ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी सरकार के मंत्री ने विपक्षी एकता को बताया ‘ठगबंधन’, बोले- अपना भार नहीं संभाल पाएगा भानुमति का कुनबा

बिहार में 40 सीटों पर राजग की स्थिति बेहद मजबूत है और आने वाले चुनाव में बड़ी जीत दर्ज करेंगे

Author December 20, 2018 6:00 PM
केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे। एक्‍सप्रेस आर्काइव

विपक्ष के महागठबंधन को ‘ठगबंधन’ की संज्ञा देते हुए केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने बृहस्पतिवार को कहा कि वैचारिक रूप से परस्पर विरोधी मत रखने वाले दलों का यह गठबंधन वास्तविकता से परे है। भानुमति का यह कुनबा अपना भार नहीं संभाल पाएगा। उन्होंने इस बात पर जोर देते हुए कहा कि भाजपा नीत राजग 2019 लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में बड़े बहुमत से जीत दर्ज करेगी। उन्होंने इस बात पर भी बल दिया कि भाजपा सबका साथ, सबका विकास के मंत्र के साथ काम करती है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश प्रगति के पथ पर तेजी से आगे बढ़ रहा है जितना विकास पिछले साढ़े चार साल में हुआ है उतना पिछले 55-60 वर्षों के कांग्रेस के शासनकाल में नहीं हो सका है।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा कि कोई महागठबंधन जैसी बात नहीं है। वर्षों तक इन दलों ने जनता को ठगने का काम किया और अब अपने अस्तित्व को बचाने के लिये महागठबंधन की बात कर रहे हैं।

चौबे ने कहा कि वास्तव में इनका मकसद जनता को भ्रमित करना है। ये महागठबंधन भानुमति के कुनबे की तरह है। आने वाले दिनों में स्थिति सबके सामने स्पष्ट हो जायेगी। महागठबंधन एक भ्रम है, छलावा है। राजग गठबंधन से उपेन्द्र कुशवाहा की रालोसपा के अलग होने तथा शिवसेना एवं लोजपा के कड़े तेवर के बारे में पूछे जाने पर चौबे ने कहा कि राजग में कोई टूट नहीं है। राजग सशक्त और एकजुट है। यह पहले से मजबूत हुआ है। राजग में सभी सहयोगी अपनी बात रख सकते हैं यही इसकी खूबसूरती है।

उन्होंने कहा कि बिहार में 40 सीटों पर राजग की स्थिति बेहद मजबूत है और आने वाले चुनाव में बड़ी जीत दर्ज करेंगे। अश्विनी चौबे ने कहा कि कुशवाहा राजग में थे। वे सरकार में मंत्री भी रहे, सत्ता का सुख भोगा और अब वे अलग हो गए है। कुशवाहा कहां जायेंगे, यह बात वही बता सकते हैं और उनका भाग्य जनता तय करेगी। उन्होंने कहा कि रामविलास पासवान की पार्टी लोजपा हमारे साथ है और आगे भी साथ रहेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App