ताज़ा खबर
 

Loksabha Election 2019: राहुल गांधी से दो कदम आगे निकलीं ममता बनर्जी, रैली में राज्यों का नाम लेकर लगवाया- ‘चौकीदार चोर है’ का नारा

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तर्ज पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी 'चौकीदार चोर है' के नारे लगाए। डायमंड हार्बर में एक रैली को संबोधित करते हुए जनता से ये नारा लगवाए। कांग्रेस अध्यक्ष को यह नारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ राफेल डील को लेकर बोलते देखा गया है।

रैली को संबोधित करती ममता बनर्जी। (फोटो: Video grab image)

Loksabha Election 2019: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तर्ज पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी ‘चौकीदार चोर है’ के नारे लगाए। डायमंड हार्बर में एक रैली को संबोधित करते हुए जनता से ये नारा लगवाए। कांग्रेस अध्यक्ष को यह नारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ राफेल डील को लेकर बोलते देखा गया है।

ममता डायमंड हार्बर लोकसभा सीट पर भतीजे अभिषेक बनर्जी के लिए चुनावी रैली करने पहुंची थीं। इस दौरान वह जनता से कहती नजर आईं की सभी मेरे साथ-साथ ‘चौकीदार चोर है’ का नारा कहें। इसके बाद ममता सिर्फ ‘चोकीदार’ कहती हैं और भीड़ में मौजूद जनता उनका साथ देते हुए ‘चोर है’ कहती है। वह इसे कई बार दोहराती हैं। इसके बाद वह कहती हैं कि ‘गली-गली में शोर है’ जनता इसपर भी उनका साथ देती है और कहती है ‘चौकीदार चोर है।’

बता दें कि ममता और पीएम मोदी ने एक-दूसरे पर मंगलवार (14 मई 2019) को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान भड़की हिंसा के बाद से जुबानी हमले तेज कर दिए हैं। रोड शो के दौरान बीजेपी और टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई थी। इस दौरान ईश्वर चंद विद्दासागर की मूर्ति को भी तोड़ दिया गया। दोनों ही दल एक-दूसरे पर हिंसा भड़काने का आरोप लगा रहे हैं।

ममता ने रैली में ईश्वरचंद विद्यासागर की मूर्ति तोड़े जाने पर बीजेपी के टीएमसी को जिम्मेदार ठहराने पर आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा सबूत दीजिए की टीएमसी कार्यकर्ताओं ने ईश्वरचंद विद्यासागर की मूर्ति तोड़ी। सबूत नहीं दे पाए तो आपको (पीएम मोदी) जेल में डाल दूंगी। ईश्वरचंद विद्यासागर की मूर्ति बनाने के लिए बंगाल के पास पैसा है। बंगाल को मोदी की भीख नहीं चाहिए।’

गौरतलब है कि मोदी ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश में एक रैली के दौरान पश्चिम बंगाल में ईश्वरचंद विद्यासागर की मूर्ति बनाने के एलान किया है। आखिरी चरण के चुनाव से पहले दोनों ही पार्टी आक्रमक प्रचार कर रही है। हालांकि हिंसा की घटनाओं के बाद चुनाव आयोग ने राज्य में चुनाव प्रचार की सीमा को घटा दिया है।

Read here the latest Lok Sabha Election 2019 News, Live coverage and full election schedule for India General Election 2019

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App