ताज़ा खबर
 

EVM- VVPAT विवाद पर चुनाव आयोग ऑफिस के बाहर प्रदर्शन, कांग्रेस नेता उदित राज ने सुप्रीम कोर्ट पर उठाया सवाल

कांग्रेस नेता उदित राज ने ईवीएम और वीवीपैट मामले में सुप्रीम कोर्ट पर ही सवाल उठाए हैं। राज ने कहा- 'सुप्रीम कोर्ट क्यों नहीं चाहता की VVPAT की सारी पर्चियों को गिना जाए क्या वो भी धाँधली में शामिल है।

प्रतीकात्मक फोटो, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

2019 लोकसभा चुनाव के नतीजे 23 मई को आएंगे। लेकिन चुनाव नतीजे के पहले सामने आए एग्जिट पोल्स के बाद से विपक्ष के तीखे तेवर नजर आ रहे हैं। ऐसे में बुधवार (22 मई) विपक्षी दलों ने चुनाव आयोग के ऑफिस के बाहर भी प्रदर्शन किया है। बता दें कि इसके साथ ही कांग्रेस नेता उदित राज ने चुनाव आयोग के साथ सुप्रीम कोर्ट पर ही सवाल उठाए हैं। कांग्रेस नेता उदित राज ने कहा- ‘सुप्रीम कोर्ट क्यों नहीं चाहता की VVPAT की सारी पर्चियों को गिना जाए क्या वो भी धाँधली में शामिल है।चुनावी प्रक्रिया में जब लगभग तीन महीने से सारे सरकारी काम मंद पड़ा हुआ है तो गिनती में दो- तीन दिन लग जाए तो क्या फ़र्क़ पड़ता है।’

उदित राज ने सुप्रीम कोर्ट पर उठाया सवाल: वहीं इसके पहले एक और ट्वीट करते हुए उदित राज ने लिखा था- ‘BJP को जहां-जहां EVM बदलनी थी बदल ली होगी इसीलिए तो चुनाव सात चरणों मे कराया गया। और आप की कोई नहीं सुनेगा चिल्लाते रहिए, लिखने से कुछ नहीं होगा, रोड पर आना पड़ेगा। अगर देश को इन अंग्रेजो के गुलामों से बचाना है तो आन्दोलन करना पड़ेगा साहब, चुनाव आयोग बिक चुका है।’

National Hindi News, 22 May 2019 LIVE Updates: दिनभर की हर खबर सिर्फ एक क्लिक में

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की याचिका: गौरतलब है कि मंगलवार (21 मई) को सुप्रीम कोर्ट ने वीवीपैट के ईवीएम से 100 फीसदी मिलान की मांग वाली याचिका को ही खारिज कर दिया था। इसके साथ ही शीर्ष अदालत ने याचियों को फटकार लगाते हुए कहा था कि ऐसी अर्जियों को बार-बार नहीं सुना जा सकता।

स्ट्रॉग रूम पहुंचे प्रत्याशी: दरअसल ईवीएम को लेकर विपक्ष किसी भी तरह से कोई ढील देता नहीं दिख रहा है। ऐसे में कुछ प्रत्याशी सुरक्षा का जायजा लेने के लिए स्ट्रॉंग रूम भी पहुंचे। इन प्रत्याशियों में मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से दिग्विजय सिंह शामिल हैं। वहीं मेरठ और बिहार के वैशाली से भी विपक्ष के प्रत्याशी स्ट्रॉंग रूम पहुंचे।

मुख्तार अब्बास नकवी: केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने ईवीएम पर विपक्ष के हमले को रंगबाजी बताया और कहा- ‘ईवीएम विलापमंडली सिर्फ ड्रामा कर रही है और उनकी रंगबाजी जारी है। ऐसे में पहले भी विपक्ष कई बार इस मामले पर बात कर चुका है लेकिन उनके पास कोई भी तर्क नहीं रहा।’

 

पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा- सेफ है मशीन: पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने ईवीएम के बारे में कहा – ‘ये एक दम सेफ है और किसी भी तरह से इसे हैक करना संभव नहीं है। चूंकि न इसमें ब्लूटूथ है, न ही इंटरनेट और न ही वाईफाई है। यहां तक कि इसमें बिजली के लिए भी तार का नहीं बल्कि बैट्री का इस्तेमाल किया जाता है। ऐसे में जब किसी भी तरह से यह किसी से कनेक्ट नहीं है तो इसे हैक करना संभव नहीं है।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 EVM की रक्षा में तैनात सियासी पार्टियों के समर्थक अंताक्षरी खेलकर समय बिता रहे हैं
2 Kannauj: EVM की सुरक्षा में सेंध, बिना चेकिंग के स्ट्रॉन्ग रूम तक पहुंच गई कार, भड़के DM ने सब-इंस्पेक्टर को फटकारा
3 Loksabha Election 2019: मोदी सरकार को रोकने को पसीना बहा रहा विपक्ष, लेकिन शरद पवार अलग तरह से कर रहे राजनीतिक गोलबंदी