ताज़ा खबर
 

Loksabha Election 2019 Survey: प्र‍ियंका गांधी पर एक और सर्वे, 52% बोले- बीजेपी को नुकसान, 56% ने माना पीएम मटीरियल

Lok Sabha Election 2019, ABP News-C Voter's First Survey on Priyanka Gandhi Vadra in Hindi: प्र‍ियंका के राजनीति में उतरने की मांग कांग्रेसी काफी समय से करते रहे हैं। ताजा सर्वे में एक सवाल यह भी पूछा कि क्‍या प्र‍ियंका देर से राजनीति में आई हैं?

एआईसीसी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा। (पीटीआई फोटो)

Loksabha Election 2019 Survey: प्र‍ियंका गांधी के सक्र‍िय राजनीति में उतरने का असर आने वाले लोकसभा चुनाव में क्‍या होगा? कांग्रेस को इससे फायदा होगा, नुकसान होगा या कोई फर्क नहीं पड़ेगा? इन सवालों पर प्र‍ियंका के कांग्रेस महासचिव और पूर्वी उत्‍तर प्रदेश प्रभारी बनाए जाने की घोषणा के बाद से ही चर्चा हो रही है। अब एबीपी न्‍यूज एक सर्वे लेकर सामने आया है, जिसमें कई सवालों के जवाब बताए गए। सर्वे की मानें तो प्र‍ियंका के राजनीति में आने से कांग्रेस को देश भर में फायदा होगा और उनके खिलाफ बयानबाजी का बीजेपी को नुकसान उठाना पड़ेगा।

सर्वे में किए गए कुछ मुख्‍य सवाल और उन पर आए जवाब: प्र‍ियंका के आने कांग्रेस को कहां फायदा होगा? इस सवाल के जवाब में 50 प्रतिशत लोगों ने कहा कि देश भर में फायदा होगा, 18 फीसदी लोगों ने कहा कि यूपी में फायदा होगा और 24 फीसदी लोगों का मानना रहा कि कहीं फायदा नहीं होगा। प्र‍ियंका का आना बीजेपी के लिए फायदेमंद रहेगा क्‍या? यह सवाल पूछने पर 51 फीसदी लोगों का जवाब न में आया, 44 फीसदी ने कहा हां और पांच प्रतिशत लोग बोले- पता नहीं।

प्र‍ियंका के खिलाफ कमेंट का बीजेपी को नुकसान होगा? इस सवाल का हां में जवाब 71 फीसदी लोगों ने दिया। 23 प्रतिशत लोगों ने कहा नहीं, जबकि छह प्रतिशत इस बारे में कोई राय नहीं बना पाए। सर्वे के मुताबिक, 50 फीसदी लोगों का मानना है कि राहुल फेल हो गए, इसलिए प्र‍ियंका आईं। 46 फीसदी लोग ऐसा नहीं मानते, जबकि चार फीसदी लोग इस बारे में राय नहीं बना पाए। प्र‍ियंका किसका नुकसान करेंगी? इस सवाल के जवाब में 52 फीसदी लोगों ने बीजेपी का नाम लिया, 32 फीसदी ने कहा- महागठबंधन और आठ फीसदी बोले- किसी का नहीं।

प्र‍ियंका के राजनीति में उतरने की मांग कांग्रेसी काफी समय से करते रहे हैं। एबीपी न्‍यूज ने सर्वे में एक सवाल यह भी पूछा कि क्‍या प्र‍ियंका देर से राजनीति में आई हैं? जवाब के मुताबि‍क 74 फीसदी लोग मानते हैं कि देरी हुई, 21 फीसदी कहते हैं नहीं और पांच फीसदी अपनी राय नहीं बना पाए। प्र‍ियंका में पीएम के गुण हैं क्‍या? 56 फीसदी लोगों ने कहा हां, 29 प्रतिशत ने कहा न और 15 फीसदी राय नहीं बना पाए।

इससे पहले, इंडिया टीवी ने भी इस बारे में एक सर्वे किया था। प्र‍ियंका को पूर्वी उत्‍तर प्रदेश का प्रभारी बनाए जाने के मद्देनजर उनके असर को लेकर यह सर्वे उत्‍तर प्रदेश की 43 सीटों पर किया गया था। सर्वे का नतीजा पढ़ने के लिए क्‍ल‍िक करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 किम जोंग हो सकती हैं ममता बनर्जी, उन्हें झांसी की रानी कहना लक्ष्मीबाई को गाली देने जैसाः गिरिराज सिंह
2 येदियुरप्पा ने कुमारस्वामी के आरोपों को किया खारिज, ऑडियो क्लिप को बताया फर्जी
3 Election 2019 Updates: मोदी द्वारा महागठबंधन को ‘महामिलावट’ कहे जाने पर अखिलेश का पलटवार