ताज़ा खबर
 

PM मोदी से बड़ी जुमलेबाज निकलीं वसुंधरा, 44 लाख नौकरियां देने का दावा लेकिन पंजीकृत सिर्फ 33 लाखः सिंघवी

कांग्रेस ने वसुंधरा राजे के आंकड़ों को गलत ठहराते हुए उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी बड़ा जुमलेबाज करार दिया।

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी। (file photo)

राजस्थान के रण में अब बेरोजगारी का मुद्दा जोर पकड़ता दिख रहा है। राज्य की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे नौकरी देने के आंकड़ों को लेकर मुश्किल में पड़ती नजर आ रही है। कांग्रेस सांसद अभिषेक मनु सिंघवी ने वसुंधरा के आंकड़ों को खारिज करते हुए उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी बड़ा जुमलेबाज करार दिया। दरअसल वसुंधरा ने दावा किया था कि उनकी सरकार ने राजस्थान में 44 लाख बेरोजगारों को नौकरी दी है। लेकिन सिंघवी ने सीएजी की रिपोर्ट का हवाला देते हुए बताया कि राजस्थान में 33 लाख युवा ही पंजीकृत हैं।

‘बेरोजगारी दर में चौथे नंबर पर राजस्थान’
सिंघवी ने कहा, ‘राजस्थान बेरोजगारी के मामले में चौथा सबसे बदहाल प्रदेश है। यहां की बेरोजगारी दर 13.7 फीसदी है। राज्य में 2017 में 20 लाख बेरोजगार थे।’ उन्होंने कहा कि वसुंधरा सरकार ने जिस तरह से आंकड़ों की हेराफेरी की है उससे साफ है कि वो प्रधानमंत्री मोदी से भी बड़ी जुमलेबाज हैं। प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए सिंघवी ने किसानों की खुदकुशी, शिक्षा में बढ़ते निजीकरण, महिला अत्याचार और हिंदुत्व के मुद्दों को लेकर आरोप लगाए।

कांग्रेस ने कानून-व्यवस्था पर भी बरसाए आंकड़े
उन्होंने कहा, ‘राजस्थान के 62 फीसदी किसान कर्जदार हैं। बीते दो साल में 492 किसानों ने फसल का समर्थन मूल्य नहीं मिलने के चलते खुदकुशी की। उन्होंने महिलाओं के साथ अत्याचार के मामले में राजस्थान को शीर्ष पर बताया और दावा किया कि यहां महिला उत्पीड़न के 37 फीसदी मामले बढ़े हैं। वसुंधरा सरकार को निशाने पर लेते हुए उन्होंने कहा कि राजस्थान मानव तस्करी में दूसरे, साइबर क्राइम में चौथे और हत्या-अपहरण के मामले में आठवें नंबर पर है।

Next Stories
1 भाजपा की किरकिरी, वंशवाद को लेकर महिला विधायक के वायरल वीडियो पर बवाल
2 ‘मस्जिद-चर्च को फ्री बिजली तो मंदिरों को क्यों नहीं?’ अमित शाह ने कांग्रेस पर यूं साधा निशाना
3 Telangana Elections: ओवैसी का कांग्रेस- टीडीपी पर हमला, कहा पॉकेटमारों की पार्टी नहीं समझेगी हमारा दर्द
ये पढ़ा क्या?
X