ताज़ा खबर
 

Loksabha Elections 2019: ‘प्रेस कॉन्फ्रेंस नहीं प्रेस अपीयरेन्स था’, मीडिया के सवाल का जवाब नहीं देने पर हो रही PM नरेंद्र मोदी की खिंचाई

Loksabha Elections 2019: आम चुनाव प्रचार के खत्म होने से ऐन पहले शुक्रवार (17 मई, 2019) शाम बीजेपी की पीसी हुई। शाह के साथ उसमें पीएम भी मौजूद रहे। पार्टी की उपलब्धियां गिनाते हुए उन्होंने दावा किया कि वे इस बार 300 सीटों का आंकड़ा पार करेंगे और सरकार एनडीए की ही बनेगी।

Author नई दिल्ली | May 17, 2019 8:47 PM
Loksabha Elections 2019: नई दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय पर पत्रकारों के सवालों के जवाब देते हुए बीजेपी चीफ अमित शाह, जबकि उनकी बात ध्यान से सुनते हुए पीएम नरेंद्र मोदी। (फोटोः पीटीआई)

Loksabha Elections 2019: पांच साल के कार्यकाल में पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एक भी सवाल न लेने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोशल मीडिया पर जमकर खिंचाई हुई। पीएम और बीजेपी चीफ अमित शाह की साझा पीसी पर टि्वटर पर किसी ने कहा कि वह पीएम की प्रेस कॉन्फ्रेंस नहीं बल्कि प्रेस अपीयरेन्स था, जबकि किसी ने तंज कसते हुए लिखा, “मोदी जी बिना भीगे नहाने वालों में से हैं।”

दरअसल, आम चुनाव प्रचार के खत्म होने से ऐन पहले शुक्रवार (17 मई, 2019) शाम बीजेपी की पीसी हुई। शाह के साथ उसमें पीएम भी मौजूद रहे। पार्टी की उपलब्धियां गिनाते हुए उन्होंने दावा किया कि वे इस बार 300 सीटों का आंकड़ा पार करेंगे और सरकार एनडीए की ही बनेगी। बाद में पीएम ने भी पत्रकारों को संबोधित किया, पर बारी जब प्रश्न लेने की आई तो यह जिम्मा शाह ने संभाला।

इसी पर बड़ी नामी-गिरामी शख्सियतों से लेकर आम टि्वटर यूजर्स ने न केवल पीएम मोदी के मजे लिए बल्कि शाह और बीजेपी को भी लपेटा। कांग्रेस अध्य राहुल गांधी ने इसी पर लिखा, “मोदी जी बधाई हो। शानदार पीसी की आपने! दिखावा करना ही आधी लड़ाई है। अगली बार शाह जी शायद आपको कुछ सवालों के जवाब देने का मौका दे दें। बहुत खूब!”

सांसद शरद यादव ने लिखा, “यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि पांच सालों में बीजेपी पीएम ने मीडिया का सामना नहीं किया। यही सवाल हर किसी के दिमाग में है। आखिरी चरण के मतदान से ठीक पहले पीएम के हाव-भाव ने साफ अंदेशा दे दिया है कि उन्होंने अपनी हार मान ली है और यह उनकी पार्टी और सरकार के लिए एक किस्म की ‘फेयरवेल’ (विदाई) पीसी थी।”

वरिष्ठ पत्रकार उर्मिलेश ने हैरानी जताते हुए ट्वीट किया, “क्या वाकई प्रधानमंत्री मोदी की उनके कार्यकाल (सन् 2014-19) की यह पहली और आखिरी प्रेस कॉन्फ्रेंस थी?।” जाने-माने पत्रकार ओम थानवी ने लिखा, “पीएम पहली बार मीडिया के सामने आए, मगर सवाल अमित शाह की ओर खिसका गए। फिर भी चेहरा लटका दीखा, गर्दन झुकी हुई। किस बात का भय सताने लगा कि मायूस-से बिना तैयारी मीडिया के सामने आ बैठे?”

आगे टीवी पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने भी इस बारे में प्रतिक्रिया दी और बोले, “आज, एक प्रेस कॉन्फ्रेंस प्रेस अपीयरेन्स बन गई।” देखें और लोगों की कुछ ऐसी ही मजेदार प्रतिक्रियाएं:

Read here the latest Lok Sabha Election 2019 News, Live coverage and full election schedule for India General Election 2019

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App