ताज़ा खबर
 

Loksabha Elections 2019: राम विलास पासवान ने हाजीपुर से क्यों नहीं लड़ा चुनाव? बताई यह वजह

Loksabha Elections 2019: आरजेडी चीफ लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे और बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के बयान का हवाला देते हुए पूछा गया, 'आप मौसम वैज्ञानिक हैं। अगर मौसम गड़बड़ाया तो पता नहीं, कोई ठिकाना नहीं हैं?' उन्होंने जवाब दिया, "ये लोग फर्स्ट ईयर स्टूडेंट हैं।'

Author नई दिल्ली | May 20, 2019 6:47 PM
केंद्रीय मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी चीफ राम विलास पासवान। (फाइल फोटोः पीटीआई)

Loksabha Elections 2019: नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष राम विलास पासवान इस बार आम चुनाव नहीं लड़े। उन्होंने इसके पीछे अपने अस्थिर स्वास्थ्य और पार्टी के फैसले को प्रमुख वजह बताया। हाल ही में 75 वर्षीय पासवान ने एक हिंदी न्यूज चैनल से कहा, “हम लोग अजेय बहुमत से जीत रहे हैं। हम लोगों का जो लक्ष्य था कि 350 सीटों से निकलेंगे तो हमें कम से कम 300 सीटें हासिल होंगी। पोल उसी के मुताबिक आए हैं…ठीक है।”

उन्होंने आगे बताया, “किसी भी चैनल से नहीं दिखाया कि हम बहुमत से कम हैं। अब परिणाम का इंतजार है, पर जो पोल आप लोगों ने दिखाए, उनसे हमारा आंकड़ा बढ़ेगा…कम नहीं होंगे।”

यह पूछे जाने पर कि इसके पीछे कारण क्या है, कौन सा मुद्दा और किसका चेहरा मायने रखेगा? पासवान बोले- नेतृत्व और मुद्दों की बात आती है, तब सारे मामले जुड़ जाते हैं। जैसे देश की सुरक्षा, गरीबी, बिहार के विकास या अन्य चीजों का मामला है…ये सब जुड़े जाते हैं।

आरजेडी चीफ लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे और बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के बयान का हवाला देते हुए पूछा गया, ‘आप मौसम वैज्ञानिक हैं। अगर मौसम गड़बड़ाया तो पता नहीं, कोई ठिकाना नहीं हैं?’ उन्होंने जवाब दिया, “ये लोग फर्स्ट ईयर स्टूडेंट हैं। पांच साल में इन्हें पता लग गया है कि फर्स्ट ईयर में हीरो थे, अब जीरो हो रहे हैं।”

हाजीपुर से चुनाव न लड़ने के बारे में बताते हुए बोले, “डॉक्टर ने रोक लगा दी थी…हमनें हाजीपुर से चुनाव नहीं लड़ा था। अगर लड़ते तो पांच-छह लाख वोट से यूं ही जीत जाते। पर हमें तब वहां सुख में, दुख में (जमीन पर) जाना पड़ता, लिहाजा पार्टी ने सोच-समझ कर फैसला लिया।”

आगे रिपोर्टर ने पूछा कि सरकार बनने पर मंत्री कौन बनेगा, आप या फिर बेटे चिराग पासवान? देखें, इस सवाल पर वह क्या बोलेः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X