ताज़ा खबर
 

कांग्रेस छोड़ शिवसेना में शामिल हुईं प्रियंका चतुर्वेदी, कहा- आत्मसम्मान की वजह से छोड़ी पार्टी, राहुल को बताई थी अपनी तकलीफ

Lok Sabha Election 2019: कांग्रेस छोड़ने के बाद ने प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि उन्होंने बदसलूकी से की वजह से पार्टी छोड़ी है। उन्होंने कहा मैनें पार्टी में आत्म सम्मान की लड़ाई लड़ी और राहुल गांधी को अपनी तकलीफ भी बताई थी।

प्रियंका चतुर्वेदी ने छोड़ी कांग्रेस, शिवसेना में हुईं शामिल फोटो सोर्स- एनएआई

लोकसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। पार्टी छोड़ने के कुछ देर बाद ही वे उद्धव ठाकरे की मौजूदगी में शिवसेना में शामिल हो गईं। प्रियंका के मुताबिक जिन लोगों ने मेरे खिलाफ अभद्रता की उन्हें फिर से पार्टी में शामिल कर लिया गया और तर्क दिया गया कि अभी चुनाव में सबकी जरूरत है। उसी दिन मैंने तय कर लिया कि इस अपमान के बाद मुझे इस पार्टी से इस्तीफा दे देना चाहिए। बता दें कि इससे पहले इस्तीफा देने के लिए प्रियंका ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को एक पत्र लिखा था।

क्या बोलीं प्रियंका: कांग्रेस छोड़ शिवसेना में शामिल होने वाली प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि मैं मुंबई में ही पली बढ़ी हूं लेकिन कुछ दिनों से मुंबई से कट गई थी हालांकि अब मैं वापस यहां से जुड़ना चाहती हूं। ऐसे में मैंने लौटने का मन बनाया तो शिवसेना के अलावा कोई और संगठन समझ में नहीं आया। इस दौरान प्रियंका ने अपने साथ हुई अभद्रता का जिक्र करते हुए कहा कि आरोपियों को दोबारा वापस कांग्रेस में लेने से मुझे दुख हुआ है।

National Hindi News, 19 April 2019 LIVE Updates: दिन भर की बड़ी खबरों के यहां क्लिक करें 

कांग्रेस से टिकट नहीं मिलने पर दिया ये जवाब: प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि मथुरा से मैंने टिकट भी नहीं मांगा था। मथुरा मेरे परिवार, माता-पिता वहां से आते हैं, घर भी हैं, जुड़ाव भी हमेशा रहेगा लेकिन मैंने टिकट नहीं मांगा था। उन्होंने कहा कि आज महिला होने के नाते मैं आत्मसम्मान की बात नहीं करती हूं लेकिन दुख तब हुआ जब खुद ही पार्टी के कुछ लोगों ने टिप्पणी की। सस्पेंड करने के बाद कार्यकर्ताओं को बहाल कर दिया। एक महिला जिसने 10 साल कार्य किया, मैं दिल से सेवा भाव से कर रही थी। ये सही नहीं है, मैं टिकट के लिए आशा कर रही थी। पर कभी मेरे दिमाग में कोई डाउट नहीं था। यह कारण नहीं है, कारण महिलाओं की शक्तिकरण की बात करते हैं तो पालन भी करना चाहिए। आप घर में सैक्सुअली शोषण होता हैं, मां को आप कहते हैं तो वो मामले को दबाने के लिए कहती है तो आप क्या करेंगे?

क्या बोले उद्धव ठाकरे: प्रियंका के शिवसेना में शामिल के बाद उद्धव ठाकरे ने कहा कि पार्टी में प्रियंका का स्वागत है। पूरे देश में आप शिवसेना के लिए काम करेंगी। इसके बाद प्रियंका ने कहा कि आज अगर मैं कोई सेवा भाव से किसी पार्टी से जुड़ती हूं तो सेवा की निष्ठा से। जहां से भी उद्धव जी कहेंगे प्रचार करूंगी। अब मैं आगे की बात कर रही हूं।

राहुल, प्रियंका गांधी से बात की थी: प्रियंका ने कहा कि मैं सिर्फ यह कह सकती हूं, मैंने उनको (राहुल गांधी) बताई थी अपनी तकलीफ। मैंने कहा था कि उन्हें फिर क्यों बहाल किया जा रहा, इससे मैं फेल होती हूं, पार्टी हाई कमान को बता दिया था, वे सब जानते हैं।

विपरीत विचारधारा की पार्टी को क्यों ज्वाइन किया: प्रियंका ने कहा कि मेरा मन परिवर्तन कभी भी शिवसेना को लेकर नहीं होता है। मुंबई का होने के कारण मेरे दिल में जुड़ाव हमेशा शिवसेना से था। उन्होंने कहा कि पार्टी को मुंबई में ही नहीं देश में, यूपी में हर जगह पार्टी को मजबूती से काम करूंगी। पार्टी के जो आडियाज हैं, उसे देशभर में लेकर जाउंगी।
टिकट देने की बात से नाराज थीं?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App