ताज़ा खबर
 

मोदी- शाह राम और हनुमान जैसे, कांग्रेस है धोखेबाज पार्टी: शिवराज सिंह चौहान बोले

Jharkhand Assembly Election 2019: मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक पारित होने पर प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को धन्यवाद भी दिया है। शिवराज बोले, ‘मोदी जी राम हैं, अमित शाह जी हनुमान और रघुवर दास जी नल-नील हैं जो झारखंड के विकास के लिए संकल्पित हैं।’

Author मांडू/बड़कागांव/रामगढ़ | Updated: December 11, 2019 4:43 PM
पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

Jharkhand Assembly Election 2019: भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार (11 दिसंबर) को कहा कि कांग्रेस एक धोखेबाज पार्टी है और वह भरोसे के लायक नहीं है। शिवराज ने कहा कि इस पार्टी ने चंद्रशेखर, एच डी देवगौड़ा और इंद्र कुमार गुजराल को प्रधानमंत्री तो बनाया, लेकिन कुछ समय बाद सभी की सरकारें गिरा दीं और किसी को अपना कार्यकाल पूरा नहीं करने दिया। बता दें कि चौहान ने झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में बुधवार को विभिन्न जगहों पर सभाओं को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने यह बात कही है।

कांग्रेस को बताया बर्बादी वाली पार्टीः शिवराज सिंह चौहान ने कहा, ‘कांग्रेस पहले बनाती है और फिर खुद ही बर्बाद करती है। झारखंड के विकास के लिए हमें एक स्थिर सरकार चाहिए। राम राज चाहिए और यह सिर्फ भारतीय जनता पार्टी ही दे सकती है।’ भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने कहा आगे कहा, ‘कहीं की ईंट कहीं का रोड़ा, भानुमति ने कुनबा जोड़ा, उसमें से निकले मधु कोड़ा, भ्रष्टाचार का रिकॉर्ड तोड़ा, झारखंड को कहीं का नहीं छोड़ा, विकास के रास्ते में बन गए रोड़ा।’

Hindi News Today, 11 December 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

झारखंड को चाहिए स्थिर सरकार- चौहानः चौहान ने कहा कि झारखंड को गठबंधन वाले लूट-लूटकर खा गए हैं। ये लोग झारखंड का विकास नहीं कर सकते। यह इस प्रदेश का दुर्भाग्य रहा कि इसे कोई स्थिर सरकार नहीं मिली, लेकिन रघुवर दास जबसे मुख्यमंत्री बने हैं, तबसे विकास का एक नया इतिहास शुरू हुआ है।

चौहान- पूर्व पीएम वाजपेयी ने बनाया झारखंडः चौहान ने कहा, ‘मैं पूरे विश्वास से कहता हूं कि झारखंड में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनेगी और झारखंड का ऐसा विकास करेगी कि लोग देखते रह जाएंगे।’ उन्होंने यह भी कहा कि यह विधायक चुनने का चुनाव नहीं है, बल्कि झारखंड का भाग्य और भविष्य बनाने का चुनाव है। चौहान ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. माननीय अटल बिहारी वाजपेयी ने जनता की मांग को पूरा कर झारखंड राज्य बनाया और रघुवर दास ने उसका चहुंमुखी विकास किया। ये गठबंधन वाले झारखंड का विकास नहीं कर सकते हैं।

बीजेपी ने आदिवासियों को दिया अनाज और जमीनः मामले में बयान देते हुए शिवराज बोले, ‘मोदी जी राम हैं, अमित शाह जी हनुमान और रघुवर दास जी नल-नील हैं जो झारखंड के विकास के लिए संकल्पित हैं।’ भाजपा नेता ने कहा कि धरती के प्राकृतिक संसाधनों पर गरीब आदिवासियों को बराबरी का हक दिलाने के लिए भाजपा ने गरीब आदिवासी परिवारों को सस्ता अनाज और रहने के लिए जमीन का मालिक बनाकर मकान बनाने की व्यवस्था की है।

कैब के लिए मोदी-शाह का किया धन्यवादः मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक पारित होने पर प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को धन्यवाद भी दिया है। धन्यवाद देते हुए कहा कि जल्द ही यह बिल राज्यसभा में भी पास हो जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि इस बिल के पास होने से अब पड़ोसी देश से आए किसी भी पीड़ित हिन्दू को जबरदस्ती वापस नहीं भेजा जाएगा।

नेहरू के गलती को मोदी-शाह ने सुधारा- शिवराजः इस पर बोलते हुए चौहान ने कहा, ‘हमारा शुरू से मानना है कि एक देश में दो विधान, दो निशान, दो प्रधान नहीं हो सकते। कश्मीर विलय का मामला नेहरू जी के हाथों में था, जिसका खामियाजा देश के लोग आज तक भुगत रहे थे। लेकिन प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने घाटी से अनुच्छेद 370 समाप्त कर इस गलती को सुधारा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Jharkhand Elections: सरयू राय समेत 20 नेताओं पर 6 साल का बैन, BJP ने बागी नेताओं के खिलाफ लिया कड़ा फैसला
2 Jharkhand Election: दूसरे चरण के रण में दांव पर दिग्गजों की किस्मत, CM रघुबर दास के सामने मैदान में सरयू राय और गौरव वल्लभ
3 Jharkhand Elections: जहां हुई थी तबरेज अंसारी की लिंचिंग, वहां जाने से कतराती हैं पार्टियां; पत्नीं बोली- शायद यहां मुस्लिम वोट निर्णायक भूमिका में नहीं
ये पढ़ा क्‍या!
X