ताज़ा खबर
 

साध्वी प्रज्ञा का दावा- बाबरी मस्जिद पर चढ़कर तोड़ा था ढांचा, बनवाएंगे भव्य मंदिर

अयोध्या में विवादित ढांचा गिराए जाने के समय अपनी भूमिका के बारे में बोलते हुए साध्वी ने कहा कि "मैंने ढांचे पर चढ़ के तोड़ा था। मुझे भयंकर गर्व है कि ईश्वर ने मुझे अवसर दिया।'

साध्वी प्रज्ञा बोलीं, राम मंदिर जरुर बनेगा। (image source- pti/express photo)

भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा का पूर्व एटीएस चीफ हेमंत करकरे को लेकर दिया गया बयान अभी तक चर्चा में है। अब एक बार फिर साध्वी प्रज्ञा ने ऐसा बयान दिया है, जिस पर हंगामा हो सकता है। साध्वी प्रज्ञा ने अपने इस बयान में कहा कि उन्होंने खुद बाबरी मस्जिद पर चढ़कर ढांचा तोड़ा और अब वहां भव्य मंदिर बनाएंगे। हालांकि साध्वी प्रज्ञा के इस बयान पर चुनाव आयोग ने तुरंत कार्रवाई करते हुए उन्हें नोटिस जारी किया है। इसके साथ ही चुनाव आयोग ने सभी राजनैतिक पार्टियों को भी नोटिस जारी कर चेतावनी दी है कि बार-बार चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन और भड़काऊ और अभद्र भाषा का इस्तेमाल होने पर सख्त कार्रवाई हो सकती है।

दरअसल साध्वी प्रज्ञा शनिवार को भोपाल में चुनाव प्रचार कर रहीं थी। टाइम्स ऑफ इंडिया की एक खबर के अनुसार, इसी दौरान एक टीवी चैनल के साथ बातचीत में साध्वी प्रज्ञा से राम मंदिर के संबंध में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि ‘राम मंदिर जरुर बनेगा और भव्य बनेगा।’ हालांकि जब उनसे समय सीमा के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने सीधा जवाब नहीं दिया और कहा कि ‘जब हम खुद ढांचा गिराने गए थे, तो राम मंदिर भी बनाएंगे।’ अयोध्या में विवादित ढांचा गिराए जाने के समय अपनी भूमिका के बारे में बोलते हुए साध्वी ने कहा कि “मैंने ढांचे पर चढ़ के तोड़ा था। मुझे भयंकर गर्व है कि ईश्वर ने मुझे अवसर दिया और शक्ति दी और मैंने ये काम कर दिया। अब वहीं राम मंदिर बनाएंगे।”

वहीं साध्वी प्रज्ञा के इस बयान पर चुनाव ने स्वतः संज्ञान लेते हुए भाजपा नेता को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। बता दें कि हाल ही में साध्वी प्रज्ञा ने अपने एक बयान में हेमंत करकरे के बारे में बोलते हुए कहा था कि ‘करकरे ने उन्हें प्रताड़ित किया था और मैंने उनके (करकरे के) सर्वनाश का श्राप दिया था, इसलिए आतंकवादियों ने उन्हें मार दिया।’ साध्वी प्रज्ञा के इस बयान पर काफी विवाद हुआ और विभिन्न राजनैतिक पार्टियों ने साध्वी के इस बयान की आलोचना की। भाजपा ने भी साध्वी के इस बयान से किनारा कर लिया। बवाल बढ़ता देख साध्वी प्रज्ञा ने भी अपने बयान को वापस लेने की बात कही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App