैदान में थे, जिनमें से 4 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई थी।

14:00 (IST)23 May 2019
1 लोकसभा सीट है

सिक्किम लोकसभा सीट साल 1977 में अस्तित्व में आई। चार जिलों वाले सिक्किम राज्य में सिर्फ एक ही लोकसभा सीट है, जिस पर अब तक 11 बार लोकसभा चुनाव हो चुके हैं। इस सीट पर सबसे अधिक 6 बार लगातार सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट ने जीत दर्ज की है। इस सीट पर साल 1985 में एक बार उपचुनाव भी हो चुका है, जिसमें सिक्किम संग्राम परिषद (SSP) ने जीत दर्ज की थी। वर्तमान में इस सीट को सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट का गढ़ माना जाता है, जो साल 1996 से लगातार जीत दर्ज करती आ रही है।

13:46 (IST)23 May 2019
2014 सिक्किम विधानसभा चुनाव का इतिहास

सिक्किम विधानसभा चुनाव 12 अप्रैल 2014 को हुए थे। जिसमें एसडीएफ ने एक बार फिर से बहुमत के साथ अपनी जीत बरकरार रखी। वहीं सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा (एसकेएम) एसडीएफ को चुनौती देने के लिए मैदान में उतर चुकी थी। सिक्किम में सिक्किम डेमोके्रटिक फ्रंट को 32 सीटों में से 22 सीटों पर जीत हासिल हुई। 55.03 प्रतिशत के वोट शेयर के साथ एसडीएफ ने अपना बहुमत बरकरार रखा। एसकेएम ने 40.80 प्रतिशत के वोट शेयर के साथ 10 सीटें जीतीं। बीजेपी और कांग्रेस ने विधानसभा चुनावों में भी खराब प्रदर्शन किया और क्रमशः 0.71 प्रतिशत और 1.42 प्रतिशत वोट शेयर प्राप्त किए।

13:32 (IST)23 May 2019
सोरंग चाकुंग सीट से SDF आगे

सिक्किम की सोरेंग चाकुंग विधानसभा सीट से एसडीएफ के प्रत्याशी एस आर सुब्बा 2020 मतों से आगे चल रहे हैं। इस सीट से एसकेएम आदित्य गोयल को 1704 वोट मिले हैं।

13:19 (IST)23 May 2019
6 लाख 48 हजार है आबादी

चीन, नेपाल, भूटान और तिब्बत की सीमा से लगे भारत के पूर्वोत्तर राज्य सिक्किम की आबादी करीब 6 लाख 48 हजार है। अभी तक मौजूद आंकड़ों के मुताबिक यहां पर मतदाताओं की संख्या 3 लाख 70 हजार 769 है, जिसमें से महिला वोटरों की संख्या एक लाख 79 हजार 753 और पुरुष वोटरों की संख्या एक लाख 91 हजार 10 है।

13:02 (IST)23 May 2019
16 सीटों पर SDF आगे

राज्य की 16 विधानसभा सीटों पर एसडीएफ इस वक्त लीड कर रही है। अब तक हुई मतगणना में इस बात के काफी संकेत मिले हैं कि राज्य के मुख्यमंत्री और एसडीएफ प्रमुख पवन कुमार चामलिंग, नमची-सिंघिथांग विधानसभा सीट से जीत जाएंगे। इसके अलावा सीएम पवन कुमार चामलिंग अपनी दूसरी सीट पोकलोक-कामरांग पर भी लगातार बढ़त बनाए हुए हैं।

12:42 (IST)23 May 2019
विलय के बाद पहली बार कांग्रेस की सरकार बनी

सिक्किम का साल 1975 में भारत में विलय हुआ और पहली बार कांग्रेस की सरकार बनी। इसके बाद जब 1979 में विधानसभा चुनाव में हुए तो सिक्किम जनता परिषद की सरकार बनी। इसके बाद 1984 में कांग्रेस की सरकार बनी, लेकिन बहुमत साबित न कर पाने के चलते 13 दिन के बाद ही इस्तीफा देना पड़ा। 1985 में विधानसभा चुनाव में असम संग्राम परिषद 32 में से 30 सीटों के साथ सत्ता में आई। इसके बाद 1989 में हुए चुनाव में सभी 32 सीटें जीतने में सफल रही। इसके बाद मुख्यमंत्री भंडारी के करीबी पवन कुमार चामलिंग ने बागी होकर सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट का गठन किया।

12:23 (IST)23 May 2019
11 सीटों पर एसडीएफ आगे

सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट (एसडीएफ) राज्य की 11 विधानसभा सीटों पर अभी आगे चल रही है। राज्य के सीएम पवन कुमार चामलिंग अपने गृह क्षेत्र पोकलोक-कोमरांग से लगातार बढ़त बनाए हुए हैं।

12:22 (IST)23 May 2019
1975 में हुआ सिक्किम का विलय

पूर्वोत्तर के सिक्किम में विधानसभा चुनाव की सियासी लड़ाई दो राष्ट्रीय पार्टियों की बजाए दो क्षेत्रीय दलों के गठबंधनों के बीच है। 1975 में सिक्किम के भारत में विलय के बाद से क्षेत्रीय दलों का दबदबा यहां की सियासत में देखने को मिला है। 20 साल से प्रदेश की सत्ता पर सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट का वर्चस्व कायम है। इस बार के विधानसभा चुनाव में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट को सिक्किम संग्राम परिषद से कड़ी चुनौती मिल रही है।

11:43 (IST)23 May 2019
13 दिन के लिए बनी थी कांग्रेस सरकार

एक जरूरी जानकारी आपको दे दें कि साल 1984 में सिक्किम में कांग्रेस को महज 13 दिन सत्ता में रहने का मौका मिला था। इसके बाद से कांग्रेस राज्‍य में वापसी नहीं कर पाई है। इस बार बीजेपी सिक्किम संग्राम परिषद का हिस्सा बनकर चुनाव में उतरी है।

11:29 (IST)23 May 2019
32 सीट पर 150 उम्मीदवार

सिक्कम की 32 विधानसभा सीट पर कुल 150 उम्मीदवार मैदान में हैं। राज्य में सरकार बनाने के लिए 17 सीटें चाहिए। राज्य में कुल 4,32,306 वोटर्स हैं। विधानसभा चुनाव में 78.19 प्रतिशत वोटिंग हुई है।

11:24 (IST)23 May 2019
सियासी मैदान में एक 'फुटबॉलर'

राज्‍य में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट और एसकेएम के अलावा सिक्किम संग्राम परिषद (SSP), सिक्किम नेशनल पीपुल्स पार्टी (SNPP) चुनाव मैदान में है। पूर्व फुटबॉलर बाइचुंग भूटिया ने हमारो सिक्किम पार्टी का निर्माण किया है। ये पार्टी भी चुनाव मैदान में है। बाइचुंग भूटिया यूकसम-ताशिदिंग विधानसभा सीट से मैदान में हैं।

11:05 (IST)23 May 2019
ज्योति बासु का रिकॉर्ड तोड़ा

पश्चिम बंगाल के पूर्व सीएम ज्योति बासु सबसे लंबे समय तक मुख्यमंत्री रहे थे लेकिन यह रिकॉर्ड पवन कुमार चामलिंग ने तोड़ दिया। पश्चिम बंगाल में माकपा ने 34 साल शासन किया। उसकी सरकार में ज्योति बसु 23 साल 137 दिन तक मुख्यमंत्री रहे। वहीं चामलिंग 12 दिसंबर, 1994 में सिक्किम के मुख्यमंत्री बने और आज तक मुख्यमंत्री हैं।

10:58 (IST)23 May 2019
5 सीटों पर एसकेएम आगे

मतगणना के दौरान रुझान यह बता रहे हैं कि अब एसकेएम 5 सीटों पर आगे चल रही है। इससे पहले रुझानों से यह सामने आया था कि यहां एसडीएफ 6 सीटों पर आगे है।

10:50 (IST)23 May 2019
विधानसभा चुनाव में वोट फीसदी

सिक्किम में साल 2014 में हुए विधानसभा चुनाव में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट न सिर्फ ज्यादा सीटें हासिल की थी, बल्कि वोट शेयर में भी अव्वल रही थी। विधानसभा चुनाव में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट को 55 फीसदी वोट मिले थे। वहीं सिक्किम डेमोक्रेटिक मोर्चा 40 फीसदी वोट शेयर के साथ दूसरे नंबर पर रही थी। बीजेपी को 0.71 फीसदी और कांग्रेस को 0.4 फीसदी वोट मिले थे।

10:46 (IST)23 May 2019
2014 विधानसभा के नतीजे

साल 2014 में सिक्किम में हुए विधानसभा चुनाव में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट ने 22 सीटें हासिल की थी और राज्य की सत्ता पर फिर से कब्जा जमाया था। जबकी सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा 10 सीटों पर जीत हासिल करने में कामयाब हुई थी। यहां पर कांग्रेस और बीजेपी दोनों पार्टियों ने अपने उम्मीदवार उतारे थे, मगर एक भी सीट जीतने में ये दोनों पार्टियां कामयाब नहीं हो पाई थी। टीएमसी ने भी सात सीटों पर चुनाव लड़ा था।

10:29 (IST)23 May 2019
जादुई आंकड़ा है 17

बता दें कि सिक्किम में सत्ता की चाभी 17 सीटें जीतने वाली पार्टी को मिलेगी। इस वक्त जो रूझान सामने आ रहे हैं उसके मुताबिक एसडीएफ 6 सीटों पर बढ़त बनाए है जबकि एसकेएम 4 सटों पर आगे है।

10:04 (IST)23 May 2019
सिक्किम में वांगचुंग आगे

सिक्किम विधानसभा चुनाव का पहला रिजल्ट आ गया है। सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के वांगचुंग भूटिया, यूकसम-ताशिदिंग विधानसभा सीट से आगे हैं। भूटिया 3218 वोटों से जीत गए हैं।

09:52 (IST)23 May 2019
इंद्रा हंग सुबा आगे

सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा के उम्मीदवार इंद्रा हंग सुबा आगे चल रहे हैं। सुबा एसडीएफ के उम्मीदवार देक बहादुर कटवाल से करीब 554 वोटों से आगे चल रहे हैं।

09:41 (IST)23 May 2019
6 सीटों पर एसीडीएफ उम्मीदवार आगे

अभी यह एकदम शुरुआती रूझान हैं। यह रूझान बता रहे हैं कि 32 विधानसभा सीटों में से 6 पर एसडीएफ के उम्मीदवार आगे चल रहे हैं।

09:24 (IST)23 May 2019
वांगचुंग भूटिया आगे

एसडीएफ के उम्मीदवार वांगचुंग भूटिया योकसम-ताशिदिंग विधानसभा सीट से आगे चल रहे हैं।

09:16 (IST)23 May 2019
पवन कुमार चामलिंग का रिकॉर्ड

सिक्किम में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट यानी (SDF) 25 सालों से सत्ता में है। पार्टी के संस्थापक पवन कुमार चामलिंग का रिकॉर्ड है कि वो आजादी के बाद सबसे ज्यादा वक्त तक किसी राज्य के सीएम रहे हैं। पार्टी को उम्मीद है कि जनता उन्हें अगले पांच साल के लिए एक बार फिर मौका जरूर देगी।

09:07 (IST)23 May 2019
पांच सीटों पर एसडीएफ की बढ़त

यूसकोम-तासीदिंग, बारफंग, मनीबोंग-देन्तगम, सिंगटमम-खामडोंग और यांगथांग सीट पर एसडीएफ आगे चल रही है।

09:00 (IST)23 May 2019
4 विधानसभा सीट पर SDF आगे

सिक्किम में विधानसभा चुनाव के शुरुआती रुझान आने लगे हैं। इस बीच खबर है कि पोस्टल वोट की गिनती में एसडीएफ उम्मीदवारों ने चार विधानसभा सीटों पर बढ़त बना ली है।

08:50 (IST)23 May 2019
आगे चल रहे हैं सीएम पवन कुमार चामलिंग

सिक्किम से अभी जो खबर आ रही है उसमें शुरुआती रूझान यह बता रहे हैं कि यहां सीएम पवन कुमार चामलिंग अपने विधानसभा क्षेत्र पकलोक-कमरांग (साउथ सिक्किम) से आगे चल रहे हैं।

08:41 (IST)23 May 2019
SDF उम्मीदवार आगे

दो विधानसभा सीटों पर एसडीएफ के उम्मीदवार आगे चल रहे हैं। हालांकि अभी यह शुरुआती रूझान हैं क्योंकि अभी सिर्फ पोस्टल मतों की गिनती शुरू हो पाई है।

08:33 (IST)23 May 2019
भाजपा उम्मीदवारों ने बनाई बढ़त

पोस्टल वोट की गिनती में भाजपा के उम्मीदवार ने दो विधानसभा सीट पर बढ़त बना ली है।

08:18 (IST)23 May 2019
32 सीटों पर मतगणना शुरू

सिक्किम विधानसभा की 32 सीटों पर मतगणना जारी है। बता दें कि साल 2014 के विधानसभा चुनाव में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट यानी (एसडीएफ) ने 22 सीटों पर जीत हासिल की थी।

सिक्किम विधानसभा चुनाव 2019 के नतीजे जारी होने वाले हैं। 32 सीटों वाली विधानसभा में सरकार बनाने के लिए किसी भी दल को 17 सीटें चाहिए होंगी। चुनावी रण में मुकाबला सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट (एसडीएफ) और सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा के बीच है। सिक्किम विधानसभा चुनाव में मतों की गिनती जारी है। सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के वांगचुंग भूटिया, यूकसम-ताशिदिंग विधानसभा सीट से काफी आगे चल रहे हैं। भूटिया 3218 वोटों से आगे हैं। सिक्किम में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट यानी (SDF) 25 सालों से सत्ता में है। बता दें कि सिक्किम में सत्ता की चाभी 17 सीटें जीतने वाली पार्टी को मिलेगी। सिक्किम में मतों की गिनती हो रही है। इस बीच शुरुआती रुझानों में विधानसभा सीट यूसकोम-तासीदिंग, बारफंग, मनीबोंग-देन्तगम, सिंगटमम-खामडोंग और यांगथांग सीट पर एसडीएफ आगे चल रही है। सिक्किम विधानसभा की 32 सीटों पर मतगणना जारी है। पोस्टल वोट की गिनती में भाजपा के उम्मीदवार ने दो विधानसभा सीट पर बढ़त बना ली है। सिक्किम से अभी जो खबर आ रही है उसमें शुरुआती रूझान यह बता रहे हैं कि यहां सीएम पवन कुमार चामलिंग अपने विधानसभा क्षेत्र पकलोक-कमरांग (साउथ सिक्किम) से आगे चल रहे हैं। एसडीएफ के संस्थापक पवन कुमार चामलिंग का रिकॉर्ड है कि वो आजादी के बाद सबसे ज्यादा वक्त तक किसी राज्य के सीएम रहे हैं। पार्टी को उम्मीद है कि जनता उन्हें अगले पांच साल के लिए एक बार फिर मौका जरूर देगी। इस वक्त जो रूझान सामने आ रहे हैं उसके मुताबिक एसडीएफ 6 सीटों पर बढ़त बनाए है जबकि एसकेएम 4 सटों पर आगे है। साल 2014 के विधानसभा चुनाव में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट यानी (एसडीएफ) ने 22 सीटों पर जीत हासिल की थी। साल 2014 में सिक्किम में हुए विधानसभा चुनाव में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट ने 22 सीटें हासिल की थी और राज्य की सत्ता पर फिर से कब्जा जमाया था। जबकी सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा 10 सीटों पर जीत हासिल करने में कामयाब हुई थी। यहां पर कांग्रेस और बीजेपी दोनों पार्टियों ने अपने उम्मीदवार उतारे थे, मगर एक भी सीट जीतने में ये दोनों पार्टियां कामयाब नहीं हो पाई थी। टीएमसी ने भी सात सीटों पर चुनाव लड़ा था। चीन, नेपाल, भूटान और तिब्बत की सीमा से लगे भारत के पूर्वोत्तर राज्य सिक्किम की आबादी करीब 6 लाख 48 हजार है। अभी तक मौजूद आंकड़ों के मुताबिक यहां पर मतदाताओं की संख्या 3 लाख 70 हजार 769 है, जिसमें से महिला वोटरों की संख्या एक लाख 79 हजार 753 और पुरुष वोटरों की संख्या एक लाख 91 हजार 10 है। इस बार के विधानसभा चुनाव में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट को सिक्किम संग्राम परिषद से कड़ी चुनौती मिल रही है। एसडीएफ के नेता मौजूदा मुख्यमंत्री पवन कुमार चामलिंग हैं, जबकि सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा के चीफ प्रेम सिंह तमांग हैं। वहीं, जाने-माने पूर्व फुटबॉलर बाइचुंग भूटिया भी इस बार राजनीतिक पारी की शुरुआत कर रहे हैं। वह अपने दल हामरो सिक्किम पार्टी संग चुनावी मैदान में हैं। विधानसभा चुनाव में 78.19 प्रतिशत वोटिंग हुई है। राज्‍य में सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट और एसकेएम के अलावा सिक्किम संग्राम परिषद (SSP), सिक्किम नेशनल पीपुल्स पार्टी (SNPP) चुनाव मैदान में है। पूर्व फुटबॉलर बाइचुंग भूटिया ने हमारो सिक्किम पार्टी का निर्माण किया है। ये पार्टी भी चुनाव मैदान में है। बाइचुंग भूटिया यूकसम-ताशिदिंग विधानसभा सीट से मैदान में हैं।
X