ताज़ा खबर
 

इस्तीफे के अगले ही दिन बोले शिवराज- नहीं जाऊंगा केंद्र, मध्य प्रदेश में ही जीऊंगा, मरूंगा!

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पत्रकारों से बातचीत में साफ कर दिया कि फिलहाल वो अभी केंद्र की राजनीति में नहीं जायेंगे।

शिवराज सिंह चौहान, फोटो सोर्स- सोशल मीडिया

मध्यप्रदेश में एक दशक से ज्यादा समय तक मुख्यमंत्री रहे शिवराज सिंह चौहान ने पत्रकारों से बातचीत में साफ कर दिया कि फिलहाल वो अभी केंद्र की राजनीति में नहीं जायेंगे। शिवराज ने प्रदेश के विधानसभा चुनावों में भाजपा को मिली हार की जिम्मेदारी ली। उन्होंने कहा कि मैं मध्यप्रदेश में रहूंगा और मध्यप्रदेश में ही मरुंगा। गौरतलब है कि प्रदेश में बीजेपी के चुनाव हारने के बाद यह अटकलें लगाई जा रही थीं कि शिवराज केंद्र की राजनीति में जा सकते हैं।

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘मैं केंद्र में नहीं जाऊंगा। मैं मध्य प्रदेश में जिऊंगा और मध्य प्रदेश में ही मरूंगा।’ बता दें कि शिवराज ने बुधवार को इस्तीफा देने के बाद कहा था कि वह अब मुक्त हो गए हैं और अब वह चौकीदारी का काम करेंगे। इससे कयास लगाए जाये रहे थे कि वो अब केंद्र का रूख कर सकते है। लेकिन शिवराज ने आज बयान के जरिये अटकलों विराम लगा दिया है। वह फिलहाल मध्य प्रदेश में ही केंद्रित रहना चाहते हैं।

शिवराज ने प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष कमलनाथ को जीत की बधाई देते हुए कहा कि वह उम्मीद करते हैं कि कांग्रेस अपने वादे पूरे करेगी। लोकसभा चुनाव लड़ने के बारे में जब उनसे पूंछा गया तो शिवराज ने कहा कि वह लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे और प्रदेश में रहकर ही जनता की सेवा करेंगे।

शिवराज सिंह ने इसी महीने आभार यात्रा निकालने की बात की है। ज्ञात हो कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस ने बीजेपी के लगातार 15 साल के शासन का अंत किया है। कांग्रेस को 114 और भाजपा को 109 सीटें मिलीं। कांग्रेस बहुमत से दो कदम दूर रह गई लेकिन बसपा और निर्दलीयों के समर्थन से अब वह सरकार बनाने जा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App