ताज़ा खबर
 

Loksabha Election 2019: बीजेपी सांसद ने राजीव गांधी को बताया सबसे क्रूर, कहा- गोडसे ने एक मारा, कसाब ने 72 और राजीव ने 17000 मारे

बीजेपी सांसद ने गोडसे की तुलना पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी से की है।उन्होंने कहा राजीव गांधी को सबसे क्रूर करार दिया है। कटील ने कहा 'गोडसे ने एक को मारा, कसाब (आतंकवादी) ने 72 को लेकिन राजीव गांधी ने 17000 लोगों को मारा।

बीजेपी सांसद नलिन कुमार कटील। (फोटो: इंडियन एक्सप्रेस)

Loksabha Election 2019: साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बाद बीजेपी सांसद नलिन कुमार कटील ने महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे पर बड़ा बयान दिया है। बीजेपी सांसद ने गोडसे की तुलना पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी से की है।

उन्होंने राजीव गांधी को सबसे क्रूर करार दिया है। कटील ने कहा ‘गोडसे ने एक को मारा, कसाब (आतंकवादी) ने 72 को लेकिन राजीव गांधी ने 17000 लोगों को मारा। आप खुद ही अंदाजा लगा सकते हैं कौन ज्यादा क्रूर है।

कटील कर्नाटक से बीजेपी के सांसद हैं। वह दक्षिण कन्नड़ से चुनाव लड़ रहे हैं। बता दें कि बीजेपी 1984 सिख दंगों पर कांग्रेस पार्टी को लगातार टारगेट कर रही है। इंदिरा गांधी की हत्या उनकी सुरक्षा में तैनात सिख बॉडीगार्ड ने की थी। जिसके बाद तीन दिन तक दंगे भड़के और करीब 3000 लोग मारे गए।

बता दें कि साध्वी प्रज्ञा ने कहा है कि गोडसे देशभक्त थे, हैं और हमेशा रहेंगे। बता दें कि नाथूराम गोडसे ने 1948 में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या की थी। उनके इस बयान के बाद सियासी पारा चढ़ चुका है। हालांकि साध्वी प्रज्ञा ने अपने बयान पर माफी मांग ली है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘मैं नाथूराम गोडसे पर दिए अपने बयान के लिए देश की जनता से माफी मांगती हूं। मेरा बयान बिल्कुल गलत था। मैं राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का बेहद सम्मान करती हूं।’ वहीं केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार ने साध्वी प्रज्ञा का साथ देते हुए कहा कि नाथूराम गोडसे के खिलाफ नजरिया बदलने की जरूरत है और साध्वी को माफी मांगने की जरूरत नहीं।

कमल हासन ने कहा था गोडसे को पहला ‘हिंदू आतंकवादी’

कमल हासन ने गोडसे को पहला ‘हिंदू आतंकवादी’ करार दिया है। हसन ने अरावाकुरुची विधानसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार के दौरान कहा था कि ‘आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिन्दू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे है। वहीं से इसकी (आतंकवाद) शुरुआत हुई।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App