ताज़ा खबर
 

MCD चुनाव में हार के साइड इफेक्ट्स: पंजाब में दो फाड़ हो सकती है AAP

गुरुवार (27 अप्रैल) को पंजाब में ये भी चर्चा होती रही कि लगभग एक दर्जन AAP विधायक एकजुट होकर एक अलग राजनीतिक मंच बनाने की तैयारी कर रहे हैं।
पंजाब में खराब प्रदर्शन की जिम्मेदारी लेते हुए आप प्रभारी संजय सिंह ने इस्तीफा दे दिया था (EXPRESS PHOTO)

दिल्ली नगर निगम चुनाव में हार का नतीजा आम आदमी पार्टी को पंजाब में भुगतना पड़ सकता है। आम आदमी पार्टी के पंजाब संयोजक गुरप्रीत सिंह घुग्गी ने आशंका जताई है कि दिल्ली की हार से हताश पार्टी के विधायकों को दूसरे पार्टी के नेता तोड़ने की कोशिश कर सकते हैं। अंग्रेजी वेबसाइट द टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक पार्टी आलाकमान को इस नाजुक मौके पर राज्य के नेतृत्व के साथ लगातार संपर्क में रहना चाहिए, ताकि सभी नेताओं को और विधायकों को एक जुट रखा जा सके।

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक गुरप्रीत सिंह घुग्गी ने कहा कि ये खतरा वास्तविक है कि कुछ पार्टियां आप विधायकों को लालच दे रही हैं। घुग्गी ने कहा कि जिस तरह से केन्द्रीय नेतृत्व स्थानीय वोलंटियर्स और नेताओं से दूरी बनाकर रख रहा है उससे लोग अलग रास्ता अख्तियार करने पर मज़बूर हो सकते हैं। घुग्गी ने कहा कि ये एक ऐसा मोड़ है जहां हमें खुद में सुधार करने की जरूरत है, इस वक्त हम ऐसी लापरवाही नहीं बरत सकते हैं। घुग्गी ने बताया कि वे इस मुद्दे को आम आदमी पार्टी की होने वाली पॉलिटिकल अफेयर कमेटी की बैठक में उठाएंगे। इस बीच गुरुवार को पंजाब की राजनीति में ये अफवाह उठती रही कि आप के दो नेता कांग्रेस से संपर्क में हैं। हालांकि जब इन नेताओं ने बात की गई तो इन्होंने ऐसे किसी आरोप से इनकार किया। इन नेताओं का कहना था कि पार्टी का आलाकमान मंथन करेगा और पार्टी की कमियों को दूर करेगा।

गुरुवार (27 अप्रैल) को पंजाब में ये भी चर्चा होती रही कि लगभग एक दर्जन AAP विधायक एक होकर एक अलग राजनीतिक मंच बनाने की तैयारी कर रहे हैं। आप के एक नेता ने नाम ना लिखने की शर्त पर बताया कि चूंकि दिल्ली में हार के बाद पार्टी का आत्मविश्वास नीचे आया है, इसलिए इस तरह की चर्चाएं चल रही हैं। बता दें कि आप ने हाल के पंजाब विधानसभा चुनाव में 20 सीटें जीती हैं। सूत्रों से ये भी खबर है कि आने वाले दिनों में पंजाब में आप में कुछ बदलाव हो सकता है। और कुछ नेताओं का पर कतरा भी जा सकता है।

MCD चुनाव नतीजे 2017: मोदी लहर ने किया कांग्रेस-आप का सफाया

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.