ताज़ा खबर
 

कांग्रेस ने चुनावी पोस्टर पर लगाई प्रणब मुखर्जी की तस्वीर, राष्ट्रपति भवन से मिला पत्र – आगे से ऐसा ना हो

राष्ट्रपति भवन ने मुख्य चुनाव आयोग को पत्र लिखकर कहा है कि राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की फोटो को किसी भी राजनीतिक पोस्टर में इस्तेमाल नहीं किया जाए।

rahul gandhi, pranav mukherjiराष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और राहुल गांधी।

राष्ट्रपति भवन ने मुख्य चुनाव आयोग को पत्र लिखकर कहा है कि राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की फोटो को किसी भी राजनीतिक पोस्टर में इस्तेमाल नहीं किया जाए। राष्ट्रपति भवन ने इसके लिए मुख्य चुनाव आयुक्त डॉ नसीम जैदी को पत्र लिखा है। पत्र में साफ कहा गया है कि राष्ट्रपति या फिर उनके नाम का इस्तेमाल किसी भी राजनीतिक तरीके से नहीं किया जाना चाहिए। पत्र में लिखा गया है, ‘राष्ट्रपति किसी भी पार्टी की राजनीति से ऊपर हैं। वह किसी पार्टी से संबंध नहीं रखते। राष्ट्रपति की तस्वीर और ना ही उनसे जुड़ी किसी चीज का किसी भी पार्टी द्वारा इस्तेमाल किया जाना चाहिए।’

कांग्रेस ने लगाए थे पोस्टर: रेडिफ मेल की खबर के मुताबिक, कांग्रेस ने कुछ पोस्टर्स पर प्रणब मुर्खजी की फोटो का इस्तेमाल किया था। ये पोर्स्टस पंजाब के लुधियाना में लगाए गए थे। खबर के मुताबिक, लुधियाना के डिप्टी कमिशनर और जिला निर्वाचन अधिकारी ने उनकी जांच शुरू कर दी है। देखा जा रहा है कि क्या उन पोस्टर्स की वजह से किसी कानून का उल्लंघन हुआ है।

क्या लिखा था पत्र में: पत्र में लिखा गया, ‘सभी पार्टियों को ध्यान रखना चाहिए कि किसी भी तरह के राजनीतिक लक्ष्य को साधने के लिए राष्ट्रपति की तस्वीर का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए।’ आगे लिखा गया है, ‘आपसे (चुनाव आयोग) से विनती की जाती है कि यह देखा जाए कि आगे से ऐसा ना हो। भारत के राष्ट्रपति की छवि तटस्थ होनी चाहिए। इसका उल्लंघन नहीं होना चाहिए।’

गौरतलब है कि अगले महीने पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। जिन राज्यों में चुनाव हैं उसमें उत्तरप्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा शामिल है। चुनाव के नतीजे 11 मार्च को आएंगे।

Next Stories
1 नंदी और शिवलिंग लेकर पहुंचे नवजोत सिंह सिद्धू, बॉक्स खोला, मूर्ति देखी, फिर शुरू किया बोलना
2 52.55 करोड़ के नवजोत सिंह सिद्धू: बैंक बैलेंस 1.85 करोड़, 44 लाख की घड़ियां, 39 करोड़ के मकान-प्लॉट
3 पंजाब विधानसभा चुनाव: कांग्रेस उम्मीदवार के पास 13 ट्रक तो किसी के पास न घर न कार
ये पढ़ा क्या?
X