ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी का शपथ समारोह: रजनीकांत और कमल हासन को न्यौता, एक ही विमान से पहुंचेंगे केसीआर और जगन मोहन रेड्डी

Loksabha Election Results 2019: मोदी लगातार दूसरी बार पीएम पद की शपथ लेंगे। सूत्रों के मुताबिक, इस कार्यक्रम में कई वैश्विक नेताओं के आने की भी अटकलें हैं, पर फिलहाल इस बाबत कोई आधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है। मोदी की नई कैबिनेट के नामों का भी खुलासा नहीं किया गया है।

Author नई दिल्ली | May 27, 2019 7:54 PM
Loksabha Election Results 2019: नई दिल्ली स्थित राष्ट्रपति भवन में शनिवार को रामनाथ कोविंद संग बैठक के बाद राष्ट्रपति भवन में सभा को संबोधित करते बीजेपी के नरेंद्र मोदी। (फोटोः पीटीआई)

Loksabha Election Results 2019: बीजेपी के फायरब्रांड चेहरा और एनडीए संसदीय दल के नेता नरेंद्र मोदी 30 मई को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। यह कार्यक्रम नई दिल्ली स्थित राष्ट्रपति भवन में शाम सात बजे होगा, जिसमें मोदी के अलावा उनके मंत्रिमंडल के नेताओं को भी शपथ दिलाई जाएगी। शपथ ग्रहण समारोह में सबसे पहले जिन्हें न्यौता भेजा गया है, उनमें दक्षिण भारतीय फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत और एक्टर से राजनेता बने मक्कल नीधी मय्यम के संस्थापक कमल हासन शामिल हैं। हालांकि, इन दोनों ने ही फिलहाल कार्यक्रम में शरीक होने को लेकर कोई पुष्टि नहीं की है।

वहीं, तेलंगाना के मुख्यमंत्री और टीडीपी चीफ के.चंद्रशेखर राव व आंध्र के नामित सीएम और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी नेता जगन मोहन रेड्डी को भी शपथ ग्रहण में बुलाया गया है। गुरुवार दोपहर रेड्डी पहले खुद सीएम पद की शपथ लेंगे, जिसके बाद वह केसीआर संग एक ही फ्लाइट से पीएम के कार्यक्रम के लिए राष्ट्रीय राजधानी पहुचेंगे।

मोदी लगातार दूसरी बार पीएम पद की शपथ लेंगे। सूत्रों के मुताबिक, इस कार्यक्रम में कई वैश्विक नेताओं के आने की भी अटकलें हैं, पर फिलहाल इस बाबत कोई आधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है। मोदी की नई कैबिनेट के नामों का भी खुलासा नहीं किया गया है।

विदेश मंत्रालय के हवाले से सोमवार को ‘एएनआई’ ने बताया कि भारत सरकार ने बिमस्टेक (बे ऑफ बेंगाल इनिशिएटिव फॉर मल्टी-सेक्टरल टेक्निकल एंड इकनॉमिक कॉपरेशन) सदस्यीय देशों के नेताओं को भी 30 मई के कार्यक्रम में आमंत्रित किया है। इन मुल्कों में बांग्लादेश, भारत, म्यांमार, श्रीलंका, थाईलैंड, नेपाल और भूटान शामिल हैं।

यह फैसला सरकार की ‘पड़ोसी पहले’ वाली नीति के तहत लिया गया है। हालांकि, बांग्लादेशी पीएम शेख हसीना तीन देशों की विदेश यात्रा पर रहेंगी, लिहाजा वह इस बार भी मोदी के शपथ ग्रहण समारोह का हिस्सा नहीं बन पाएंगी।

मंत्रालय के मुताबिक, किरगिज गणराज्य के राष्ट्रपति (मौजूदा समय में शंघाई सहयोग संस्थान के अध्यक्ष भी) और मॉरीशस के प्रधानमंत्री (प्रवासी भारतीय दिवस पर मुख्य अतिथि रहे थे) को भी शपथ ग्रहण समारोह के लिए बुलाया गया है।

बता दें कि मोदी, पहले ऐसे बीजेपी नेता हैं, जो लगातार दूसरी बार पीएम बनें हैं। वह भी बहुमत और पांच सालों के कार्यकालों के साथ। इनसे पहले, दिवंगत अटल बिहारी वाजपेयी दो बार पीएम बने थे, पर उनका पहला कार्यकाल महज एक साल सात महीने तक ही रह सका था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X