ताज़ा खबर
 

राहुल ने कर दिया साफ- लोकसभा से लेकर विधान सभा चुनाव तक जारी रहेगा महागठबंधन

पटना में आयोजित जन आकांक्षा रैली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि लोकसभा चुनाव से लेकर बिहार विधानसभा चुनाव तक महागठबंधन जारी रहेगा। हम गठबंधन की सरकार बनाने जा रहे हैं।

तानाशाही को मिटा कर ही रहेंगे : ममता को समर्थन देते हुए सीबीआई मामले में राहुल गाँधी (Photo: PTI)

पटना में रविवार (3 फरवरी) को आयोजित कांग्रेस की जन आकांक्षा रैली में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने शिकरत की। लंबे समय से बिहार में अकेले चुनाव लड़ने संबंधी सभी अटकलों को खारिज कर दिया। राहुल गांधी ने कहा कि लोकसभा चुनाव से लेकर बिहार विधानसभा चुनाव तक महागठबंधन जारी रहेगा। तेजस्वी यादव की तारीफ करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, “तेजस्वी जी युवा नेता है, काम करके दिखाते हैं। झूठ नहीं बोलते हैं। हम सब मिलकर इज्ज्त से, प्यार से, एक साथ लोकसभा में और उसके एकदम बाद विधानसभा में गठबंधन की सरकार बनाने जा रहे हैं। मैंने उत्तर प्रदेश में कहा कि कांग्रेस पार्टी बैकफुट पर नहीं, बल्कि फ्रंटफुट पर खेलेगी। लालू जी और तेजस्वी जी के के साथ कांग्रेस बिहार में फ्रंटफुट पर खेलेगी और छक्का लगाएगी।” दरअसल, कुछ समय से कयास लगाए जा रहे थे कि सीट बंटवारे पर सहमति नहीं बनने की वजह से कांग्रेस बिहार में भी अकेले चुनाव लड़ सकती है।

बिहार में अपनी पहली रैली के दौरान राहुल गांधी ने नीतीश कुमार पर पीएम मोदी की तरह ‘खाली वादे’ करने का आरोप लगाया। उन्होंने वादा किया कि केन्द्र की सत्ता में आने पर मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ की तरह ही कांग्रेस देश के सभी किसानों का कर्ज माफ करेगी। कांग्रेस प्रत्येक गरीब व्यक्ति को न्यूनतम आय की गारंटी देगी। ‘चौकीदार ही चोर है’ का नारा लगाते हुए गांधी ने आरोप लगाया कि केंद्र की एनडीए सरकार राफेल सौदे में हुई अनियमितता का केंद्र है। उन्होंने कहा कि पहले नारा लगता था कि अच्‍छे दिन आएंगे, अब नारा लगता है कि चौकीदार चोर है। चौकीदार चोर है, यह पूरा देश जानता है। राहुल ने बिहार में विकास व रोजगार तथा सत्‍ता में आने पर पटना विवि को केंद्रीय विवि का दर्जा देने का भी वादा किया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की नीतियां जैसे की फसल बीमा के माध्यम से किसानों की खून-पसीने की कमाई उद्योगपतियों को दी जा रही है।

कांग्रेस ने करीब 30 साल बाद पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में अपने बूते बड़ी रैली की। इससे पहले 1989 में गांधी मैदान में राहुल गांधी के पिता व भारत के पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी ने भी ने बतौर कांग्रेस अध्‍यक्ष रैली की थी। रविवार की रैली में पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार, बिहार में नेता प्रतिपक्ष और राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (से.) के अध्यक्ष जीतनराम मांझी, शरद यादव, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा, राज्यसभा सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह समेत कई नेता मंच पर मौजूद रहे।

Next Stories
1 ब्रिटिश अखबार में पीएम नरेंद्र मोदी की तीखी आलोचना, भारतीय उच्‍चायुक्‍त ने साधी चुप्‍पी
2 खाकी पहनकर ऑटो चलाने निकल पड़े आंध्र प्रदेश सीएम चंद्रबाबू नायडू, बोले- मैं हूं राज्य का पहला ड्राइवर
3 हेलिकॉप्टर उतारने की इजाजत नहीं मिली तो सीएम योगी ने फोन पर की रैली, ममता बनर्जी पर ऐसे भड़के
ये पढ़ा क्या?
X