ताज़ा खबर
 

CM ने दी NDA छोड़ने की धमकी- संसद से पास हुआ नागरिकता बिल तो हमारे रास्ते जुदा

नागरिकता संशोधन विधेयक पर केंद्र सरकार के कदम का पूर्वोत्‍तर क्षेत्र के कई संगठन और राजनीतिक दल विरोध कर रहे हैं।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ मेघालय के मुख्यमंत्री कोरनाड संगमा हाथ मिलाते हुए। (फाइल फोटो)

केंद्र में सत्ताधारी एनडीए गठबंधन से एक और सहयोगी दल ने अलग होने की धमकी दी है। नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) के अध्यक्ष एवं मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड के संगमा ने धमकी दी है कि अगर यह विधेयक राज्यसभा में पारित होता है तो उनकी पार्टी केंद्र में सत्तारूढ़ राजग से अलग हो जाएगी। पूर्वोत्तर राज्यों में नागरिकता विधेयक का बड़े पैमाने पर हो रहे विरोध के बीच संगमा ने कहा कि एनपीपी की शनिवार (09 फरवरी) को हुई महासभा में इस आशय का एक प्रस्ताव पारित किया गया। उन्होंने बताया कि एनपीपी मेघालय के अलावा अरूणाचल प्रदेश, मणिपुर और नगालैंड की सरकारों को समर्थन दे रही है।

महासभा में इन चारों पूर्वोत्तर राज्यों के पार्टी नेता मौजूद थे। संगमा ने बैठक के बाद संवाददाताओं को बताया, ‘‘पार्टी ने एकमत से एक प्रस्ताव अपनाया है जिसमें नागरिकता संशोधन विधेयक 2016 का विरोध करने का निर्णय किया गया है। अगर यह विधेयक राज्यसभा से पारित हो जाता है तो एनपीपी एनडीए के साथ अपना गठबंधन तोड़ देगा।’’ उन्होंने कहा कि यह निर्णय आज महासभा में किया गया। बता दें कि यह विधेयक संसद के शीतकालीन सत्र में 8 जनवरी को लोकसभा से पारित हो चुका है और सरकार को इस सत्र में राज्यसभा की मंजूरी मिलने की उम्मीद है।

दरअसल, नागरिकता संशोधन विधेयक पर केंद्र सरकार के कदम का पूर्वोत्‍तर क्षेत्र के कई संगठन और राजनीतिक दल विरोध कर रहे हैं। कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, सपा, शिवसेना और असम गण परिषद ने आरोप लगाया है कि भाजपा सरकार द्वारा लाया गया बिल असम की क्षेत्रीयता, संस्कृति एवं अस्मिता का उल्लंघन करने वाला है। यह विधेयक नागरिकता कानून 1955 में संशोधन के लिए लाया गया है। इस विधेयक के कानून बनने के बाद, अफगानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान के हिन्दू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई धर्म मानने वाले अल्पसंख्यक समुदायों को 12 साल के बजाय सात साल भारत में गुजारने पर और बिना उचित दस्तावेजों के भी भारतीय नागरिकता मिल सकेगी। राजनीतिक दलों ने इसे मुस्लिमों के साथ भेदभाव करने वाला बिल बताया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 भाजपाई आपसी मतेभद भुलाएं, मोदीजी को दोबारा पीएम बनाएं, शाह की मौजूदगी में बोले पर्रिकर
2 रिपोर्ट: PM मोदी ने रोजगार पर फिर किए लंबे-चौड़े दावे, पर ऐसे की गई आंकड़ों की बाजीगरी
3 मूर्ति विवाद के बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने किया हिंदू राजा की प्रतिमा का अनावरण, जानें कौन थे महाराजा बीर बिक्रम माणिक्य