ताज़ा खबर
 

Air Stirke पर बोले महाराष्ट्र के सीएम- विपक्षी नेताओं को रॉकेट से बांधकर भेज देते बालाकोट, अपनी आंखों से देख लेते सबूत

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): बालाकोट एयर स्ट्राइक के सबूत मांगने वालों पर महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जो लोग सबूत मांग रहे हैं, उन्हें रॉकेट से बांधकर बालाकोट भेज देना चाहिए था।

महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस। फोटो सोर्स : इंडियन एक्सप्रेस

Lok Sabha Election 2019: बालाकोट एयर स्ट्राइक के सबूत मांगने वालों के खिलाफ महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस सोमवार (22 अप्रैल) को जमकर हमला बोला। उन्होंने विपक्ष को ‘महाखिचड़ी’ करार देते हुए कहा कि जो नेता बालाकोट एयर स्ट्राइक के सबूत मांग रहे हैं, उन्हें रॉकेट से बांधकर पाकिस्तान भेज देना चाहिए था। वे अपनी आंखों से वहां का हाल देख लेते। बता दें कि फडणवीस की मंत्री पंकजा मुंडे ने भी पिछले हफ्ते ऐसी ही टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि राहुल गांधी को बम से बांधकर दूसरे देश भेज देना चाहिए।

विरार में एक जनसभा को संबोधित करते फडणवीस ने उन विपक्षी नेताओं पर निशाना साधा, जो बालाकोट एयर स्ट्राइक के सबूत मांगते हैं। फडणवीस ने कहा, ‘‘इस महाखिचड़ी के बारे में कोई क्या कह सकता है? पुलवामा आतंकी हमले का जवाब देने वाले सुरक्षा बलों की भूमिका को समझने की जगह वे इस पर सवाल उठा रहे हैं। यह दुर्भाग्यपूर्ण है।’’

National Hindi News, 23 April 2019 LIVE Updates: दिनभर की खबरें पढ़ें एक क्लिक पर

फडणवीस ने कहा, ‘‘अगर हमें पता होता कि महाखिचड़ी इस तरह सबूत की मांग करेगी तो हमें उनके नेताओं को रॉकेट से बांधकर बालाकोट भेज देना चाहिए था। वे अपनी आंखों से वहां के हालात देख लेते।’’

बता दें कि 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी आदिल अहमद डार ने विस्फोटकों से भरी कार से सीआरपीएफ के काफिले में शामिल एक बस में टक्कर मार दी थी। इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। भारत ने जवाबी कार्रवाई करते हुए 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक की थी। साथ ही, जैश के मुख्य ट्रेनिंग सेंटर को ध्वस्त कर दिया था।

बता दें कि बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद विपक्षी नेता लगातार उसके सबूत मांग रहे हैं। इसके लिए वे विदेशी मीडिया की उन रिपोर्ट्स का हवाला दे रहे हैं, जिनमें बालाकोट एयर स्ट्राइक में ज्यादा नुकसान न होने का दावा किया गया। बता दें कि मोदी सरकार के कई मंत्री इस हमले में करीब 300 आतंकियों को मारने का दावा कर चुके हैं।

 

Next Stories
1 प्रियंका की ससुराल में कांग्रेस उम्मीदवार ने रोते हुए कहा- मैं बाहरी नहीं, मेरा दर्द समझो, रात को ड्रिप लेकर दिन में सभाएं कर रहा हूं
2 Loksabha Elections 2019: तीसरे चरण में 66% पड़े वोट, सबसे अधिक कहां हुआ मतदान; जानें
3 तीसरे चरण में 117 लोकसभा सीटों पर मतदान शुरू, राहुल गांधी-अमित शाह की भी किस्मत तय करेंगे वोटर्स
ये खबर पढ़ी क्या?
X