ताज़ा खबर
 

VIDEO: चुनावी डिबेट में शायरी से जंग, मुन्नवर राणा पर दिया फैज अहमद फैज से जवाब

सोमवार को गुजरात और हिमाचल के नतीजों पर डिबेट हो रही थी। पत्रकार अर्नब गोस्वामी इसे मॉडरेट कर रहे थे। उनके साथ पीएमओ के राज्य मंत्री जीतेंद्र सिंह और सपा में पूर्व मंत्री रहे नावेद सिद्दीकी मौजूद थे।

गुजरात और हिमाचल प्रदेश चुनाव के नतीजों पर सोमवार को रिपब्लिक चैनल पर डिबेट हुई। एंकर अर्नब गोस्वामी के साथ इसमें पीएमओ के राज्य मंत्री जीतेंद्र सिंह और सपा सरकार में पूर्व मंत्री नावेद सिद्दीकी शायराना अंदाज में नजर आए।

गुजरात-हिमाचल प्रदेश चुनाव के नतीजे सोमवार को आए हैं। दोनों ही राज्यों में एकतरफा बढ़त के साथ कमल खिला है। भाजपा की जीत के पीछे क्या वजह रही, यह दिन भर चर्चा का विषय रहा। टीवी चैनलों पर डिबेट में विशेषज्ञों ने इस पर अपनी राय दी। चुनावी नतीजों पर इसी बीच एक डिबेट शायराना डिबेट भी देखने को मिली। पैनलिस्ट इसमें एक दूजे को शेरो-शायरी के जरिए जवाब दे रहे थे। इधर से एक शेर पूरा होता, तो उधर से जवाबी शायरी हाजिर हो जाती। एंकर भी इस दौरान शेर का आनंद उठाते दिखे। यह वाकया अंग्रेजी चैनल द रिपब्लिक से जुड़ा हुआ है। सोमवार को दोनों राज्यों को चुनावी नतीजों को लेकर इस पर डिबेट हो रही थी। टीवी पत्रकार अर्नब गोस्वामी इसे मॉडरेट कर रहे थे। कार्यक्रम में उनके साथ पीएमओ के राज्य मंत्री जीतेंद्र सिंह और सपा सरकार में मंत्री रहे नावेद सिद्दीकी मौजूद थे।

डिबेट की शुरुआत में अर्नब ने सिद्दीकी को बोलने का मौका दिया। उन्होंने मशहूर शायर मुन्नर राणा का शेर पढ़ कर अपनी बात कही। बोले, “बुलंदी देर तक किस शख्स के हिस्से में रहती है। बहुत ऊंची इमारत हर घड़ी खतरे में रहती है। आज जिसे आप मैन आप मैन ऑफ द मैच कह रहे हैं, वह कहीं न कहीं इस वक्त चिंता में है, क्योंकि 2019 में फाइनल है।

यहां देखें गुजरात विधानसभा चुनाव के सीटवार नतीजे

जीतेंद्र भी इस पर शेर के जरिए सिद्दीकी को जवाब देते हैं। वह फैज अहमद फैज की शायरी पढ़ते हुए कहते हैं, “वह बात सारे फसाने में जिसका जिक्र न था, वह बात उनको बहुत नागवार गुजरी है।” सिद्दीकी इस फिर से एक शेर फर्माते हैं। सुनिए उन्होंने कौन सा शेर सुनाया और आगे कैसे अर्णब ने उस पर आनंद लिया-

यहां देखें हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के सीटवार नतीजे 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App