ताज़ा खबर
 

Madhya Pradesh Elections: जब मोबाइल से ही 12 मिनट शिवराज ने जनता को किया संबोधित

मध्यप्रदेश के चुनावी तवे पर हर कोई अपनी अपनी रोटियां सेंक रहा है और ज्यादा से ज्यादा जनता के बीच जाकर उनसे मिलने और अपना प्रचार करने की कोशिश कर रहा है।

शिवराज सिंह चौहान, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

मध्यप्रदेश के चुनावी तवे पर हर कोई अपनी अपनी रोटियां सेंक रहा है और ज्यादा से ज्यादा जनता के बीच जाकर उनसे मिलने और अपना प्रचार करने की कोशिश कर रहा है। ऐसे में भला मामा शिवराज कैसे पीछे रह जाएं। बता दें कि रविवार को उज्जैन में शिवराज ने करीब 12 मिनट सभा को अपने मोबाइल से ही संबोधित किया।

क्या है पूरा मामला
दरअसल रविवार को उज्जैन के मालीपुरा में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक जनसभा को 12 मिनट मोबाइल पर और 2 मिनट 59 सेकेंड मंच से संबोधित किया क्योंकि सीएम मंच तक पहुंचने में लेट हो रहे थे, वहीं दूसरी तरफ आचार संहिता लागू होने से रात 10 बजे तक माइक बंद करना भी जरूरी थे, जिसके चलते शिवराज मामा ने चिंतामण बायपास से ही, गाड़ी में बैठे बैठे भाषण देना शुरू कर दिया था।

क्या बोले शिवराज
शिवराज ने अपने भाषण में कहा- कांग्रेस ने जितना 54 साल में प्रदेश को नहीं दिया उतना मैंने 14 साल में दिया। राहुल बाबा एक सभा में कह रहे थे कि प्रदेश के बच्चे नकल करके पास होते हैं, उन्होंने बच्चों से पूछा कि क्या ये सही है। जवाब में नहीं सुन सीएम बोले- अरे, राहुल बाबा दुश्मनी निकालना है तो मुझसे निकालो, बच्चों को कुछ नहीं कहने दूंगा।

शिवराज- कांग्रेस के लोग मुझे कंस और शकुनि कहते हैं
शिवराज ने आगे अपने भाषण में कहा कि- कांग्रेस के लोग मुझे कंस और शकुनी कहते हैं। टीवी पर गुस्सा आने वाला एड चलवाते हैं, जबकि इन्हीं कांग्रेसियों ने प्रदेश को बीमारू राज्य बनाकर छोड़ा था। इससे पहले चुनाव के अंतिम दौर में शिवराज सिंह ने ताबड़तोड़ चुनावी सभाएं की। रविवार को उन्होंने उज्जैल , आगर मालवा, आलोट, जावरा, नागदा, घट्टिया,आमला, खंडवा और खरगोन में जनता को संबोधित किया।

जल्द होगा फैसला
गौरतलब है कि प्रदेश में 230 सीटों के लिए 28 नवंबर को मतदान किया जाएगा। ऐसे में प्रदेश की सियासत गरमाई हुई है। आरोप- प्रत्यारोपों के साथ वार-पलटवार का जोरदार सिलसिला जारी है। बता दें 11 दिसंबर को विधानसभा के नतीजे सभी के सामने होंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App