ताज़ा खबर
 

Loksabha Elections 2019: नीतीश कुमार को चुनावी रैली में आया गुस्सा, ‘ई सब मेरे टाइम का चीज नहीं है, कंग्रेसिया आएगा तो दिखाना’

बिहार प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने इस घटना से जुड़ी वीडियो क्लिप ट्वीट की। साथ ही लिखा, "इतना ग़ुस्सा नीतीश जी। वित्त रहित शिक्षकों के लिए जो शब्दों का चयन आपने किया वह निंदनीय है।"

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार। (फोटोः प्रशांत नादकर)

बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल (यूनाइटेड) के अध्यक्ष नीतीश कुमार को एक चुनावी रैली के बीच ही गुस्सा आ गया। मंच पर माइक से चिल्लाते हुए वह कुछ लोगों से बोले कि ई सब मेरे टाइम का चीज नहीं है, कंग्रेसिया आएगा तो ये सब उसको दिखाना। घटनास्थल पर कुछ लोगों ने पूरे वाकये का वीडियो बना लिया, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। बिहार प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा ने उसी दौरान का वीडियो ट्वीट किया और बोले कि आपमें हार का डर दिख रहा है। साथ ही आप अपनी गलती के अहसास का परिचय भी दे रहे हैं।

वीडियो क्लिप के मुताबिक, सीएम नीतीश ने कहा था, “देख भईया ये वित्त रहित शिक्षा सब कंग्रेसिया आएगा तो उसको दिखाना। समझ गए न, ये सब मेरे टाइम का चीज नहीं है। कोई सिखा कर के भेजा है, तो जो जाना अगली बार कांग्रेस कैंडिडेट भी लड़ रहा है न, जाना उसके पास दिखाना। वित्त रहित, बंद रखो ऊ सब चीज। क, ख, ग, घ का ज्ञान नहीं है और बिना मतलब के आ गए हैं।”

सीएम ने आगे कहा, “वित्त रहित…आप मेरी बात सुनने आए हो या ये सब करने आए हो? और भूल गए कि 10 साल पहले आए थे। पूरी रात विकास यात्रा में यहीं ठहरे थे। अभी चुनाव के टाइम में ये सब दिखाई देता है। ये चुनाव का विषय है, ये बढ़िया सा फोटो लिया और कल छापेगा।”

सुनें क्या बोले थे CM नीतीशः

झा ने इस घटना से जुड़ी वीडियो क्लिप ट्वीट की। साथ ही लिखा, “इतना ग़ुस्सा नीतीश जी। वित्त रहित शिक्षकों के लिए जो शब्दों का चयन आपने किया वह निंदनीय है। हार का डर और अपनी की हुई ग़लती के एहसास का परिचय दे रहे है आप। और हां, कांग्रेस वाले को ही यह अपनी बात बोलेंगे, हम सुनेंगे और प्रयास भी होगा की उसका कुछ समाधान निकल सके।”

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App