ताज़ा खबर
 

पंजाब में फूटा आप का गुब्बारा, 10 साल बाद कांग्रेस की वापसी

मतगणना के बाद पंजाब में कांग्रेस को 77, आम आदमी पार्टी को 20, शिरोमणि अकाली दल को 15 तथा भारतीय जनता पार्टी को 03 सीटों पर जीत मिली है।

कांग्रेस पंजाब में चुनाव अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में चुनाव लड़ रही है।

संजीव शर्मा

पंजाब में आज घोषित हुए चुनाव परिणाम ने यह साफ कर दिया है कि पंजाब के लोग वास्तव में यह चाहते थे की सूबे में कैप्टन की सरकार बने। कैप्टन अमरिंदर सिंह के 75 वें जन्मदिन के अवसर पर एक दशक बाद कांग्रेस ने जहां सत्ता वापसी की है वहीं आज के परिणाम ने आम आदमी पार्टी के गुब्बारे की हवा निकाल दी है। दस साल तक पंजाब की सत्ता संभालने वाली अकाली दल को अब यह विचार करना होगा कि विधानसभा में उनकी तरफ से विपक्ष का नेता कौन होगा। चुनाव परिणाम घोषित होते ही चंडीगढ़ तथा पंजाब ने कैप्टन अमरिंदर सिंह की सुरक्षा बढ़ा दी है। कांग्रेस पार्टी को आज दस साल बाद पंजाबवासियों ने सत्ता सौंपी है। पिछला चुनाव जीतकर रिकार्ड बनाने वाला अकाली दल तीसरे स्थान पर चला गया है।

आज हुई मतगणना के बाद पंजाब में कांग्रेस को 77, आम आदमी पार्टी को 20, शिरोमणि अकाली दल को 15 तथा भारतीय जनता पार्टी को 03 सीटों पर जीत मिली है। इस चुनाव में आप को समर्थन करने वाली लोक इंसाफ पार्टी ने दो सीटों पर जीत दर्ज की है। चुनाव परिणाम के बाद इस बात के साफ संकेत मिल गए हैं कि चुनाव के समय सबसे अधिक चर्चा का केंद्र रहे डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों ने अकाली-भाजपा गठबंधन को समर्थन नहीं दिया।
चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद पंजाब की सियासत तेज हो गई है। कांग्रेस प्रभारी आशा कुमारी ने चंडीगढ़ पहुंचकर कैप्टन अमरिंदर सिंह को जीत की बधाई दी। इसके बाद दोनों नेताओं ने संयुक्त बयान जारी करते हुए कहा कि रविवार को पार्टी कार्यालय में कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई गई है। इसमें विधायक दल के नेता का चुनाव किया जाएगा और पार्टी आलाकमान से मुलाकात करके आगामी कार्रवाई की जाएगी। इसी दौरान पंजाब के कार्यवाहक मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने जनादेश को स्वीकार करते हुए कहा कि रविवार को वह चंडीगढ़ जाकर राज्यपाल वी.पी. सिंह बदनौर से मुलाकात करेंगे और उन्हें अपना इस्तीफा सौंप देंगे। उधर आम आदमी पार्टी ने भी हार के कारणों पर मंथन शुरू कर दिया है।

पंजाब में जीत पर मोदी ने अमरिंदर को फोन पर दी बधाई
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष कैप्टन अमरिंदर सिंह को फोन करके विधानसभा चुनावों में उनकी पार्टी की भारी जीत पर बधाई दी है। इस क्रम में, मोदी ने कैप्टन सिंह को पंजाब के विकास के लिए उनकी सरकार को पूरा समर्थन देने का भरोसा दिया है।

Next Stories
1 पंजाब विधानसभा चुनाव नतीजे 2017: इन वजहों से पंजाब में आम आदमी पार्टी की उम्मीदें हो गईं चकनाचूर
2 पंजाब चुनाव नतीजे 2017: 77 सीटें जीतकर कांग्रेस 10 साल बाद सत्‍ता में जोरदार वापसी, आप दूसरी बड़ी पार्टी बनी
3 पंजाब चुनाव 2017: नतीजों से पहले सिद्धू की भविष्‍यवाणी- AAP को 40, बीजेपी-अकाली को 10 और बाकी सीटें कांग्रेस को
ये पढ़ा क्या?
X