Lok Sabha Election 2019: लालू ने लिखी नीतीश को चिट्ठी, कहा- तीर हिंसा फैलाने वाला, लालटेन भाईचारे का प्रतीक

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): लालू यादव ने अपने पत्र के माध्यम से कहा कि हमने लालटेन के प्रकाश से गैरबराबरी, नफरत, अत्याचार और अन्याय का अंधेरा दूर भगाया है और भगाते रहेंगे। तुम्हारा चिह्न तीर तो हिंसा फैलाने वाला हथियार है।

Bihar Politics, RJD, BJP, NDA, JDU, lalu Prasad Yadav, Nitish Kumar, Lalten, lok sabha, lok sabha election, lok sabha election 2019, lok sabha election 2019 schedule, lok sabha election date, lok sabha election 2019 date, लोकसभा चुनाव, लोकसभा चुनाव 2019, chunav, lok sabha chunav, lok sabha chunav 2019 dates, lok sabha news, election 2019, election 2019 newsराजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार। (Express File Photo)

Lok Sabha Election 2019: बिहार की सभी 40 लोकसभा सीटों के लिए सात चरण में मतदान हो रहे हैं। छह चरण का मतदान संपन्न हो चुका है। 19 मई को सातवें चरण का मतदान होना है। सातवें चरण के मतदान से पहले राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को एक पत्र लिखा है। अपने पत्र के माध्यम से उन्होंने एनडीए पर निशाना साधते हुए कहा कि तीर एक घातक हथियार है। बिहार की भलाई के लिए एनडीए को बिहार से दूर रखना है। अपना वोट सिर्फ लालटेन को देना है।

लालू यादव ने अपने पत्र में लिखा, “सुनो छोटे भाई नीतीश, ऐसा प्रतीत हो रहा है कि तुम्हें आजकल उजालों से कुछ ज्यादा ही नफरत सी हो गयी है। दिनभर लालू और उसकी लौ लालटेन-लालटेन का जाप करते रहते हो। तुम्हें पता है कि नहीं, लालटेन प्रकाश और रोशनी का पर्याय है। मोहब्बत और भाईचारे का प्रतीक है। गरीबों के जीवन से तिमिर हटाने का उपकरण है। हमने लालटेन के प्रकाश से गैरबराबरी, नफरत, अत्याचार और अन्याय का अंधेरा दूर भगाया है और भगाते रहेंगे। तुम्हारा चिह्न तीर तो हिंसा फैलाने वाला हथियार है। मार-काट व हिंसा का पर्याय और प्रतीक है।”

राजद अध्यक्ष ने आगे लिखा, “और हां, जनता को लालटेन की जरूरत हर परिस्थिति में होती है। प्रकाश तो दिए का भी होता है। लालटेन का भी होता है और बल्ब का भी होता है। बल्ब की रोशनी से तुम बेरोजगारी, उत्पीड़न, घृणा, अत्याचार, अन्याय और असमानता का अंधेरा नहीं हटा सकते इसके लिए मोहब्बत के साथ खुले दिल और दिमाग से दिया जलाना होता है। समानता, शांति, प्रेम और न्याय दिलाने के लिए खुद को दिया और बाती बनना पड़ता है। समझौतों को दरकिनार कर जातिवादी, मनुवादी और नफरती आंधियों से उलझते व जूझते हुए खुद को निरंतर जलाए रहना पड़ता है। तुम क्या जानो इन सब वैचारिक और सैद्धांतिक उसूलों को। डरकर शॉर्टकट ढूंढना और अवसर देख समझौते करना तुम्हारी बहुत पुरानी आदत रही है।”

लालू ने लिखा, “और हां तुम कहाँ मिसाइल के जमाने में तीर-तीर किए जा रहे हो? तीर का जमाना अब लद गया । तीर अब संग्रहालय में ही दिखेगा। लालटेन तो हर जगह जलता दिखेगा और पहले से अधिक जलता हुआ मिलेगा क्योंकि 11 करोड़ गरीब जनता की पीठ में तुमने विश्वासघाती तीर ही ऐसे घोंपे है। बाकी तुम अब कीचड़ वाले फूल में तीर घोंपो या छुपाओ। तुम्हारी मर्जी…।”

Read here the latest Lok Sabha Election 2019 News, Live coverage and full election schedule for India General Election 2019

Next Stories
1 Lok Sabha Election 2019: नवजोत सिंह सिद्धू के वोकल कॉर्ड से रिसा खून, लेना पड़ रहा स्‍टेरॉयड और इंजेक्‍शन
2 Loksabha Elections 2019: नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव नहीं लड़ेंगे बाहुबली अतीक अहमद, मैदान से हटने का किया ऐलान
3 Delhi: वोटिंग में पहली बार मिली ट्रांसजेंडर्स को पहचान, सोशल मीडिया पर पोस्ट की वोटर सेल्फी, ऐसे किया रिएक्ट
यह पढ़ा क्या?
X