ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: मायावती ने अटकलों पर लगाया विराम, कहा- किसी भी राज्या में कांग्रेस से गठबंधन नहीं

बसपा सुप्रीमो मायावती ने एक बार फिस साफ कर दिया है कि कई पार्टियां उनकी पार्टी के साथ गठबंधन करना चाहती हैं लेकिन बसपा और कांग्रेस का गठबंधन नहीं होगा।

मायावती, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

2019 लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही राजनीति में बयानों का सिलसिला तेज हो गया है। ऐसे में बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने आज एक बार फिर साफ कर दिया कि उनकी पार्टी किसी भी राज्य में कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करेगी। गौरतलब है कि काफी वक्त से ये कयास लगाए जा रहे थे कि बसपा- कांग्रेस के कुछ राज्यों में गठबंधन कर सकते हैं।

क्या बोलीं मायावती: बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और मध्य प्रदेश में बसपा और सपा (समाजवादी पार्टी) के बीच गठबंधन हुआ है। जबकि हरियाणा और पंजाब में राज्य की स्थानीय पार्टी के साथ समझौता तय है। इसके साथ ही मायावती ने कहा कि बसपा के साथ गठबंधन के लिए कई पार्टियां आतुर हैं लेकिन चुनावी हित के लिए हम ऐसा कोई काम नहीं करेंगे जो बसपा के हित के लिए बेहतर न हो।

सभी कयासों पर मायावती ने लगाया विराम: दरअसल मध्य प्रदेश, राजस्थान और बिहार में ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि मायावती की पार्टी बसपा कांग्रेस के साथ गठबंधन कर सकती है लेकिन मायावती ने इन सभी कयासों पर पूर्ण विराम लगा दिया है।

यूपी में 37-38 सीटों पर सपा- बसपा गठबंधन: गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में बसपा ने सपा के साथ 38-37 सीटों पर गठबंधन किया है। वहीं मथुरा, मुजफ्फरनगर और बागपत की सीटें रालोद को दे दी गई हैं। वहीं इस गठबंधन ने दो सीटों पर अपना उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया है। इन दो सीटों में रायबरेली और अमेठी शामिल है। बता दें कि रायबरेली से सोनिया गांधी और अमेठी से राहुल गांधी चुनावी मैदान में उतरेंगे।

 

मध्य प्रदेश में 26 सीटों पर बसपा के उम्मीदवार: एमपी में महज तीन सीटों पर सपा अपने उम्मीदवार उतारेगी जबकि 26 सीटों पर बसपा चुनाव लड़ेगी। बता दें कि सपा खजुराहो, टीकमगढ़ और बालाघाट से चुनाव लड़ेगी। वहीं उत्तराखंड में सिर्फ एक सीट पौड़ी गढ़वाल पर सपा चुनाव लड़ेगी जबकि बाकी चार सीटों पर बसपा मैदान में उतरेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App