ताज़ा खबर
 

बीजेपी में शामिल हुईं साध्वी प्रज्ञा, दिग्विजय सिंह के खिलाफ भोपाल से लड़ेंगी चुनाव

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर औपचारिक रूप से बीजेपी में शामिल हो गई हैं। उन्होंने बुधवार को इसकी घोषणा की। साथ ही, लोकसभा चुनाव लड़ने और जीतने की बात भी कही।

साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर। फोटो सोर्स : एएनआई

Lok Sabha Election 2019: साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर बुधवार (17 अप्रैल) को औपचारिक रूप में बीजेपी में शामिल हो गईं। उन्होंने खुद ही इसकी घोषणा की। साथ ही, बताया कि वह 2019 के लोक सभा चुनाव भी लड़ेंगी। बता दें कि साध्वी प्रज्ञा बुधवार सुबह बीजेपी के भोपाल कार्यालय मिठाई लेकर पहुंची थीं। उस दौरान मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, सुहास भगत, रामलाल और अनिल जैन भी मौजूद थे।

यह बोलीं साध्वी प्रज्ञा : साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा, ‘‘मैंने बीजेपी ज्वॉइन कर ली है। मैं चुनाव में भी हिस्सा लूंगी और जीतूंगी।’’ बता दें कि साध्वी प्रज्ञा को पार्टी ने भोपाल लोकसभा सीट से चुनावी मैदान में उतारा है। इस सीट पर कांग्रेस ने मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर दांव खेला है।

National Hindi News, 17 April 2019 LIVE Updates: दिनभर की खबरें पढ़ें एक क्लिक पर

भड़काऊ भाषण देने के लिए मशहूर : साध्वी प्रज्ञा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद और दुर्गा वाहिनी से जुड़ी रह चुकी हैं। दुर्गा वाहिनी विश्व हिंदू परिषद की महिला शाखा है। साध्वी प्रज्ञा को भड़काऊ भाषण देने के लिए भी जाना जाता है। भोपाल लोकसभा सीट पर दिग्विजय सिंह के खिलाफ साध्वी प्रज्ञा को बीजेपी के सबसे मजबूत विकल्प के रूप में देखा जा रहा है।

यह है भोपाल का समीकरण : भोपाल लोकसभा सीट पर करीब 18 लाख वोटर्स हैं, जिनमें 25 प्रतिशत आबादी मुस्लिम है। बीजेपी दिग्विजय सिंह को हिंदू विरोधी के रूप में पेश कर रही है। वहीं, साध्वी प्रज्ञा भी पहले कह चुकी हैं कि दिग्विजय सिंह जैसे हिंदू विरोधी नेता को चुनौती देकर उन्हें खुशी मिलेगी।

भोपाल में 1989 से नहीं जीती कांग्रेस : बता दें कि भोपाल लोकसभा सीट पर कांग्रेस को 1989 से जीत नसीब नहीं हुई है। वहीं, यह संसदीय क्षेत्र बीजेपी का गढ़ माना जाता है, क्योंकि 1989 से पार्टी को किसी भी लोकसभा चुनाव में यहां हार का सामना नहीं करना पड़ा। भोपाल में बीजेपी के वर्तमान सांसद आलोक सजर हैं, जिन्होंने 2014 में 3.7 लाख वोटों के अंतर से जीत हासिल की थी। हालांकि, कांग्रेस की ओर से दिग्विजय सिंह का नाम घोषित होने के बाद बीजेपी ने चुप्पी साध ली थी।

2018 के विधानसभा चुनाव में हारी थी बीजेपी : गौरतलब है कि 2018 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को मध्य प्रदेश में हार का सामना करना पड़ा था। वहीं, भोपाल संसदीय क्षेत्र की 8 विधानसभा सीटों में से 3 पर कांग्रेस जीती थी। बाकी 5 विधानसभा सीटों पर बीजेपी करीबी अंतर से जीत हासिल कर पाई थी।

ऐसे चर्चा में आई थीं साध्वी प्रज्ञा : बता दें कि 29 सितंबर 2008 को उत्तरी महाराष्ट्र के मालेगांव स्थित एक मस्जिद के पास एक मोटरसाइकिल में बम ब्लास्ट हुआ था। इस घटना में 6 लोगों की मौत हो गई थी। वहीं, 100 से ज्यादा घायल हुए थे। इस मामले में साध्वी प्रज्ञा सिंह का नाम चर्चा में आया था और उनके खिलाफ गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया था। हालांकि, पिछले साल बॉम्बे हाईकोर्ट ने उन्हें जमानत दे दी थी। वहीं, हाल ही में एनआईए अदालत ने उन्हें रिहा कर दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App