ताज़ा खबर
 

मोदी के भारत में EVM के पास हैं रहस्यमयी शक्तियां, सतर्क रहें कांग्रेस कार्यकर्ता: राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार में वोटिंग मशीनों के भीतर 'रहस्यमयी शक्तियां' आ गई हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश में ईवीएम के साथ कथित छेड़छाड़ के प्रयास की शिकायतों संबंधी खबरों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने तंज कसते हुए ट्वीट में लिखा कि इस सरकार में वोटिंग मशीनों के भीतर ‘रहस्यमयी शक्तियां’ आ गई हैं। राहुल गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि तेलंगाना और राजस्थान में मतदान हो चुका है, इसलिए वे ईवीएम से छेड़छाड़ के प्रति सतर्क रहें।

राहुल ने ट्वीट कर कहा, “कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता आज समाप्त हुए चुनावों के बाद सतर्क रहें। मध्यप्रदेश में मतदान समाप्त होने के बाद ईवीएम ने अजीब तरीके से व्यवहार किया। कुछ लोगों ने एक बस चुरा ली और दो दिनों के लिए गायब हो गए, वे एक होटल में ड्रिंक करते पाए गए।” कांग्रेस प्रमुख ने मध्यप्रदेश के सागर की एक घटना का जिक्र किया, जहां बिना पंजीकरण नंबर वाले वाहन से ईवीएम को ले जाया गया और मतदान समाप्त होने के 48 घंटे बाद ईवीएम को कलेक्शन सेंटर पहुंचाया गया।

दरअसल, मध्य प्रदेश में कांग्रेस के नेताओं ने आरोप लगाया है कि खुरई तथा कुछ अन्य चुनिंदा स्थानों पर ईवीएम मतदान के दो दिन बाद स्ट्रांग रूम तक पहुंचाई गईं तथा एक जगह होटल के कमरे में ईवीएम रखी गई थी। राहुल गांधी ने इन्हीं खबरों का उल्लेख करते हुए शुक्रवार को ट्वीट किया। कांग्रेस प्रमुख ने मध्यप्रदेश के सागर की एक घटना का जिक्र किया, जहां बिना पंजीकरण नंबर वाले वाहन से ईवीएम को ले जाया गया और मतदान समाप्त होने के 48 घंटे बाद ईवीएम को कलेक्शन सेंटर पहुंच गया।

एक अन्य घटना में, दो मतदान अधिकारी भारतीय जनता पार्टी के एक कार्यकर्ता के होटल के अंदर ईवीएम के साथ शराब पीते पाए गए थे। कांग्रेस ने इस बाबत मंगलवार को निर्वाचन आयोग में इस घटना के संबंध में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में 28 नवंबर को मतदान संपन्न हुआ था। चुनाव के नतीजे 11 दिसंबर को आएंगे।

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में ईवीएम मुद्दे को लेकर कांग्रेस नेताओं की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने कहा है कि आयोग की रिपोर्ट से स्पष्ट है कि स्ट्रांग रूम की सुरक्षा के लिए सेंट्रल आर्म्ड मिलिट्री फोर्स का त्रिस्तरीय सुरक्षा घेरा बनाया गया है। मतदान वाली सभी ईवीएम मशीनें कड़े सुरक्षा घेरे में सुरक्षित रखी हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App