ताज़ा खबर
 

नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी बोलीं-कपिल शर्मा शो में बने रहने का फैसला सही, टीवी के बिना नहीं चलेगा घर का खर्चा

पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार में सिद्धू को स्थानीय निकाय और पर्यटन मंत्रालय का कार्यभार सौंपा गया है।

Amrinder Singh Sidhu, Amrinder Singh kaur, Punjab, Election, Punjab Chaunavविधान सभा चुनाव 2017 में अमृतसर (पूर्व) सीट से जीतने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू अपनी पत्नी नवजोत सिंह कौर के साथ। (PTI Photo)

पंजाब की अमरिंदर सरकार में मंत्री रहते हुए भी द कपिल शर्मा शो करते रहने की बात कहने वाले मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू का उनकी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू ने समर्थन किया है। पूर्व विधायक ने कहा कि इस मामले को बेवजह तूल दिया जा रहा है। फेसबुक पर लिखे एक पोस्ट में पूर्व क्रिकेटर की पत्नी ने कहा एेसा कहा जा रहा है कि नवजोत सिंह अपनी जीविका टीवी से कमाते हैं। जब मैं विधायक थी तो मेरे घर का बिजली का बिल और मेहमानों के लिए चाय का खर्चा उससे ज्यादा आता था। हमारे पास टीवी के सिवाय कोई बिजनेस या आय का कोई स्रोत नहीं है। उन्होंने कहा कि उन्होंने आईपीएल, कॉमेंटेटर के करीब 80 प्रतिशत शो छोड़े हैं। कॉमेडी नाइट्स विद कपिल के 2 शोज की शूटिंग पूरे हफ्ते में सिर्फ 5 घंटे होती है, वो भी ज्यादातर शनिवार के दिन। मुझे लगचा है कि वह सामाजिक रूप से असक्रिय शख्स से लिए कम समय है।

बता दें कि अमरिंदर सिंह सरकार में नवजोत सिंह सिद्धू को स्थानीय निकाय और पर्यटन विभाग सौंपा गया है। इसके बाद सिद्धू ने कहा था कि वह सोनी एंटरटेनमेंट चैनल पर आने वाले शो कॉमेडी नाइट्स विद कपिल शर्मा का हिस्सा बने रहेंगे। सिद्धू ने कहा था, “अगर मुझे समस्या नहीं है तो आप लोग क्यों चिंता कर रहे हो। अगर मुझे शो करना होगा तो मैं यहां (पंजाब) से 3 बजे निकलूंगा और सुबह किसी के भी उठने से पहले वापस आ जाऊंगा।”

खबरें यह भी आईं थीं कि सिद्धू के कॉमेडी नाइट विद कपिल में बने रहने का फैसला कांग्रेस पार्टी को पसंद नहीं है। पार्टी चाहती है कि वह शो में जाना छोड़ दें। इसके लिए पार्टी ने एक सीनियर नेता को नवजोत सिंह सिद्धू के पीछे भी लगा दिया है। सूत्रों के मुताबिक, सीनियर नेता वही हैं जिन्होंने सिद्धू को कांग्रेस पार्टी में लाने में अहम भूमिका अदा की थी। दरअसल कांग्रेस को डर है कि विधायक के तौर पर सिद्धू को “ऑफिस ऑफ प्रॉफिट (लाभ का पद)” धारण करने वाला समझा जाएगा। कांग्रेस को यह भी डर सता रहा है कि पार्टी के ही अन्य नेता इस संबंध में चुनाव आयोग और पंजाब के गवर्नर को ना लिख दें।

Next Stories
1 पंजाब: कैप्टन अमरिंदर सिंह ने खत्म किया VIP कल्चर, सरकारी गाड़ियों पर नहीं होंगी लाल-नीली-पीली बत्तियां, शराब के ठेकों की संख्या भी घटाई
2 कांग्रेस को नापसंद है नवजोत सिंह सिद्धू की मजाकिया छवि, द कपिल शर्मा शो छुड़वाने को राजी करने के लिए एक नेता को लगाया
3 अमरिंदर सिंह के शपथ समारोह में पाकिस्‍तानी पत्रकार अरूसा आलम भी पहुंची, 2007 में प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर खुद को बताया था कैप्‍टन का दोस्‍त
ये पढ़ा क्या?
X