ताज़ा खबर
 

कांग्रेस का दामन थाम सकते हैं ‘रामायण के राम’ अरुण गोविल

'रामायण' के भगवान 'श्रीराम' लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं। उन्हें इंदौर से चुनाव में उतारा जा सकता है।

Loksabha election, Loksabha election 2019, Election 2019, Ramayan, Arun Govil, Ramayan, अरुण गोविल, भगवान राम, रामायण, कांग्रेस, लोकसभा चुनाव 2019, चुनाव 2019, लोकसभा चुनाव‘रामायण’ में भगवान राम के किरदार में अरुण गोविल। (Express archive photo)

आगामी लोकसभा चुनाव में बेहतर प्रदर्शन को लेकर सभी पार्टियां जोर-शोर से तैयारियों में जुट गई है। भाजपा जहां सत्ता बरकरार रखने के लिए जी-जान से जुटी है। वहीं, कांग्रेस भी वापसी के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। भाजपा के बाद अब कांग्रेस भी ‘राम’ के शरण में पहुंची है। टीवी सीरीयल ‘रामायण’ में भगवान राम की भूमिका निभाने वाले एक्‍टर कांग्रेस का दामन थाम सकते हैं। सीरीयल में भगवान राम का किरदार निभाने वाले अरुण गोविल को पार्टी इंदौर से चुनाव लड़ा सकती है।

लोकसभा चुनाव को लेकर दोनों पार्टियां ‘भगवान राम’ का सहारा ले रही है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार (6 फरवरी) को उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में एक रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा और सवालिया लहजे में कहा कि कांग्रेस पहले ये बताए कि वह राम मंदिर निर्माण के पक्ष में है या नहीं? वहीं, दूसरी ओर कांग्रेस ‘भगवान राम’ को ही अपनी पार्टी में शामिल करने की तैयारी कर रही है।

टीओआई ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि कांग्रेस पार्टी अरुण गोविल को मध्य प्रदेश की इंदौर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ाने पर विचार कर रही है। कहा जा रहा है कि गोविल हमेशा कांग्रेस के नजदीकी रहे हैं। कांग्रेस पिछले 30 सालों से इस सीट पर चुनाव नहीं जीत पायी है। पार्टी को ऐसा लग रहा है कि अरुण गोविल गेम चेंजर साबित हो सकते हैं और तीन दशक बाद यह सीट कांग्रेस के खाते में आ सकती है। यहां यह भी बता दें कि हाल ही में ‘बिग बॉस 11‘ की विजेता शिल्पा शिंदे कांग्रेस में शामिल हुई है।

80 के दशक में शुरू हुई रामायण सीरीयल काफी लोकप्रिय हुई थी और इसी सीरीयल से ‘भगवान राम’ का किरदार निभाने वाले अरुण गोविल प्रसिद्ध हुए। उस समय लोग उन्हें भगवान राम ही समझने लगे थे। गोविल ने अपने इंटरव्यू में बताया है, “लोग कभी-कभी भगवान राम समझ मेरे पैर छूकर प्रणाम करते थे। ऐसा करने के लिए लोगों की लाइन लग जाती थी।” रामायण के बाद अरुण गोविल ने लवकुश, कैस कहूं, अपराजिता, वो हुए न हमारे जैसे कई प्रसिद्ध सीरीयल में भी काम किया। फिलहाल वे मुंबई में प्रोडक्शन कंपनी चलाते हैं और दूरदर्शन के लिए सीरीयल बनाते हैं।

Next Stories
1 अखबार का दावा- उद्धव ठाकरे से मुलाकात में प्रशांत किशोर ने दिया नीतीश कुमार को पीएम बनवाने का प्‍लान
2 राहुल गांधी का ऐलान- 3 महीने में समझ जाएंगे…नरेंद्र मोदी और RSS को हराने जा रही कांग्रेस
3 राजस्थान में फिर उठी गुर्जर आरक्षण की मांग, सचिन पायलट बोले- केंद्र करे विचार
ये पढ़ा क्या?
X