ताज़ा खबर
 

Rajasthan Elections: बेनीवाल का आरोप- कांग्रेस ने की थी परिवार की राजनीतिक हत्या की कोशिश

राजस्थान के चुनावी घमासान में अपनी नयी पार्टी बनाकर मैदान में उतरे हनुमान बेनीवाल ने कांग्रेस पर राजनीतिक हत्या करने के प्रयास का आरोप लगाया।

Author November 27, 2018 2:35 PM
राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक और विधायक हनुमान बेनीवाल फोटो सोर्स- ट्विटर

राजस्थान के चुनावी घमासान में अपनी नयी पार्टी बनाकर मैदान में उतरे हनुमान बेनीवाल ने बड़ा बयान दिया है। बेनीवाल ने कहा कि कांग्रेस के बड़े नेताओं द्वारा साल 2001 में एक साजिश के तहत उनके परिवार की राजनीतिक हत्या करने का प्रयास किया गया था। बेनीवाल खींवसर में अपनी राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के प्रधान चुनावी कार्यालय का उद्घाटन करने आये थे। बेनीवाल के इस बयान के बाद सियासत गरमाने के आसार है।

हनुमान बेनीवाल ने कार्यालय के उद्घाटन के दौरान जनसभा को भी संबोधित किया, जिसमें उन्होंने कहा कि जब उनके परिवार की राजनीतिक हत्या की साजिश की गई थी, तब खींवसर और मूंडवा की जनता मेरे परिवार के साथ खड़ी थी। जनसभा के दौरान बेनीवाल ने दोनों प्रमुख पार्टियों भाजपा और कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि दोनों दलों की गलत नीतियों के कारण इस राज्य का विकास रुक गया। भाजपा ने कांग्रेस की ही परिपाटी को आगे बढ़ाया है। जिससे प्रदेश गर्त में जा रहा है।

जनसभा के दौरान बेनीवाल ने कहा ये चुनाव व्यवस्था परिवर्तन की लड़ाई है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा और कांग्रेस दोनों के शासन में किसानों और जवानों को परेशान होना पड़ा है। इसलिए इस बार दोनों ही पार्टियों को सबक सिखाने का समय है।

राजस्थान में जाट नेता हनुमान बेनीवाल विधानसभा चुनावों में बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं। वे जाट बाहुल्य इलाकों में जाकर जनसभाएं कर रहे हैं और सभी जाटों को एकजुट करने का प्रयास भी कर रहे हैं। इसके पूर्व राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक हनुमान बेनीवाल पर भाजपा की बी टीम की तरह काम करने का आरोप लगा था। इस पर बेनीवाल ने सोशल मीडिया पर जवाब देते हुए बीजेपी और कांग्रेस को जमकर कोसा था। साल 2008 में भाजपा के टिकट पर खींवसर से हनुमान बेनीवाल विधायक बने थे। इसके बाद उन्होंने पार्टी छोड़ दी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App