ताज़ा खबर
 

Madhya Pradesh Elections 2018: पोलिंग बूथ में प्रचार सामग्री के साथ पकड़े गए बीजेपी कार्यकर्ता! एक हिरासत में

Madhya Pradesh (MP) Election/Chunav 2018: मध्य प्रदेश में कुछ जगहों पर ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतें भी मिली हैं।100 पोलिंग बूथ से ईवीएम में खराबी की सूचना हैं। हालांकि, चुनाव आयोग ने बताया है कि खराबी के आधे घंटे के भीतर मशीनें बदली जा चुकी हैं। ग्वालियर में अपना वोट डाल चुके कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इस घटना पर चिंता जाहिर की है।

Madhya Pradesh Election 2018: प्रचार समाग्री के साथ पकड़ा गया बीजेपी का पोलिंग एजेंट (फोटो सोर्स- ANI ट्वीटर हैंडल)

 Madhya Pradesh (MP) Election/Chunav 2018: मध्य प्रदेश की 230 सीटों के लिए मतदान जारी है। लेकिन, इस दौरान कुछ जगहों से मतदान प्रक्रिया को प्रभावित करने वाली खबरें भी आ रही हैं। ANI के मुताबिक पुलिस ने भोपाल में बीजेपी के पोलिंग एजेंट के पास से प्रचार सामग्री बरामद की है। सेंट मैरी बूथ पर मतदान के दौरान बीजेपी के कार्यकर्ता के पास से प्रचार सामग्री बरामद की गयी। यह सामग्री पोलिंग बूथ के 200 मीटर के दायरे में थी। फिलहाल पुलिस ने बीजेपी के एक पोलिंग एजेंट को हिरासत में लिया है।

शुरुआती घंटों में 6 फीसदी तक वोटिंग की खबर है। वहीं, कुछ जगहों पर ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतें भी मिली हैं। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी बी.एल कांताराव ने बताया है कि 100 पोलिंग बूथ से ईवीएम में खराबी की शिकायतें मिली हैं। जिसके बाद आधे घंटे के भीतर उन्हें बदल दिया गया है। वहीं, इस घटना पर अपना वोट डाल चुके कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि ईवीएम में खराबी चिंता का विषय है। हमने राज्य चुनाव आयुक्त और केंद्रीय चुनाव आयुक्त के पास शिकायत भेजी है। उन्होंने बताया कि कांग्रेस ने जिन जगहों पर मशीने खराब हुई हैं। उन्हें बदलने के बाद वहां चुनाव की अवधि बढ़ाने की मांग की है। सिंधिया ने अपना वोट ग्वालियर में डाला।

मध्य प्रदेश के इस सियासी संग्राम में कुल 2, 907 प्रत्याशी अपना भाग्य आजमा रहे हैं। लड़ाई मुख्य रूप से बीजेपी बनाम कांग्रेस की है। लेकिन, कई इलाकों में बीएसपी और एसपी अहम भूमिका में हैं। सीएम शिवराज सिंह चौहान समेत कई दिग्गजों की किस्मत आज ईवीएम में कैद हो रही है। कई नेताओं की साख दांव पर लगी है। वहीं, कांग्रेस के कई बड़े नेता चुनाव में हिस्सा नहीं ले रहे हैं। लेकिन, पार्टी को जीताने के लिए पूरी ताकत झोंके हुए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App