Lok Sabha Election 2019: योगी आदित्यनाथ ने इंडियन आर्मी को बताई ‘मोदी जी की सेना’, भड़की कांग्रेस

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): योगी आदित्यनाथ ने ने गाजियाबाद में एक रैली में कहा इंडियन आर्मी को 'मोदी जी की सेना' बताया। इसके बाद कांग्रेस ने उनसे माफी मांगने को कहा है।

lok sabha, Narendra Modi, Indian Army, CM Yogi, Yogi Adityanath, Mamta Banerjee, Congress, Priyanka Chaturvedi, Army, Modi Sena, lok sabha election, lok sabha election 2019, lok sabha election 2019 schedule, lok sabha election date, lok sabha election 2019 date, लोकसभा चुनाव, लोकसभा चुनाव 2019, chunav, lok sabha chunav, lok sabha chunav 2019 dates, lok sabha news, election 2019, election 2019 newsउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। (Photo: PTI)

Lok Sabha Election 2019: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नोएडा के बिसहाड़ा में एक रैली में कहा इंडियन आर्मी को ‘मोदी जी की सेना’ बताया। इसके बाद वे विपक्ष के निशाने पर आ गए हैं। कांग्रेस नेता प्रियंका चतुर्वेदी और एनसीपी ने उनके उपर निशाना साधा है। दरअसल, रैली के दौरान सीएम योगी ने कहा, “कांग्रेस के लोग आतंकवादियों को बिरयानी खिलाते थे और मोदी जी की सेना आतंकवादियों को गोली और गोला देती है। यही अंतर है। कांग्रेस के लोग मसूद अजहर जैसे आतंकवादियों के साथ ‘जी’ लगा के प्रोत्साहित करते हैं। अब प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व में आज आतंकवाद को, उनके ठिकानों को नष्ट और ध्वस्त करके आतंकवाद की ही नहीं, पाकिस्तान की कमर को तोड़ने का काम भारतीय जनता पार्टी की सरकार कर रही है। यही अंतर है। जो कांग्रेस में नामुमकिन था, वह मोदी के लिए मुमकिन है। क्योंकि मोदी हैं तो मुमकिन है।”

सीएम योगी के इस बयान पर तंज करते हुए कांग्रेस नेता और राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा, “अब इंडियन आर्मी का नामकरण करके मोदी की सेना रख दिया सीएम योगी आदित्यनाथ ने। यह हमारी सेना का अपमान है। यह भारत की सेना है, प्रचार मंत्री की निजी सेना नहीं। आदित्यनाथ को अपने इस बयान के लिए माफी मांगनी चाहिए। और अगर मसूद अजहर की बात करें तो कोई भी एनएसए अजीत डोवाल की भूमिका को कैसे भूल सकता है, जिन्होंने आतंकी की सुरक्षित रिहाई सुनिश्चित की।”

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नोएडा जनपद के बिसाहड़ा में पार्टी प्रत्याशी डॉ. महेश शर्मा के लिये प्रचार करने पहुंचे थे। यहां उन्होंने कहा कि पाकिस्तान रो रहा है लेकिन भारत के अंदर के विपक्षी दल केवल वोट बैंक के लिए सबूत मांग रहे हैं। उन्होंने कहा कि 2005 में राम सेतू तोड़ने का कार्य कांग्रेस की सरकार ने किया जबकि हम लोगों ने उस दौरान बड़ा आंदोलन किया और मामला सुप्रीम कोर्ट में गया। उस समय कांग्रेस की सरकार थी। तब कोर्ट ने पूछा था कि क्यों तोड़ा जा रहा है राम सेतु तो कांग्रेस ने कहा था कि राम का कोई अस्तित्व नहीं है।

उन्होंने कहा कि अयोध्या के मामले में प्रियंका वाड्रा से जब पूछा गया कि वह राम जन्म भूमि क्यों नहीं गई तो उन्होंने कहा कि वह विवादित स्थल है। ये देश का अपमान है। योगी ने कहा कि आप राम जन्मभूमि इसलिए नहीं गईं क्योंकि आपको लगता है कि वहां जाने से एक वर्ग के लोग नाराज हो जाएंगे। आप हिंदू आस्था के प्रतीक को विवादित कहती हैं।

उन्होंने कहा कि हो सकता है राहुल गांधी, प्रियंका वाड्रा को अयोध्या जाने में संकोच होता हो लेकिन मुझे वहां जाने में कोई संकोच नहीं। ये विवादित भूमि नहीं है। जन्म भूमि का मामला इसलिए ही नहीं सुलझ पा रहा है क्योंकि जब भी इस पर सुनवाई होती है तो अनावश्यक रूप से कांग्रेस के वकील तारीख बदलने की बात करते हैं। उन्होंने कहा, “समझौता एक्सप्रेस में धमाके के बाद कांग्रेस ने शब्द दिया था, ‘हिंदू आतंकवाद’। मैं पूछना चाहता हूं कांग्रेस से कि कहां से ये शब्द आया और कैसे उन्होंने हिंदू को आतंकवाद से जोड़ दिया। ये लोग तुष्टीकरण की नीति के साथ देश की भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।” (एजेंसी इनपुट के साथ)

Read here the latest Lok Sabha Election 2019 News, Live coverage and full election schedule for India General Election 2019

Next Stories
1 पीएम मोदी बोले- कांग्रेस ने हिंदुओं पर लगाया आतंकवाद का ठप्पा, इसलिए हिंदू इलाकों में नहीं लड़ रहे चुनाव
2 पहली बार दक्षिण की राह नहीं पकड़ रहा गांधी परिवार, इंदिरा-सोनिया के नक्शेकदम पर हैं राहुल गांधी
3 पीएम के तंज से भड़के NCP नेता माजिद मेमन बोले, जाहिल-अनपढ़ हैं नरेंद्र मोदी, राह चलते आदमी की तरह बोलते हैं
यह पढ़ा क्या?
X