पीएम मोदी का राहुल पर हमला, कहा- जिसे कुंभाराम जी और कुंभकरण के बीच अंतर नहीं पता है वो सत्ता में आकर सोएंगे ही

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पाली जिले के सुमेरपुर में सभा को संबोधित किया और कांग्रेस पर जमकर हमला किया। पीएम मोदी ने कहा कि पहले चार पीढ़ी का जवाब दो फिर चार साल का हिसाब मांगना।

पीएम नरेन्द्र मोदी, फोटो सोर्स- सोशल मीडिया

राजस्थान में 7 दिसंबर को चुनाव है और आज प्रचार प्रसार का आखिरी दिन। बता दें शाम पांच बजे के बाद प्रचार- प्रसार थम जाएगा। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पाली जिले के सुमेरपुर में सभा को संबोधित किया और कांग्रेस पर जमकर हमला किया। पीएम मोदी ने कहा कि पहले चार पीढ़ी का जवाब दो फिर चार साल का हिसाब मांगना।

क्या बोले पीएम मोदी

– पीएम मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत में रवाड़ की बात की और कहा- रवाड़ की वीरांगनाओं का शौर्य, त्याग और बलिदान का प्रतीक है। यहां के रंग-रंगीले कपड़ों की दुनिया भर में पहचान है। गुलाब हलवे की मिठास यहां के जन-जन की जुबान पर झलकती है।

– इसके बाद पीएम मोदी ने कहा कि राजस्थान में मुझे जहां-जहां जाने का मौका मिला है, वहां स्पष्ट दिख रहा है कि भारतीय जनता पार्टी को विजयी बनाने का फैसला राजस्थान की जनता ने कर लिया है। लोग एक बार फिर भाजपा की सरकार बनाने का निर्णय ले चुके हैं। मुझे सिर्फ राजस्थान नहीं जीतना है, राजस्थान का हर पोलिंग बूथ जीतना है, और हमारा मंत्र होना चाहिए ‘मेरा पोलिंग बूथ, सबसे मजबूत बूथ’। हम सभी साथी एक-एक घर पहुंचेंगे, एक-एक मतदाता से मिलेंगे और सबसे ज्यादा मतदान कराकर राजस्थान में भाजपा का विजय डंका एक बार फिर बजवाएंगे।

– कांग्रेस पर हमला करते हुए मोदी ने कहा कि जो लोग 2014 में मोदी की पराजय ढूढ़ रहे थे, मोदी के पराजित होने पर आनंद लूटना चाहते थे। देश की जनता ने उस टोली को निराश कर दिया। फिर उन्हें लगा कि शायद राजस्थान में जोर लगाया जाए तो हो जायेगा। लेकिन राजस्थान की जनता ने उनकी इस हवा को भी चकनाचूर कर दिया। हमारे देश में आजादी के बाद चुनाव जीतने के लिए जातिवाद का जहर फैलाने का काम किसने किया? ऊंच-नीच, गांव-शहर और अमीर-गरीब का भेद किसने किया? जिस कांग्रेस ने इतने पाप किए वो आपका भला कर सकती है क्या?

– मोदी का कांग्रेस पर हमला यहीं नहीं रुका और उन्होंने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस पार्टी चुनाव तो हार चुकी है, अब वो लोग इस फिराक में लगे हैं कि इस हार का ठीकरा नामदार के सिर पर ना फूटे, इसके लिए कौन-कौन से तर्क दिए जाएं।
क्या कभी किसी ने सोचा था जिस नामदार परिवार की चार-चार पीढ़ी ने देश पर राज किया हो उसको एक चाय वाला अदालत के दरवाजे पर पहुंचाएगा। ये ईमानदारी की जीत है, देश के लिए मरने-मिटने वालों और पसीना बहाने वालों की जीत है।

– राहुल गांधी पर हमला करते हुए मोदी ने कहा कि अरे जिस नामदार को अपनी पार्टी के जाट नेता कुंभाराम जी और कुंभकरण के बीच अंतर नहीं पता है वो सत्ता में आकर सोएंगे ही।

– कल सुप्रीम कोर्ट ने नामदारों के काले कारनामों का चिट्ठा खोलने का अधिकार सरकार को दे दिया है, देखते है ये लूट मचाने वाले कितना बच कर निकलते हैं। UPA के समय में देश में VVIP हेलिकॉप्टर का घोटाला हुआ। हम सरकार में आने के बाद उस घोटाले की जांच में निकले और उसमें से एक राजदार हमारे हाथ लग गया। आज अखबारों में पढ़ा होगा भारत सरकार उस राजदार को दुबई से ले आई है। अब ये राजदार राज खोलेगा तो पता नहीं बात कितनी दूर तक जाएगी।

– इसके साथ ही मोदी ने कहा कि जो जमानत पर आए उसकी इज्जत होती है क्या? जो जमानत पर आए हैं उनको राजस्थान दे सकते हैं क्या? जमानत पर छूटे हुए लोगों पर भरोसा कर सकते हैं क्या?

जगह वही बस पोस्ट बदल गई
गौरतलब है कि 2013 में राजस्थान विधानसभा के चुनावी प्रचार का समापन नरेन्द्र मोदी ने सुमेरपुर में ही किया था। आज भी चुनाव प्रचार का आखिरी दिन है और मोदी सुमेरपुर में ही हैं। आपको बता दें कि 29 नवंबर 2013 को चुनाव प्रचार के अंतिम दिन नरेन्द्र मोदी ने सुमेरपुर में सिणत तालाब के पास स्थित मैदान में चुनावी सभा में यूपीए की केन्द्र और राज्य में कांग्रेस शासित राज्यर सरकार को पानी के मुद्दे पर घेरकर जीता था। हालांकि दोनों ही हालातों में पोस्ट का फर्क है, तब मोदी जी पीएम नहीं थे और आज पीएम हैं।

 

बता दें 7 दिसंबर को राजस्थान में वोटिंग होनी है। गौरतलब है कि 199 सीटों के लिए राजस्थान में कुल 2274 प्रत्याशी मैदान में हैं। जिसमें से भाजपा ने 200 प्रत्याशी, कांग्रेस ने 195, बसपा ने 190, आम आदमी पार्टी ने 142, भावापा ने 63, रालोपा ने 58 और अरापा ने 61 कैंडिडेट मैदान में उतारे हैं। बता दें प्रदेश में 7 दिसंबर को वोटिंग होगी जबकि 11 दिसंबर को नतीजे सबके सामने होंगे।

पढें Elections 2021 समाचार (Elections News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।