ताज़ा खबर
 

MP Election Result 2018: 2019 में बीजेपी के लिए खतरा? इन मजबूत किलों में कांग्रेस ने लगाई सेंध

MP Chunav Result 2018, MP Vidhan Sabha Election Chunav Result 2018: बीजेपी को शहरी के साथ ही आदिवासी बहुल क्षेत्र की सीटें गंवानी पड़ी हैं। महाकाल की नगरी उज्‍जैन में भी बीजेपी को हार का मुंह देखना पड़ा है।

Bhopal Dakshin-Paschim, Huzur, Alirajpur, Ujjain South, election, election result, election result 2018, election result live, chunav, chunav result, mp election result, mp election result 2018, mp assembly election result, election commission of india, mp vidhan sabha chunav result, election result live, mp election result live, live mp election result, election commission of india, election result live news, mp news, mp vidhan sabha election result, mp assembly election 2018MP Election Result 2018: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान। (फोटो सोर्स: पीटीआई)

MP Vidhan Sabha Election Chunav Result 2018: मध्‍य प्रदेश में बीजेपी के हाथ से कई गढ़ छिटक गए हैं। इन महत्‍वपूर्ण सीटों पर विपक्षी दलों के प्रत्‍याशियों ने जीत हासिल की है। लोकसभा चुनाव को देखते हुए इसे बीजेपी के लिए शुभ संकेत नहीं कहा जा सकता है। ग्रामीण के साथ शहरी क्षेत्रों में भी प्रदेश में सत्‍तारूढ़ पार्टी को झटका लगा है। भोपाल दक्षिण-पश्चिम विधानसभा सीट को भी बीजेपी किसी तरह बचाने में सफल रही है। बीजेपी का गढ़ माना जाता है। इस सीट पर वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी प्रत्‍याशी ने 54 फीसद वोट शेयरिंग के साथ जीत हासिल की थी। बाबूलाल गौड़ और सरताज सिंह जैसे दिग्‍गज नेताओं ने चुनाव से पहले टिकट को लेकर बगावत कर दी थी। बताया जाता है कि वोट शेयरिंग में बीजेपी को इसका खामियाजा भुगतना पड़ा है। मालूम हो कि शहरी क्षेत्रों में बीजेपी की अच्‍छी पकड़ मानी जाती है।

यहां जानें विधानसभा चुनाव से जुड़े लेटेस्‍ट अपडेट।

भोपाल से लगते हुजूर विधानसभा क्षेत्र को भी बीजेपी का गढ़ माना जाता है। पिछले साल के चुनाव में बीजेपी प्रत्‍याशी ने 65 फीसद वोट शेयर के साथ इस सीट पर जीत हासिल की थी। लेकिन, इस बार पासा पलट गया है। बीजेपी को इस सीट पर भी हार का मुंह देखना पड़ा है। माना जा रहा है कि अगड़ी जाति और मध्‍यवर्ग के मतदाताओं के छिटकने के कारण बीजेपी को यह सीट गंवानी पड़ी है। एससी-एसटी एक्‍ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को केंद्र सरकार ने पलट दिया था। केंद्र में बीजेपी की सरकार है, ऐसे में पार्टी को अपर कास्‍ट के वोटरों की नाराजगी झेलनी पड़ी है। यहां से कांग्रेस के नरेश ज्ञानचंदानी बीजेपी प्रत्‍याशी रामेश्‍वर शर्मा पर लगातार बढ़त बनाए हुए हैं।

बीजेपी को आदिवासी बहुल अलिराजपुर विधानसभा सीट पर भी हार का सामना करना पड़ा है। जनजाति बहुल इलाकों को बीजेपी का गढ़ माना जाता है, लेकिन इस बार कांग्रेस उसमें सेंध लगाने में कामयाब रही। वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी प्रत्‍याीश ने 52 फीसद वोट शेयरिंग के साथ यहां पर जीत हासिल की थी। इस बार यह सीट कांग्रेस के खाते में गई है। अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले आदिवासी बहुल क्षेत्र में मध्‍य प्रदेश में सत्‍तारूढ़ बीजेपी को झटका लगा है। दिलचस्‍प है कि महाकाल की नगरी उज्‍जैन दक्षिण की सीट भी बीजेपी के हाथ से खिसक चुकी है। वर्ष 2013 के विधानसभा चुनावों में बीजेपी प्रत्‍याशी ने यहां से 52 फीसद वोटों के साथ जीत हासिल की थी। यह विधानसभा क्षेत्र भी बीजेपी के मजबूत गढ़ में से एक है। कांग्रेस ने यह सीट भी बीजेपी से झटक ली है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 विधानसभा चुनाव नतीजे 2018 मोदी सरकार के खिलाफ नहीं: केंद्रीय मंत्री
2 Election Result 2018: दोनों सीट पर चुनाव हार गए मिजोरम के मुख्‍यमंत्री
3 Election Result 2018: अम‍ित शाह को बदलना पड़ सकता है ये प्‍लान, तीन मायनस तो केवल 12 राज्‍यों में रह जाएंगे भाजपाई सीएम
ये पढ़ा क्या?
X