ताज़ा खबर
 

एनडीए को समर्थन के लिए शिवसेना ने रख दी बेहद मुश्किल शर्त!

साल 2018 में शिवसेना ने घोषणा की थी कि वह आम चुनाव अपने दम पर लड़ेगी। साथ ही विधानसभा चुनाव के मैदान में भी अकेले ही उतरेगी।

एनडीए और शिवसेना के बीच कई मसलों को लेकर बीते कुछ वक्त से खटपट चल रही है। (फाइल फोटोः एजेंसियां)

लोकसभा चुनाव से पहले गठजोड़ को लेकर सियासी हलचलें तेज हो चुकी हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) को समर्थन देने के लिए शिवसेना ने बेहद मुश्किल शर्त रख दी है। गुरुवार (14 फरवरी, 2019) को शिवसेना नेता संजय राउत ने इस बारे में कहा कि अगर केंद्र में वे हमसे गठबंधन करना चाहते हैं तो हम राजी हैं, पर उस स्थिति में महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री शिवसेना से होना चाहिए।

न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में राउत बोले, “अगर 2019 में एनडीए की सरकार बनती है, तब शिवसेना, अकाली दल और अन्य अहम घटक दलों की अहम भूमिका रहेगी। एनडीए के ये सभी सहयोगी दल अपने-अपने गढ़ (राज्यों) में मजबूत हैं और अच्छी पकड़ रखते हैं। अगर आप केंद्र में हमारे साथ गठबंधन चाहते हैं, तब उन राज्यों में मुख्यमंत्री सहयोगी दल से बनाया जाना चाहिए।”

बता दें कि शिवसेना और अकाली दल मौजूदा समय में एनडीए के सहयोगी हैं, पर बीते कुछ समय से इनके बीच कई मसलों को लेकर खटपट चल रही है। हालांकि, साल 2018 में शिवसेना ने घोषणा की थी कि वह आम चुनाव अपने दम पर लड़ेगी। पार्टी ने यह भी साफ किया था कि विधानसभा चुनाव के मैदान में भी वह अकेले ही उतरेगी।

राजनीतिक जानकारों की मानें तो एनडीए और शिवसेना के बीच जो संबंध अभी हैं, उनके आधार पर गठबंधन को लेकर सुलह के संकेत नहीं नजर आ रहे हैं। चूंकि उत्तर प्रदेश में 80 सीटों के बाद महाराष्ट्र में सबसे अधिक लोकसभा की सीटें हैं। सूबे में कुल 48 सीटें हैं, जिन्हें लेकर दोनों (शिवसेना व एनडीए) के बीच खींचतान की आहटें आ रही हैं।

महाराष्ट्र के मौजूदा मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस हैं, जो कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से हैं, जबकि आगामी चुनाव में गठबंधन के लिए शिवसेना ने अगला सीएम अपने दल से बनाने की मांग जाहिर कर दी है। जानकारों का कहना है कि एनडीए के लिए इस मांग को पूरा करना थोड़ा मुश्किल रहेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App