ताज़ा खबर
 

Election 2019: दोबारा चुनाव लड़ने के मूड में नहीं परेश रावल! सीट के लिए बीजेपी नेताओं में होड़

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): गुजरात के अहमदाबाद पूर्व लोकसभा सीट पर उम्मीदवारी के लिए बहुत सारे बीजेपी नेताओं ने अपनी दावेदारी पेश की है। इस सीट पर 2014 में एक्टर से राजनेता बने परेश रावल ने जीत दर्ज की थी।

Author Updated: March 15, 2019 8:22 AM
बीजेपी सांसद और फिल्म अभिनेता परेश रावल लोकसभा चुनाव लड़ने के मूड में नहीं है। फोटो सोर्स- फेसबुक/परेश रावल

Lok Sabha Election 2019: गुजरात के अहमदाबाद पूर्व लोकसभा सीट पर उम्मीदवारी के लिए बहुत सारे बीजेपी नेताओं ने अपनी दावेदारी पेश की है। इस सीट पर 2014 में एक्टर से राजनेता बने परेश रावल ने जीत दर्ज की थी। बीजेपी की एक तीन सदस्यीय पर्यवेक्षक टीम गुरुवार को खानपुर स्थित पार्टी के शहर दफ्तर पहुंची। इस टीम में शंकर चौधरी, जीवराज चौहान और अस्मितबेन शिरोया शामिल थे। नेताओं ने पार्टी कैडर से यहां के लिए बीजेपी प्रत्याशी के लिए सुझाव मांगे। पूरे दिन के विचार-विमर्श और पार्टी कार्यकर्ताओं के नजरिए को समझने के बाद यह टीम अब अपनी रिपोर्ट राज्य स्तरीय पार्लियामेंट्री बोर्ड को भेजेगी। इसके बाद रिपोर्ट केंद्रीय पार्लियामेंट्री बोर्ड को भेजा जाएगा ताकि पार्टी प्रत्याशी के नाम पर आखिरी मुहर लग सके। बता दें कि बीजेपी ने गुजरात की सभी 26 सीटों के लिए 3-3 पर्यवेक्षकों की टीम तैयार की है। ये टीम संसदीय इलाके में जाकर पार्टी वर्करों से बैठक करके प्रत्याशियों के नाम छांटेगी।

बीजेपी के अंदरखाने से ये खबर आ रही है कि रावल दोबारा चुनाव लड़ने के इच्छुक नहीं हैं और उन्होंने अपनी मंशा से पार्टी हाईकमान को अवगत करा दिया है। बता दें कि आम चुनाव 2014 में रावल ने कांग्रेसी हिम्मत सिंह पटेल को सवा 3 लाख से ज्यादा वोटों से शिकस्त दी थी। सूत्रों का कहना है कि अहमदाबाद पूर्व सीट के लिए जिन लोगों ने अपनी दावेदारी पेश की है, उनमें फिल्म और थिएटर एक्टर मनोज जोशी, पार्टी प्रवक्ता भारत पंड्या, पूर्व विधायक भूषण भट्ट, पूर्व अहमदाबाद मेयर भावनाबेन दवे और असित वोरा, पूर्व केंद्रीय मंत्री हरिन पाठक, राज्य के पूर्व मंत्री निर्मला वाधवानी, पूर्व विधायक जगरूसिंह राजपूत, अहमदाबाद शहर बीजेपी प्रमुख जगदीश पांचाल और पार्टी के नेता महेश कसवाला आदि शामिल हैं।

पार्टी कार्यकर्ताओं की राय लेने के बाद शंकर चौधरी ने मीडियावालों से कहा कि संसदीय क्षेत्र के सभी 7 विधानसभा से 40-42 लोगों की दावेदारी सामने आई है। हालांकि, उन्होंने दावेदारों के नाम का खुलासा नहीं किया। बता दें कि अहमदाबाद पूर्व बेहद प्रतिष्ठित लोकसभा सीट है, जहां से बीजेपी के कई नेता इस बार चुनाव लड़ना चाह रहे हैं। कुछ अन्य सीटें भी हैं, जिन पर कैंडिडेट तय करना बीजेपी के लिए आसान नहीं होगा। ये सीटें हैं, अहमदाबाद पश्चिम, गांधीनगर, जामनगर, मेहसाणा आदि। अहमदाबाद पश्चिम सीट अनुसूचित जाति के रिजर्व है। विपक्षी कांग्रेस ने इस सीट पर राजू परमार को प्रत्याशी बनाया है। इस तरह की चर्चाएं हैं कि बीजेपी यहां इस बार अपने वर्तमान सांसद किरीट सोलंकी को दोबारा मौका नहीं देगी और पार्टी के वरिष्ठ दलित नेता रमनलाल वोरा को मौका देगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Lok Sabha Election 2019: यूपी में नदियों के रास्ते चुनाव प्रचार के लिए निकलेंगी प्रियंका! पिछड़ों को साधने के लिए बनाया यह प्लान
2 Lok Sabha Election 2019: भाजपा में टिकट को लेकर खींचतान शुरू
3 Lok Sabha Election 2019: अपने गढ़ से लड़ने का मौका कम