ताज़ा खबर
 

पूर्व केंद्रीय मंत्री की बहू और BHU ग्रेजुएट, मेयर चुनाव में 1.14 लाख वोट पा चुकी हैं मोदी के खिलाफ सपा प्रत्याशी शालिनी यादव

शालिनी ने द इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा, 'मुझे कांग्रेस के कामकाज के तरीके और वादाखिलाफी से परेशानी थे। पार्टी हमेशा कहती थी कि वह सिर्फ अच्छे लोगों को लाएगी, पैराशूट कैंडिडेट्स नहीं, लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है।

Author April 23, 2019 8:44 AM
वाराणसी से शालिनी यादव होंगी सपा की उम्मीदवार। (express photo)

लोकसभा चुनाव 2019 में हाई प्रोफाइल वाराणसी सीट से बीजेपी कैंडिडेट पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ कांग्रेस की ओर से प्रियंका गांधी को उतारे जाने की अटकलों के बीच सपा-बसपा-आरएलडी गठबंधन ने यहां से अपने उम्मीदवार काशा ऐलान कर दिया है। सपा नेता शालिनी यादव को यहां से मैदान में उतारा गया है। शालिनी दिवंगत पूर्व कांग्रेसी सांसद और केंद्रीय मंत्री श्यामलाल यादव की बहू हैं। वह 2017 में मेयर के चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी थीं। इस चुनाव में उन्हें 1.14 लाख वोट मिले थे, लेकिन वह चुनाव हार गई थीं।

शालिनी सोमवार को सपा में शामिल हुईं। इस मौके पर पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव भी मौजूद थे। सपा ने उनके अखलाफ नजदीक की चंदौली सीट से संजय चौहान को उम्मीदवार बनाया है। चौहान अपने समुदाय के बेहद प्रभावशाली नेता माने जाते हैं। सपा प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा कि यह शालिनी और चौहान, दोनों के लिए पहला संसदीय चुनाव होगा। शालिनी ने द इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा, ‘मुझे कांग्रेस के कामकाज के तरीके और वादाखिलाफी से परेशानी थे। पार्टी हमेशा कहती थी कि वह सिर्फ अच्छे लोगों को लाएगी, पैराशूट कैंडिडेट्स नहीं, लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है। वे (कांग्रेस नेता) कहते हैं कि ‘चौकीदार चोर है’ लेकिन वे खुद बाहुबलियों को टिकट दे रहे हैं…मैं खुश हूं कि अखिलेशजी ने मुझ पर भरोसा दिखाया और पीएम मोदी से मुकाबले के लिए वाराणसी भेजा।’

वहीं, वाराणसी कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा ने दावा किया कि पार्टी विरोधी गतिविधियों की वजह से हाल ही में शालिनी को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था। शर्मा ने कहा, ‘शालिनी से पार्टी की प्राथमिक सदस्यता पहले ही छीनी जा चुकी है क्योंकि हमें उनकी पार्टी विरोधी गतिविधियों की जानकारी मिली थी। वह कांग्रेस से टिकट मांग रही थीं, जो उन्हें नहीं दिया गया।’ शालिनी बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी से अंग्रेजी ग्रैजुएट हैं। उनके पास दिल्ली से फैशन डिजाइनिंग में भी डिग्री है। उनसे पहले, उनके पति भी कांग्रेस छोड़कर सपा में शामिल हो चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App