ताज़ा खबर
 

कौन हैं विक्रम सिंह मजीठिया ? जानिए

मजीठिया का नाम एक ड्रग्स रैकेट केस में आया था। उस रैकेट के मुख्य आरोपी जगजीत सिंह चहल ने कहा था कि उसने इलेक्शन फंड के नाम पर मजीठिया को 35 लाख रुपए दिए थे।

विक्रम सिंह मजीठिया। PTI Photo

अरविंद केजरीवाल अपनी रैलियों में कई बार विक्रम सिंह मजीठिया का जिक्र कर चुके हैं। वह कई बार इस बात को दोहरा चुके हैं कि आम आदमी पार्टी मजीठिया को जेल भेज देगी। लेकिन क्या आप जानते हैं कि विक्रम मजीठिया कौन है ? केजरीवाल उनके जेल भेजने की बात क्यों कहते हैं ? अगर नहीं तो आज जानिए।

कौन है विक्रम मजीठिया ? विक्रम सिंह मजीठिया पंजाब के नेता हैं और कैबिनेट मिनिस्टर भी हैं। वह 2007 में पहली बार विधानसभा चुनाव लड़े। वह मजीठिया सीट से लड़े और वह उस चुनाव को जीत भी गए थे। उसके बाद वह 2012 में फिर लड़े और फिर जीत गए। वह शिरोमणी अकाली दल से हैं और यूथ आकाली दल की यूथ विंग के अध्यक्ष भी हैं। वह केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल के सबसे छोटे भाई हैं। हरसिमरत कौर पंजाब के डिप्टी चीफ मिनिस्टर सुखबीर सिंह बादल की पत्नी हैं।

मजीठिया पर क्या है आरोप ? मजीठिया का नाम एक ड्रग्स रैकेट केस में आया था। उस रैकेट के मुख्य आरोपी जगजीत सिंह चहल ने कहा था कि उसने इलेक्शन फंड के नाम पर मजीठिया को 35 लाख रुपए दिए थे। चहल ने कहा था कि वह पैसा 2007 से 2012 के बीच दिया गया था। चहल को 2013 में पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार किया था। वह एक फार्मा कंपनी चलाता था। फिलहाल वह जमानत पर बाहर है। मजीठिया पर यह भी आरोप हैं कि उनके नॉन रेजिडेंट इंडियन से संपर्क है जिनकी मदद से वह काले धन को सफेद कराते हैं।

आम आदमी पार्टी से सांसद भगवंत मान ने मजीठिया के खिलाफ केस दर्ज करने के लिए कहा था। साथ ही यह भी मांग की गई थी कि उनसे जुड़ा ट्रायल राज्य से बाहर कहीं होना चाहिए। हालांकि, मजीठिया ने अपने ऊपर सभी आरोपों को नकार दिया था।

इस वक्त की बाकी ताजा खबरों के लिए क्लिक करें

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App