ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: मोदी के नाम पर कोई वोट मांगने आए तो जड़ दें ‘तमाचा’, जेडीएस विधायक के बोल पर विवाद

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): गौड़ा ने अरासिकेरे में अपने विवादित भाषण में कथित रूप से कहा कि मोदी स्विस बैंक में रखा कालाधन वापस लाने में नाकाम रहे और उन्होंने देश के हर व्यक्ति को 15 लाख रुपये देने का वादा भी पूरा नहीं किया।

Author March 25, 2019 8:33 AM
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह। (Photo: PTI)

Lok Sabha Election 2019: कर्नाटक में जनता दल सेक्युलर (जद-एस) के विधायक के एम शिवालिंगे गौड़ा के उस बयान पर विवाद खड़ा हो गया है जिसमें उन्होंने लोगों से कहा था कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिये वोट मांगने वालों को तमाचा जड़ दें। भाजपा ने इस बयान की निंदा करते हुए दावा किया कि विधायक ने अपने समर्थकों को प्रधानमंत्री पर पत्थर फेंकने के लिये भी कहा। गौड़ा ने अरासिकेरे में अपने विवादित भाषण में कथित रूप से कहा कि मोदी स्विस बैंक में रखा कालाधन वापस लाने में नाकाम रहे और उन्होंने देश के हर व्यक्ति को 15 लाख रुपये देने का वादा भी पूरा नहीं किया।

एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “आपने (नरेन्द्र मोदी) कालाधन वापस लाकर हर किसी को 10 से 15 लाख रुपये देने का वादा किया था।” विधायक ने कहा, “जब भी कोई मोदी का जाप करते हुए आपसे वोट मांगने आए, उसे जोरदार तमाचा जड़ दें।” भाजपा के प्रवक्ता और विधायक सुरेश कुमार ने बयान की निंदा करते हुए कहा कि गौड़ा मोदी के खिलाफ हिंसा भड़का रहे हैं। सुरेश ने कहा, “अरासिकेरे के विधायक ने अपने समर्थकों को नरेन्द्र मोदी पर पत्थर फेंकने के लिये कहा। इससे पहले भी कई नेताओं ने आपत्तिजनक बयान दिये। यह उनकी प्रधानमंत्री के प्रति घृणा को दर्शाता है।”

वहीं, कर्नाटक भाजपा पूर्व मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा से कथित तौर पर जुड़ी एक डायरी के ‘‘निराधार आरोपों’’ को लेकर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला के खिलाफ एक पुलिस शिकायत दर्ज कराएगी। कांग्रेस ने शुक्रवार को एक मीडिया रिपोर्ट की लोकपाल से जांच कराए जाने की मांग की थी। रिपोर्ट में आरोप लगाया गया था कि येदियुरप्पा ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के शीर्ष नेताओं को 1,800 करोड़ रुपये की रिश्वत दी।ये आरोप येदियुरप्पा की कथित डायरी की फोटोकॉपी पर आधारित हैं जो शनिवार को आयकर विभाग को सौंपी गई लेकिन उसने ‘‘जाली दस्तावेज’’ और चंद पन्ने बताकर इसे खारिज कर दिया।

भाजपा प्रवक्ता और विधायक एस सुरेश कुमार ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘आयकर विभाग का बयान है कि डायरी जाली दस्तावेज है। अब साबित हो गया है कि कांग्रेस हमारी पार्टी के नेताओं की छवि बिगाड़ने की कोशिश में बुरी तरह नाकाम रही है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘चूंकि यह साफ है कि सुरजेवाला ने जाली दस्तावेजों का इस्तेमाल किया इसलिए उन्हें निराधार आरोप लगाने के लिए तत्काल गिरफ्तार किया जाना चाहिए।’’ कुमार ने कहा कि भाजपा की कर्नाटक इकाई ने पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व से विचार विमर्श किया है और जल्द ही सुरजेवाला को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर एक पुलिस शिकायत दर्ज कराई जाएगी।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा, ‘‘चूंकि आयकर विभाग ने इसे जाली दस्तावेज बताया है तो हम निर्वाचन आयोग से अनुरोध करते हैं कि किसी को भी चुनाव प्रचार अभियान के तौर पर तथाकथित डायरी का इस्तेमाल ना करने दिया जाए।’’ कुमार ने यह भी मांग की कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अपने ट्वीट के लिए माफी मांगनी चाहिए जिसमें एक पत्रिका की एक खबर का हवाला देते हुए सभी भाजपा नेताओं को ‘‘भ्रष्ट’’ बताया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App