ताज़ा खबर
 

ग्रोथ रेट घटी तो राहुल ने कसा तंज- झूठे वादे, झूठा खेल, फिर चौकीदार फेल

नोटबंदी, रोजगार और जीएसटी जैसे मुद्दों पर लगातार सरकार की आलोचना के बीच अब कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्विटर पर तिमाही समीक्षा के आंकड़ों को लेकर तंज कसा है। राहुल ने लिखा, 'झूठे वादे, झूठा खेल।

narendra modi and rahul gandhiग्रोथ रेट घटने पर राहुल ने पीएम मोदी पर कसा शिंकजा

2019 Lok Sabha Election से पहले मोदी सरकार पर राहुल गांधी के तीखे हमले जारी हैं। नोटबंदी, रोजगार और जीएसटी जैसे मुद्दों पर लगातार सरकार की आलोचना के बीच अब कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्विटर पर तिमाही समीक्षा के आंकड़ों को लेकर तंज कसा है। राहुल ने लिखा, ‘झूठे वादे, झूठा खेल। इस तिमाही के आंकड़े में, फिर चौकीदार फेल!’ उल्लेखनीय है राफेल पर अपनी सभाओं में राहुल ‘चौकीदार चोर है’ का नारा लगवाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाने पर लेते रहे हैं। ऐसे में चुनाव से पहले आए विकास के आंकड़ों ने उन्हें सरकार को घेरने का एक और मौका दे दिया है।

क्यों दिया राहुल ने ऐसा बयानः लोकसभा चुनाव से ठीक पहले मोदी सरकार के लिए आर्थिक मोर्चे पर एक बुरी खबर आई है। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) की तरफ से विकास दर के जारी किए गए हैं। 2018 में अक्टूबर से दिसंबर की तिमाही के दौरान देश की विकास दर महज 6.6 फीसदी रही है, जो पिछली छह तिमाहियों में सबसे कम है और पिछले साल की समान अवधि की तुलना में 1.1 फीसदी कम है। इससे पहले अप्रैल से जून 2017 के दौरान सिर्फ 6 फीसदी की विकास दर रिकॉर्ड की गई थी। माना जा रहा है कि घरेलू और निर्यात में मांग में कमी के चलते आंकड़ों में गिरावट दर्ज की गई है।

अनुमानित विकास दर भी घटाईः चंद हफ्तों में देश में चुनाव होने हैं लेकिन आर्थिक सुधार के दावों पर सवालिया निशान लग रहा है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक अनुमानित विकास के आंकड़ों में भी कमी की गई है। अप्रैल से जून 2019 की विकास दर को 8.2 फीसदी से घटाकर 8 फीसदी किया गया है। वहीं जुलाई से सितंबर की अनुमानित विकास दर को 7.1 फीसदी से घटाकर 7 फीसदी किया गया है।

 

 

मार्च 2018 में सबसे तेजः मोदी सरकार के पूरे कार्यकाल में सबसे अधिक विकास दर जनवरी से मार्च 2018 की तिमाही में दर्ज की गई थी। तब यह आंकड़ा 9.2 फीसदी तक पहुंच गया था। वहीं सबसे कम विकास दर जुलाई से सितंबर 2017 में दर्ज की गई थी। तब यह आंकड़ा महज 5.6 फीसदी रहा था।

Next Stories
1 पहली किस्‍त से खुश नहीं किसान, फिर से खातों में पैसा डालने की तैयारी में नरेंद्र मोदी सरकार
2 राहुल गांधी का पीएम पर तंज- अच्छा ये बताओ, सब चोरों का नाम मोदी क्यों हैं?
3 AAP के 6 उम्मीदवारों में चार 40 से कम, कोई चार्टर्ड अकाउंटेंट, IT एक्सपर्ट तो कोई 8वीं पास- बीजेपी के डॉक्टर, वकील को हराने की जिम्मेदारी
ये पढ़ा क्या?
X