ताज़ा खबर
 

Loksabha Elections 2019: पंजाब के CM कैप्टन अमरिंदर सिंह का दावा, ‘जब मैं सेना में था तब हुईं 100 से ज्यादा सर्जिकल स्ट्राइक्स’

Loksabha Elections 2019: उन्होंने इसके साथ ही दावा किया कि आम चुनाव में उनकी पार्टी, संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) - 3 की सरकार बनेगी।

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह। (फाइल फोटोः अंजू अग्निहोत्री)

Loksabha Elections 2019: पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि वह जब सेना में थे, तब देश ने 100 से ज्यादा सर्जिकल स्ट्राइक्स को अंजाम दिया था। यह बात उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के उस दावे पर जुबानी हमले के रूप में कही, जिसमें कई बार कहा जा चुका है कि पाकिस्तान में आतंकियों के खिलाफ इस प्रकार का सैन्य ऑपरेशन पहली बार हुआ। सीएम ने इस बाबत कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) इतिहास नहीं जानती है। उन्होंने इसके साथ ही दावा किया कि आम चुनाव में उनकी पार्टी, संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) – 3 की सरकार बनेगी।

‘एनडीटीवी’ को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा, “बीजेपी इतिहास नहीं जानती है। सेना का इतिहास जो कोई भी जानता है, उसे पता है कि पूर्व में भी कई सर्जिकल स्ट्राइक्स की जा चुकी हैं। मैं जब 1964 से 1967 के बीच वेस्टर्न कमांड में था, मुझे लगता है कि तब 100 से अधिक सर्जिकल स्ट्राइक्स तो हुई होंगी। इन लोगों (बीजेपी वालों ने) ने उसे बस नया नाम (सर्जिकल स्ट्राइक) दे दिया है, जबकि हम उसे ‘क्रॉस बॉर्डर रेड’ कहा करते थे।”

सिंह, 1960 के दशक में भारतीय सेना के सिख रेजिमेंट में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। दरअसल, जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी, 2019 को जैश के आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे, जिसके बाद पाकिस्तान के बालाकोट में जवाबी कार्रवाई के तौर पर एयर स्ट्राइक करने के दावे हुए। बीजेपी ने चुनावी माहौल में इसे मुद्दा बनाया और राष्ट्रवाद व राष्ट्रीय सुरक्षा से इन चीजों को जोड़ा।

कांग्रेसी नेता से इसी बारे में जब पूछा गया, तब उन्होंने कहा, “हमारी पार्टी, हमारी यूपीए-3 ही सरकार बनाएगी।” उनके मुताबिक, 1947 में पीएम कौन था? 1962 में कौन था? ठीक वैसे ही 1965 और 1971 में कौन प्रधानमंत्री था? हमने पाकिस्तान को विभाजित किया। इंदिरा गांधी ने यह काम किया, लेकिन उन्होंने कभी उसका श्रेय नहीं लिया। उन्होंने सिर्फ इतना कहा था कि वह भारतीय सैन्य बलों और फील्ड मार्शल सैम मानिकशॉ की बेहद आभारी हैं।

बकौल पंजाब सीएम, “वह (इंदिरा) चीजों के लिए दूसरों को श्रेय देती थीं, पर यह शख्स (पीएम मोदी) कहता है, ‘मैंने किया है’। तुम कौन हो भाई? यह आपकी सेना नहीं है? यह भारतीय सेना है, देश की सेना है।” इसी बीच, लेफ्टिनेंट जर्नल (सेवानिवृत्त) डीएस हुड्डा (2016 में सर्जिकल स्ट्राइक का नेतृत्व करने वाले) ने कहा था कि भारतीय सेना ने कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूपीए काल में भी सर्जिकल स्ट्राइक्स को अंजाम दिया था, जबकि इससे पहले कांग्रेस ने भी यूपीए शासन में छह स्ट्राइक्स किए जाने का दावा किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X