ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी सबसे बड़े एंटी नेशनल, हर घंटे जा रहीं हजार से भी ज्‍यादा नौकरियां- राहुल का हमला

राहुल गांधी ने आगे कहा कि '30 हजार करोड़ रुपए लेकर और उन्हें अनिल अंबानी को दे देना भी देश-विरोधी स्वभाव है। नरेंद्र मोदी को इस पर जवाब देना चाहिए।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी। (PTI Photo)

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी एक रैली के दौरान प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर हमला बोला और उन्हें ‘सबसे बड़ा देश-विरोधी’ बताते हुए उन पर ‘देश को बांटने’ का आरोप लगाया। राहुल गांधी मंगलवार को अपनी दो दिवसीय यात्रा पर केरल पहुंचे हैं, वहां वह कई जनसभाएं करेंगे और वायनाड लोकसभा सीट की 5 विधानसभा सीटों का दौरा भी करेंगे। मंगलवार को केरल के कन्नूर में संसदीय समिति की बैठक के बाद पत्रकारों से बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि ‘नरेंद्र मोदी ने देश को बांट दिया है, जिससे लोग आपस में लड़ रहे हैं। सबसे बड़ी देश-विरोधी चीज उन्होंने ये की है कि उन्होंने देश में ऐसी स्थिति पैदा कर दी है, जिससे हर 24 घंटे में करीब 27 हजार युवाओं को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ रहा है।’

राहुल गांधी ने आगे कहा कि ’30 हजार करोड़ रुपए लेकर और उन्हें अनिल अंबानी को दे देना भी देश-विरोधी स्वभाव है। नरेंद्र मोदी को इस पर जवाब देना चाहिए। राहुल गांधी ने कहा कि देश में कृषि क्षेत्र गंभीर संकट में है, किसान आत्महत्या कर रहे हैं। कांग्रेस अध्यक्ष ने इस ओर भी इशारा किया कि देश के सामने 3 बड़े मुद्दे, अर्थव्यवस्था का पिछड़ापन, किसानों का संकट और भ्रष्टाचार हैं, जिन पर चर्चा की जानी चाहिए, लेकिन मोदी इन मुद्दों पर मीडिया से बात करने के लिए भी तैयार नहीं है।’

गौरतलब है कि भाजपा लोकसभा चुनावों में राष्ट्रवाद का मुद्दा जोर-शोर से उठा रही है। ऐसे में माना जा रहा है कि राहुल गांधी ने पीएम को ही ‘देश-विरोधी’ बताकर भाजपा की इस रणनीति की काट निकालने की कोशिश की है। पीएम मोदी, अपने भाषणों में कांग्रेस पर देश-विरोधी होने का आरोप लगा रहे हैं। पीएम के इस आरोप पर पलटवार करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस देश की सबसे पुरानी राजनैतिक पार्टी है और देश पर हमला करने वाली ताकतों से लड़ने का कांग्रेस का रिकॉर्ड शानदार है।

राहुल गांधी केरल की वायनाड सीट से लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं। वायनाड के साथ ही राहुल गांधी उत्तर प्रदेश की अमेठी सीट से भी चुनाव मैदान में हैं। केरल में सत्ताधारी वाम नेतृत्व वाले एलडीएफ और कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूडीएफ में सीधी टक्कर है। अब राहुल गांधी के वायनाड से चुनाव लड़ने से कांग्रेस को राज्य में फायदा मिलने की उम्मीद है। केरल में भाजपा भी मजबूत हुई है, ये भी एक वजह मानी जा रही है कि राहुल गांधी ने अमेठी के साथ-साथ वायनाड से भी चुनाव लड़ने का फैसला किया, ताकि राज्य में अपने जनाधार को मजबूत किया जा सके।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App