ताज़ा खबर
 

राजस्थान: शपथ ग्रहण समारोह में दिखी अव्यवस्थाएं, कई VIP मेहमानों को बैठने के लिए नहीं मिली सीट

राजस्थान में शपथ ग्रहण समारोह स्थल पर कई वीआईपी मेहमान सीट के इंतजार में खड़े दिखे। कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं और विधायकों को बैठने के लिए सीट तक नहीं मिली।

Author Published on: December 18, 2018 12:09 PM
राजस्थान: अशोक गहलोत के शपथ ग्रहण में मौजूद भीड़ फोटो सोर्स- फेसबुक

सोमवार को जयपुर में अल्‍बर्ट हॉल में अशोक गहलोत ने राजस्थान के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। शपथ ग्रहण समारोह के चलते सुबह से ही लोगों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था लेकिन यहां अव्यवस्थाओं का आलम दिखा। समारोह स्थल पर कई वीआईपी मेहमान सीट के इंतजार में खड़े दिखे। इस दौरान कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं और विधायकों को बैठने के लिए सीट तक नहीं मिली। कांग्रेस के उम्मीदवार रहे मानवेन्द्र सिंह को भी मंच पर स्थान नहीं मिल सका।

बता दें कि सोमवार को राजस्थान में अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री और सचिन पायलट ने उपमुख़्यमंत्री पद की शपथ ली है। इस दौरान मंच पर दिग्गजों का जमावड़ा रहा। मंच पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह, राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे समेत कई बड़े नेता मौजूद रहे। लेकिन समारोह स्थल में अव्यवस्थाएं ऐसी थी कि कई वीआईपी मेहमानो को भी सीट नसीब नहीं हुई। भीड़भाड़ के बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बीडी कल्ला धक्कामुक्की का शिकार हुए। कांग्रेस विधायक प्रतापसिंह खाचरियावास को भी बैठने के लिए सीट नहीं मिली जिस कारण वे पीछे जाकर खड़े हो गए। वसुंधरा राजे के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले मानवेन्द्र सिंह को मंच पर स्थान नहीं मिला। उन्होंने कांग्रेस का झंडा थाम रखा था। यही नहीं जब सिविल लाइंस विधायक प्रताप सिंह को बैठने की सीट नहीं मिली तो वे सड़क के डिवाइडर पर ही बैठ गए।

समारोह में भाजपा के राजेन्द्र राठौड़ और कैलाश मेघवाल भी वीआईपी दीर्घा में पहुंचे लेकिन दोनों को काफी देर तक बैठने के लिए भी जगह नहीं मिली। हालाँकि कांग्रेस विधायकों ने कुछ देर में उन्हें बैठने की जगह मुहैया कराई।

इस समारोह में उपमुख्यमंत्री की पत्नी सारा पायलट भी मौजूद रही। सारा अपने बेटों आरान और वेहान के साथ आईं थी। शपथ ग्रहण समारोह में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बेटी सोनिया गहलोत ने महिला मेहमानों की स्वागत की जिम्मेदारी निभाई। इस दौरान सोनिया कह रही थीं कि देखना अब महिलाओं के अच्छे दिन जरूर आएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Election 2019 Updates: दिल्ली के बूथ प्रभारियों से 23 दिसंबर को मुलाकात करेंगे शाह
2 रिपोर्ट में दावा: प्रियंका गांधी वाड्रा लिख रहीं हैं किताब, मिला है एक करोड़ रुपए एडवांस
3 पार्टी ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करने कहा था, पर कमलनाथ के शपथ ग्रहण में चले गए शिवराज