ताज़ा खबर
 

पंजाब चुनाव: केजरीवाल के आरोप पर अमरिंदर का पलटवार, लांबी से चुनाव लड़ने की दी चुनौती

अमरिंदर ने पूर्व सेना प्रमुख जनरल जे जे सिंह की तरफ से गंभीर चुनौती को भी खारिज किया जो पटियाला में उनके खिलाफ मैदान में है।

Author पटियाला | January 17, 2017 5:49 PM
अमरिंदर सिंह, पंजाब के पूर्व मुख्‍यमंत्री। (EXPRESS ARCHIVE)

पंजाब कांग्रेस प्रमुख अमरिंदर सिंह ने आप संयोजक अरविंद केजरीवाल की इस आरोप पर कड़ी आलोचना की कि वह प्रकाश सिंह बादल को जिताने में मदद करने के लिए उनकी गृह सीट लांबी से लड़ रहे हैं और केजरीवाल को चुनौती दी कि वह विधानसभा से चुनाव लड़कर दिखाएं। उन्होंने किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन करने को खारिज किया और कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष विधानसभा चुनाव के लिए मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार पर फैसला करेंगी। उन्होंने कहा कि पार्टी में शामिल होने वाले नवजोत सिंह सिद्धू के साथ कोई समझौता नहीं हुआ है। उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘कांग्रेस अपने दम पर चुनाव जीतेगी। हम स्पष्ट बहुमत हासिल करेंगे।’ उन्होंने कहा कि लांबी से लड़ने का उनका फैसला बादल से पंजाब के लोगों को बचाने की उनकी इच्छा से प्रेरित है। उन्होंने लांबी को अपनी कर्मभूमि बताते हुए कहा कि वह वहां बादल परिवार को उसकी क्रूरता और जुल्मों के लिए सबक सिखाएंगे जो उन्होंने कथित तौर पर पिछले दस साल में पंजाब के लोगों पर किए हैं।

केजरीवाल के आरोप को ऊटपटांग बताकर खारिज करते हुए अमरिंदर ने कहा, ‘पहले उन्होंने कहा कि मुझे बादल के खिलाफ लड़ना चाहिए और अब वह कह रहे हैं कि मैं मुख्यमंत्री के खिलाफ लड़कर उनकी मदद कर रहा हूं।’ उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को चुनौती भी दी कि वह लांबी से बादल का मुकाबला करें। उन्होंने कहा, ‘केजरीवाल को अपनी स्थिति मालूम पड़ जाएगी कि वह कहां खड़े हैं।’ अमरिंदर ने कहा, ‘नवजोत सिद्धू के साथ कोई समझौता नहीं हुआ है और कांग्रेस किसी के साथ कोई समझौता नहीं करती है।’ उनसे पूछा गया था कि विधानसभा चुनाव जीतने पर पार्टी ने सिद्धू को क्या कोई अहम पद देने की पेशकश की है? उन्होंने कहा, ‘उन्होंने ऐसा कभी नहीं कहा, (सिद्धू के साथ इस संबंध में कोई बात नहीं हुई है)।’ जब पूछा गया कि क्या वह मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हैं तो अमरिंदर ने कहा, ‘ मैं नहीं जानता हूं। यह कांग्रेस अध्यक्ष का फैसला होगा।’ उन्होंने हल्के फुल्के अंदाज में कहा, ‘पूरे (चुनाव) प्रचार को मैं देख रहा हूं और फिर भी आप मुझसे यह सवाल पूछ रहे हैं।’

अमरिंदर ने कहा कि सिद्धू और उनकी खुद की भूमिका पर कांग्रेस आला कमान फैसला करेगी। उन्होंने कहा कि वह और क्रिकेटर से राजनेता बने सिद्धू पार्टी के लिए प्रचार करेंगे। वे दोनों 19 जनवरी को अमृतसर में साथ में एक रोड शो करेंगे। अमरिंदर ने दोहराया कि सिद्धू पंजाब चुनाव में कांग्रेस के लिए स्टार प्रचारक होंगे। एक सवाल के जवाब में अमरिंदर ने कहा कि कांग्रेस में सिद्धू के शामिल होने के दौरान वह नई दिल्ली में मौजूद रह सकते थे लेकिन पंजाब में प्रचार करने में व्यस्त थे। उन्होंने सिद्धू के साथ अपने मजूबत पटियाला संबंधों का हवाला देते हुए कहा कि वह उन्हें तब से जानते हैं जब वह बच्चे थे। उन्होंने स्पष्ट किया कि उनके और पूर्व क्रिकेटर के बीच में कोई तनाव नहीं है जो बिना शर्त कांग्रेस में शामिल हुए हैं। अमरिंदर ने यह भी कहा कि पूर्व भाजपा सांसद ने खुद कहा है कि वह पैदायशी कांग्रेसी हैं। उनके पिता का ताल्लुक पार्टी से था। उन्होंने कहा, ‘मैं सिद्धू के परिवार को बहुत लंबे अरसे से जानता हूं। मैं नवजोत सिद्धू को उनकी युवावस्था से देख रहा हूं जब वह पटियाला में क्रिकेट खेला करते थे। उन्होंने खुद कहा है कि कांग्रेस में उनकी घर वापसी हुई है।’

पटियाला से नामांकन दाखिल करने से पहले पत्रकारों के कई सवालों का जवाब देते हुए अमरिंदर ने कहा कि पटियाला और लांबी दोनों ही उनके लिए अहम विधानसभा सीटें हैं और दोनों सीटों पर जीत दर्ज करने पर वह सही वक्त पर यह फैसला करेंगे कि कौनसी सीट छोड़नी है। हालांकि उन्होंने साफ किया कि अगर कांग्रेस अगली सरकार बनाती है तो पटियाला का विकास उनके एजेंडे में सबसे ऊपर रहेगा। सरकार कोष आवंटित करेगी और क्षेत्र के कल्याण के लिए पटियाला विकास प्राधिकरण को पुनर्जीवित करेगी। एक सवाल के जवाब में अमरिंदर ने कहा कि उनकी पत्नी और निवर्तमान विधायक प्रणीत कौर संसदीय चुनाव लड़ेंगी जिन्होंने ‘एक-परिवार-एक-टिकट’ नियम के तहत विधानसभा चुनाव के लिए सीट छोड़ी है। पीसीसी अध्यक्ष ने पूर्व सेना प्रमुख जनरल जे जे सिंह की तरफ से गंभीर चुनौती को भी खारिज किया जो पटियाला में उनके खिलाफ मैदान में है। उन्होंने कहा, ‘सेना प्रमुख रहने … और फिर संप्रग द्वारा राज्यपाल बनाए जाने के बाद वह कह रहे हैं कि वह ऑपरेशन ब्लूस्टार की वजह से परेशान हैं।’

पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने लंबी से नामांकन पत्र दाखिल किया; कहा- “पार्टी चुनावों के लिए तैयार है”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App