ताज़ा खबर
 

Loksabha Elections 2019: अवमानना केस में राहुल गांधी पर भड़का SC, कहा- हलफनामे में भी विरोधाभासी बातें कह रहे आप

Loksabha Elections 2019: जवाब में राहुल के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने इस पर फौरन माफी मांग ली। बोले कि वह हलफनामे में कमी के लिए पूरी तरह खेद जता रहे हैं।

राहुल के वकील ने कोर्ट के समक्ष गलती स्वीकारी तो सीजेआई ने पूछा कि आपका खेद कहां हैं। (फाइल फोटो)

Loksabha Elections 2019: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ अवमानना मामले में सुप्रीम कोर्ट कांग्रेस के हलफनामे पर बुरी तरह भड़क गया। मंगलवार (30 अप्रैल, 2019) को सुनवाई के दौरान कोर्ट ने नाराजगी जताते हुए कहा कि आप लोग हलफनामे में भी विरोधाभासी बातें कह रहे हैं। आखिर आपने हमारे हवाले से ऐसा (चौकीदार चोर है) कैसे कह दिया।

जवाब में राहुल के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने इस पर फौरन माफी मांग ली। बोले कि वह हलफनामे में कमी के लिए पूरी तरह खेद जता रहे हैं। सिंघवी ने गलती कबूलने के साथ सुनवाई के लिए और समय की मांग की है।

बाद में चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (सीजेआई) ने सिंघवी से पूछ लिया- दिखाइए, कहां हैं खेद। इंडियन एक्सप्रेस के अनंतकृष्णन जी ने ट्वीट कर बताया, “सिंघवी ने कोर्ट से कहा- राहुल ने इस पर खेद जताया है। कोर्ट ने इसी पर पूछा- आपने कहां खेद जताया है? खेद जताने वाली बात हलफनामे में ब्रैकेट में क्यों है?” सिंघवी ने आगे कहा, “हमारी तरफ से तीन गलतियां थी, जिनके लिए हम माफी मांगते हैं।”

कोर्ट ने आगे कहा, “आपने हलफनामे में भी विरोधाभासी बातें कही हैं। एक जगह पर, आपने अपना बयान माना है। लेकिन दूसरी जगह पर आपने उसे ही खारिज कर दिया। अगर आप इस हलफनामे के आधार पर तर्क देंगे, तब हम हम आपको इससे बेहतर हलफनामा दाखिल करने का मौका भी नहीं देंगे।”

सुप्रीम कोर्ट ने आगे हिदायत देते हुए कहा, “आप जब गलती करें, तो उसे स्वीकार करें। हर कोई ऐसा ही करता है।” आगे सिंघवी ने कोर्ट में कहा, “मी लॉर्ड, मैंने गलती से कह (सुप्रीम कोर्ट ने भी कहा कि चौकीचार चोर है) दिया था। वह मेरी गलती थी।” अब इस मामले पर अगली सुनवाई छह मई को होगी। सिंघवी ने इस पर कहा है कि राहुल छह मई से पहले एक हलफनामा दाखिल करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App